Category: शायरी

0

Hindi Whatsapp Shayri -होंठ उसके चेहरे

Hindi Whatsapp Shayri हिंदी शायरी, होंठ उसके चेहरे पर कुछ यूँ नज़र आते हैं, दूध में रही हो जैसे दो पत्तियां गुलाब की।

0

Hindi Shayri – क्या पता था की मोहब्बत

Hindi Shayri – हिंदी शायरी क्या पता था की मोहब्बत हो जाएगी, हमें तो बस तेरा मुस्कुराना अच्छा लगा था।

0

Hindi Shayri – नफरत की दुनिया में

Hindi Shayri – हिंदी शायरी नफरत की दुनिया में मोहब्बत ढूंढ रहे थे, काँटों की नगरी में फूल ढूंढ रहे थे, पैसों किस इस दुनिया में प्यार ढूंढ रहे थे, धोके की इस दुनिया...

0

Hindi Shayri – औरों के लिए जीते थे

Hindi Shayri – हिंदी शायरी औरों के लिए जीते थे, किसी को कोई शिकायत न थी, अपने लिए जीने का क्या सोचा सारा ज़माना दुश्मन हो गया।

0

Hindi Love Shayri – कभी कवल कभी गुलाब

Hindi Love Shayri – हिंदी शायरी कभी कवल कभी गुलाब लगती हो, जानेमन बहारों का ख्वाब लगती हो, बिन पिए बहकतें हैं मेरे कदम, तेरी गली की हवा भी आग शराब लगती है।