सौरमंडल में सबसे बड़ा एस्टेरॉयड Asteroid कौन सा है?

मिलिए सौरमंडल के सबसे बड़े एस्टेरॉयड Asteroid से 

 दोस्तों, सबसे बड़े एस्टरॉयड का नाम सेरेस है, इसका आकार चंद्रमा से एक चौथाई के बराबर है, बाकी ग्रहों की तरह यह भी सूर्य का चक्कर लगाता रहता है,  यह मंगल और  जुपिटर के बीच पाए जाने वाले एस्टरॉयड बेल्ट में स्थित है, केवल सेरेस ही एसा स्टेरॉयड जो गोलाकार हे, सेरेस की खोज इटालियन खगोल शास्त्री जीयुसेप्पे पियाजी ने 1801 में की थी, जब वह एक नया ग्रह खोज रहे थे

ceres in hindi

Ceres in Hindi 

 वैज्ञानिकों ने मंगल और जुपिटर के बीच एक और गृह होने की भविष्यवाणी की थी, जीयुसेप्पे पियाजी इसी ग्रह को खोजने में लगे हुए थे, तभी उन्होंने सेरेस को खोजा, सेरेस को अब ड्वार्फ प्लेनेट या बोने गृह का दर्जा प्राप्त है.  एस्टेरॉयड बेल्ट में पाए जाने वाले एस्टरॉयडस में सेरेस सबसे बड़ा है

 यह मंगल की कक्षा के थोड़ा करीब स्थित है, इसका व्यास लगभग 945 किलोमीटर है ,अगर आकार की तुलना में देखा जाए तो सेरेस का स्थान पूरे सौरमंडल में 33 वे नंबर पर आता है

क्या सेरेस पर जीवन है ?

सेरेस  पूर्णता चट्टानों और बर्फ का बना हुआ है,  पूरे एस्टरॉयड बेल्ट का 30% द्रव्यमान सेरेस में ही मौजूद है एस्टेरॉयड बेल्ट में केवल सेरेस ही ऐसा एस्टेरोइड है जो कि गोलाकार है, यह उसके गुरुत्व की वजह से है. नासा के यान डौन द्वारा भेजे गए सेरेस के फोटोज और डाटा में यह पता चला हे की इसके एक गड्डे क्रेटर के आस पास ओरगेनिक यौगिग भी मौजूद है, कार्बनिक और नाइट्रोजन योगिको के मिलने से सेरेस पर जीवन के पाए जाने के सम्भावना भी बढ़ गयी है ..इससे वैज्ञानिक काफी उत्साहित हैं.

organic-concentrations-ceres in hindi

organic-concentrations-ceres in hindi

क्या सेरेस को नंगी आँखों से देखा जा सकता है? 

सेरेस बहुत धुंधला होता है, इसलिए इसे नंगी आंखों से नहीं देखा जा सकता, इसका मैग्निट्यूड 6.7 –9.3  के बीच होता है.  नासा का स्पेसक्राफ्ट डॉन  6 मार्च 2015 को सेरेस के पास से गुजरा था और उसने सेरेस की कई तस्वीरें लेकर प्रथ्वी पर भेजी थी.

Taj Mohammed Sheikh

हेलो दोस्तों, में एक Freelance Blogger हूँ , नेट इन हिंदी .com वेबसाईट बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषा में मनोरंजक और उपयोगी सामग्री प्रस्तुत करना है, यहाँ आपको विज्ञान, सेहत, शायरी, प्रेरक कहानिया, सुविचार और अन्य विषयों पर अच्छे लेख पढ़ने को मिलते रहेंगे. धन्यवाद!

You may also like...

Leave a Reply