डायनासोर के समय उत्पन्न हुए थे फूलों वाले पौधे Angiosperms

वनस्पति शास्त्री Angiosperms पौधों को हरा डायनासोर क्यों कहते हैं?

Why do the botanists call angiosperms green dinosaur?

वर्तमान समय में लाखों प्रकार के Angiosperms पेड़ पौधे पाए जाते हैं,  सामान्य भाषा में कहें तो फूल वाले पौधों को angiosperms कहा जाता है, वनस्पति शास्त्री इन्हें हरा डायनासोर कहते हैं इसका कारण यह है कि फूल वाले पौधों की उत्पत्ति डायनासोर के समय में हुई थी.  फूल वाले पौधे angiosperms की उत्पत्ति कैसे हुई यह कोई नहीं जानता, विज्ञान की दुनिया में यह एक रहस्य है.

पहले यह समझा जाता था कि फूल और फूल वाले पौधों की उत्पत्ति जुरासिक काल के अंत में हुई लेकिन अब कुछ ऐसे जीवाश्म मिले हैं जो इनकी मौजूदगी को 100 मिलियन साल और पीछे होना साबित करते हैं, वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि फूलों वाले पौधे  पृथ्वी पर तब भी मौजूद थे जब कि पहला डायनासोर उत्पन्न हुआ था.

वर्तमान समय में फूलों वाले पौधे काफी प्रमुखता से पाए जाते हैं,  इनकी उत्पत्ति बीज वाले पेड़ पौधों जैसे conifers और cycads से हुई है.   फूल वाले पौधे आज हर ईकोसिस्टम का प्रमुख हिस्सा है लगभग सभी प्रकार के पशु पक्षी और मनुष्य जाति का अस्तित्व फूल वाले पौधों पर टिका हुआ है.

angiosperms hindi, green dinosaur hindi, botanists call angiosperms green dinosaur hindi, fulon wale poudhe hindi,

Angiosperms के नए जीवाश्म

वैज्ञानिकों ने कुछ प्राचीन समय के फूलों के पराग के कण के जीवाश्म खोज निकाले हैं इन्हें उत्तरी स्वीटजरलैंड में खोजा गया है, आश्चर्य की बात है कि यह 245 मिलीयन साल पुराने हैं, ठीक इसी समय पृथ्वी पर डायनासोर की भी उत्पत्ति हुई थी,  यह खोज यह साबित करती है कि फूल वाले पौधों की प्रजातियां डायनासोर जितनी प्राचीन है, यही कारण है कि वनस्पति शास्त्री फूलों वाले पौधों को हरा डायनासोर कहते हैं यह उन की प्राचीनता की वजह से हैं.

फूलों के पराग कणों के जो जीवाश्म पाए गए हैं वह काफी अलग अलग प्रकार के हैं, यह बात साबित करती है कि उस समय कई प्रकार के फूलों वाले पौधे पाए जाते थे, फूल वाले पौधों की अचानक उत्पत्ति ने डार्विन के समय से ही वैज्ञानिकों को आश्चर्य में डाल रखा है डार्विन ने भी फूल वाले पौधों की उत्पत्ति को एक रहस्य करार दिया था.

फूल वाले पौधों angiosperms की उत्पत्ति कैसे हुई? ऐसी क्या घटना थी जिसने प्रकृति में फूल वाले पौधों को बनाया जो की पराग कणों के द्वारा प्रजनन करते थे,  इतनी जटिल और अजीब व्यवस्था अचानक कैसे उत्पन्न हो गई, क्या यह कीट पतंगों के किसी प्रजाति के अचानक उत्पन्न होने की वजह से हुई थी या इसमें किसी प्रकार की डायनासोर का हाथ था , वैज्ञानिक अभी और प्रमाण प्राप्त करने में जुटे हुए हैं वे जानना चाहते हैं कि फूल वाले पौधों Angiosperms की उत्पत्ति किस प्रकार के पेड़ों से हुई इससे यह जानने में मदद मिलेगी की यह प्राचीन पौधे डायनासोर काल में कैसे उत्पन्न हुए.

Tags angiosperms hindi, green dinosaur hindi, botanists call angiosperms green dinosaur hindi, fulon wale poudhe hindi,

Taj Mohammed Sheikh

हेलो दोस्तों, में एक Freelance Blogger हूँ , नेट इन हिंदी .com वेबसाईट बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषा में मनोरंजक और उपयोगी सामग्री प्रस्तुत करना है, यहाँ आपको विज्ञान, सेहत, शायरी, प्रेरक कहानिया, सुविचार और अन्य विषयों पर अच्छे लेख पढ़ने को मिलते रहेंगे. धन्यवाद!

You may also like...

Leave a Reply