आज भी पढ़ने लायक है एच जी वेल्स की टाइम मशीन!

रोमांचक विज्ञान कथा – एच जी वेल्स की टाइम मशीन

दोस्तों सन 1895 में H.G. वेल्स द्वारा लिखी गई विज्ञान कथा टाइम मशीन आज भी उतनी ही रोमांचक,  अनोखी और पढ़ने में आनंद दायक है,  एच जी वेल्स ने ही “टाइम मशीन” शब्द का पहली बार इस्तेमाल किया था, आज वैज्ञानिक वास्तव में एक टाइम मशीन बनाने की कोशिश कर रहे हैं, टाइम ट्रेवल और समय यात्रा के कांसेप्ट को प्रस्तुत करने का श्रेय एच जी वेल्स की किताब टाइम मशीन को ही दिया जाता है, यह आश्चर्य की बात है कि सन 1895 में एच जी वेल्स ने ऐसे यान की कल्पना की जो व्यक्ति को समय में आगे और पीछे ले जाता है! यह तब की बात है जब पहला एरोप्लेन भी नहीं बनाता बना था.

time machine in hindi

 एच जी वेल्स की टाइम मशीन विज्ञान कथा पर तीन हॉलीवुड फिल्में बन चुकी है  दो टेलीविजन सीरियल और कई कॉमिक बुक भी प्रकाशित किए जा चुके हैं एच जी  वेल्स की टाइम मशीन ने आगे आने वाली कई विज्ञान कथाओं और विज्ञान लेखकों को प्रभावित किया.

एच जी  वेल्स की टाइम मशीन की कहानी

एच जी  वेल्स की टाइम मशीन की कहानी शुरू होती है, जहां कहानी सुनाने वाला टाइम ट्रैवलर हे और उसके कुछ दोस्त समय यात्रा पर चर्चा कर रहे हैं, समय यात्री उन्हें कहता है कि समय एक चौथा आयाम है, समय यात्री उन्हें टाइम मशीन दिखाता है और उसमें बैठकर उसको प्रारंभ कर गायब हो जाता है, जब अगले सप्ताह सभी मेहमान लौट कर वापस आते हैं तो देखते हैं कि समय यात्री बहुत थका हुआ और परेशान सा दिख रहा है तब समय यात्री अपनी कहानी कहना शुरू करता है.

कहानी का हीरो यह समय यात्री अपनी कहानी शुरू करता है और बताता है कि उसने टाइम मशीन पूरी बना ली और वह उस में बैठकर भविष्य में 802701 AD में गया, भविष्य में उसने देखा कि लाखों साल बाद मानव जाति दो भागों में विभाजित हो गई हे एक छोटे कमजोर और शांति से रहने वाले मानव हैं जिन्हें ईलोई कहा जाता है और दूसरे जमीन के अंदर रहने वाले मोरलॉक्स.

time machine in hindi

जब समय यात्री ईलोई मानवों के पास जाता है तो वह उसे खाने को फ्रूट्स देते हैं और यह बहुत ही शांतिप्रिय और नाज़ुक होते हैं समय यात्री वीना नाम की एक ईलोई प्राणी को बचाता है और उससे दोस्ती कर लेता है जब रात होती है तब उसे पता चलता है कि मोर्लाक्स के जो कि काफी खतरनाक होते है और बड़े बदसूरत दिखतें हैं जमीन के अंदर रहते हैं और ईलोई मनुष्यों का शिकार करके उन्हें खाते हैं, बड़ी हिम्मत करके समय यात्री जमीन के नीचे मोर्ल्क्स की दुनिया में जाता है और वहां देखता है कि वह किस प्रकार रहते हैं ईलोय को खाते हैं समय यात्री बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाकर वहां से टाइम मशीन तक पहुंच पाता है और वहां से भाग जाता है, समय में और आगे जाने पर वह देखता है कि समुद्र के किनारे बहुत विशालकाय केकड़े  रहते हैं और आसमान में एक लाल स्थिर सूर्य चमक रहा है समय में लाखों साल और आगे जाने पर वह पाता है कि पृथ्वी पर से जीवन समाप्त हो चुका है और हवा बहुत ही हल्की है और बहुत छोटे काले बुलबुलो के रूप में जीव पाए जाते हैं वह आसमान में देखता है कि एक बहुत बड़े ग्रह ने सूर्य को ढक लिया है यह सब देखने के बाद वह अपने वर्तमान समय में लौट आता है. अगले दिन वह फिर अपनी समय यात्रा पर निकल पड़ता है परंतु कभी वापस लौटकर नहीं आता.

 हॉलीवुड फिल्मों में एच जी वेल्स की टाइम मशीन की मूल कहानी को परिवर्तित कर दिया गया है और उसे थोड़ा मसालेदार और रोमांचक बना कर पेश किया गया है.

टाइम मशीन कहानी का सबसे रोमांचक हिस्सा क्या है ?

 टाइम मशीन कहानी का सबसे रोमांचक हिस्सा यह जानना है कि मनुष्य जाति भविष्य में दो अलग-अलग जातियों में बट गए हैं एक कमजोर ईलोए है जो जमीन के ऊपर रहते हैं और दूसरे मोर्लोक्स जो खतरनाक और भद्दे है जमीन के नीचे रहते हैं .

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *