पेंग्विन ही नहीं कई पक्षी रहते हैं बर्फीले अंटार्टिका में !

अंटार्कटिका की ठंडी जलवायु में रहने वाले पक्षी

जैसा कि आप जानते हैं अंटार्कटिका एक ठंडा बर्फीला महाद्वीप है,  इस ठंडे महाद्वीप में मानव बस्तियां भी नहीं है, केवल कुछ वैज्ञानिक प्रयोगशाला ही स्थापित की गई. अक्सर लोग सोचते हैं कि अंटार्कटिका पर केवल पेंग्विन पक्षी ही रहते हैं,  लेकिन वास्तव में पेंगुइन के अलावा कई और ऐसे पक्षी है जो कि ठंडी जलवायु में रहने के आदि है, आइए जानते हैं बर्फीले अंटार्कटिका में कौन-कौन से पक्षी पाए जाते हैं.

अंटार्कटिका महाद्वीप के पक्षी

birds of antarctica hindi, antarctica birds hindi, ठंडी जलवायु के पक्षी, thandi jalvayu ke pakshi, snow birds hindi, pakshiyon me anukulan, adaptation in birds hindi

अंटार्कटिका के बर्फीले माहौल में छोटे पक्षी जैसे snow petrels  से लेकर बड़े पक्षी जैसे अल्बेट्रॉस तक पाए जाते हैं, यहां पाए जाने वाले पक्षी ठंडी जलवायु में रहने के पूरी तरह से अनुकूलित है,  यह अंटार्कटिका के बर्फीले पानी और ठंडी हवाओं के आदी हो चुके हैं.

अंटार्कटिक महाद्वीप केवल पेंग्विन पक्षियों के द्वारा ही आबाद नहीं है,  यह महाद्वीप हर वर्ष लाखों पक्षियों को अपनी ओर आकर्षित करता है, क्योंकि यहां पर मानव बस्तियां नहीं है इसलिए यह महाद्वीप पक्षियों के लिए जन्नत के समान है,  यहां कई प्रकार के समुद्री पक्षी देखे जा सकते हैं.

अंटार्कटिका महाद्वीप के चट्टानी किनारे एवं इस महाद्वीप के आस पास पाए जाने वाले छोटे द्वीप, पक्षियों के लिए एक परफेक्ट घर हैं, कुछ समुद्री पक्षी हर वर्ष यहां प्रजनन काल के समय अंडे देने के लिए आते हैं, यहां यह पक्षी समुद्री मछलियों का शिकार करते हुए देखे जा सकते हैं.

इस ठंडे प्रदेश में पक्षियों का कोई भी  परभक्षी नहीं है इसलिए यहां कई पक्षियों की प्रजातियां की संख्याइ 10,000 से लेकर 40 लाख तक हो जाती है.

ठंडी जलवायु में रहने वाले पक्षी खाते क्या है?

अंटार्कटिक महाद्वीप पर ज्यादा पेड़ पौधे नहीं है, इसलिए पक्षियों को समुद्री भोजन पर ही निर्भर रहना पड़ता है, लगभग सभी प्रकार के पक्षी मछलियों और दूसरे छोटे समुद्री प्राणियों का शिकार करते हैं, कुछ बड़े पक्षी दूसरे पक्षियों के अंडों और बच्चों का शिकार भी करते हैं मछलियों का शिकार करने के लिए यह पक्षी समुद्र में काफी गहराई का पता लगा लेते हैं.

बर्फीले अंटार्कटिका में पक्षी घोंसला कैसे बनाते हैं?

अंटार्कटिका महाद्वीप पर रहने वाले पक्षी अपना घोंसला पहाड़ों और पहाड़ी किनारों पर बनाते हैं,  कई पक्षी वीरान पड़े हुए द्वीपों में जमीन पर ही घोसला बनाते हैं, यह घोंसला केवल 1 वर्ष के लिए ही इस्तेमाल किया जाता है फिर इसे छोड़ दिया जाता है,  घोंसला बनाने की जगह को लेकर अक्सर पक्षियों में लड़ाई होती रहती है. केवल एक प्रकार का पक्षी अपना सुंदर घोंसला बनाता है और उसे कई सालों तक इस्तेमाल करता है इस पक्षी का नाम Blue-Eyed Shag  है.

ठंडी जलवायु में रहने के लिए पक्षियों में अनुकूलन

अंटार्कटिका में रहने वाले पक्षियों में ठंडी जलवायु में रहने का अनुकूलन उत्पन्न हो गया है, सबसे बड़ा अनुकूलन इन के पंखों में हुआ है इन पक्षियों के पंखों  पर पानी टिकता ही नहीं है जिससे कि इनका शरीर सुखा रहता है, जब यह मछलियों को पकड़ने के लिए बार-बार समुद्र में गोता लगाते हैं तब भी इनका शारीर सुखा ही रहता है

इन  पक्षियों में खून पंखों के अंदर नहीं बहता है इसीलिए शरीर की गर्मी कभी भी बाहर नहीं जा पाती, एक और सबसे बड़ा अनुकूलन इन के पैरों में हुआ है इन पक्षियों के पैर इस प्रकार बदल गए हैं जिससे ये आसानी से पानी में गोता लगा सकते हैं और पानी में तैर सकते हैं.

अंटार्कटिक महाद्वीप में कौन कौन से पक्षी पाए जाते हैं?

अंटार्कटिक महाद्वीप की ठंडी जलवायु में कई प्रकार के छोटे और बड़े 46 प्रकार के पक्षी पाए जाते हैं इनमें से कुछ प्रमुख के नाम इस प्रकार है

  • Penguin
  • Snow Petrels (Pagodroma nivea)
  • Cape Petrels/ Cape Pigeon (Daption capense)
  • Giant Petrels (Macronectes giganteus):
  • Blue-Eyed (Imperial) Shag (Phalacrocorax atriceps)
  • Antarctic Skuas (Catharacta maccormicki):
  • Snowy Sheathbill (Chionis albus):
  • Wandering Albatross (Diomedea exulans):
  • Cormorants
  • Bitterns
  • Herons
  • Egrets
  • Ducks
  • Geese
  • Swans
  • Terns
  • Jaegers

 

Tags : birds of antarctica hindi, antarctica birds hindi, ठंडी जलवायु के पक्षी, thandi jalvayu ke pakshi, snow birds hindi, pakshiyon me anukulan, adaptation in birds hindi

 

Taj Mohammed Sheikh

हेलो दोस्तों, में एक Freelance Blogger हूँ , नेट इन हिंदी .com वेबसाईट बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषा में मनोरंजक और उपयोगी सामग्री प्रस्तुत करना है, यहाँ आपको विज्ञान, सेहत, शायरी, प्रेरक कहानिया, सुविचार और अन्य विषयों पर अच्छे लेख पढ़ने को मिलते रहेंगे. धन्यवाद!

You may also like...

Leave a Reply