कुछ डायनासोर पत्थर भी खाते थे!

डायनासोर क्या खाते थे उनका आहार क्या क्या था?

 शाकाहारी डायनासोर पत्थर भी खाते थे!

 वैज्ञानिकों के अनुसार ज्यादातर डायनासोर शाकाहारी थे, वे पेड़ पौधों की पत्तियां खाते थे डायनासोर युग में घास की उत्पत्ति नहीं हुई थी इसलिए डायनासोर का घास खाने का प्रश्न नहीं उठता, अतः सभी शाकाहारी डायनासोर केवल बड़े वृक्षों की पत्तियां ही खाते थे, शाकाहारी डायनासोर के दांत चपटे थे जो की पेड़ों को चीरने और पत्तियों को तोड़ने में काफी सहायक थे,   शाकाहारी डायनासोर अपनी डाइट में कई चीजें शामिल करते थे जैसे कि फूल और बीज, कुछ वैज्ञानिक यह कहते हैं कि यह शाकाहारी डायनासोर पत्थर भी खाते थे, ठीक आजकल के पक्षियों की तरह. यह पत्थर डायनासोर को अपना भोजन पचाने में सहायता करते थे, कुछ पक्षियों को कंकर पत्थर खाते हुए आप आज भी देख सकते हैं.

 टी रेक्स और वेलोसी रेप्टर बिना मांस के नहीं रह सकते

T Rex kya khata tha

 टी रेक्स और वेलोसी रेप्टर के दांतो को देखकर ही आप बता सकते हैं कि उनका भोजन क्या था इन डायनासोरों के बहुत लंबे तीखे दांत थे, इनका एक ही उद्देश्य था मांस को हड्डियों से चीरकर अलग करना, यह अपने समय के मुख्य शिकारी थे, हालांकि सभी वैज्ञानिक नहीं मानते हैं कि यह शिकारी थे, उनमें से कुछ का मानना है कि है यह मृतभक्षी भी थे, यह मृतभक्षी जानवर दूसरे डायनासोरों जो कि प्राकृतिक कारणों से मर जाते थे उनका मांस खाते थे इसके अलावा यह दूसरे डायनासोर के अंडे भी खाते थे, ऐसा प्रतीत होता है कि यह डायनासोर कभी शिकार करते थे और कभी मृतभक्षी की तरह जीवन व्यतीत करते थे.

कुछ डायनासोर सर्वभक्षी भी थे

 शाकाहारी और मांसाहारी डायनासोरों के अलावा डायनासोरों का तीसरा प्रकार भी था  कुछ डायनासोर के जीवाश्म ऐसे भी प्राप्त हुए है जिनके कुछ दांत नुकीले और कुछ चपटे हैं इस प्रकार के डायनासोर मांस और पेड़ पौधे दोनों खाते थे, यहां तक की कुछ डायनासोर कीट पतंगे भी खाते थे , Yunnanosaurus,  Nothronychus, Hagryphus, Beipiaosaurus, Citipati  Nomingia यह सभी डायनासोर सर्वभक्षी डायनासोर थे.

इस तरह वैज्ञानिकों के अनुसार कुछ डायनासोर पेड़ पौधे खाते थे और शाकाहारी थे वह कुछ मांसाहारी और मृतभक्षी भी थे वहीं साथ ही साथ कुछ डायनासोर सर्वभक्षी भी थे अर्थात वे पेड़ पौधे और मांस दोनों खाते थे.

 

 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *