कोलंबिया के अन्तरिक्ष यात्रियों के साथ अंतिम समय में क्या हुआ था?

नासा का कोलंबिया स्पेस शटल दुर्घटनाग्रस्त  क्यों हो गया था? Why Columbia exploded

Nasa Columbia space shuttle disaster in hindi

कोलंबिया नासा का पहला स्पेस शटल था, इसने अपनी पहली उड़ान अप्रैल 1981 में भरी थी, नासा के इस स्पेस शटल ने कुल 27 मिशन सफलतापूर्वक पूरे किये थे  इसके बाद यह दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस स्पेस शटल के आखिरी मिशन में भारतीय मूल की अन्तरिक्ष यात्री कल्पना चावला भी थी, जो की इस मिशन के दौरान शहीद हो गयीं.

अपने 28 वे मिशन पर कोलंबिया स्पेस शटल ने  पृथ्वी से आखरी बार 16 जनवरी 2003 को उड़ान भरी इस मिशन का नाम STS-107 था, उस समय के सभी अंतरिक्ष अभियानों का मूल उद्देश्य इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन को बनाना था परंतु इस मिशन का पूरा फोकस  अंतरिक्ष में कई तरह के वैज्ञानिक प्रयोग करना था.

कोलंबिया स्पेस शटल में कौन कौन मारा गया था who was  killed in columbia disaster

Columbia space shuttle in hindi, columbia kese, kalpana chawla disaster, essay on columbia disaster in hindi, columbia disaster in hindi

कोलंबिया स्पेस शटल में 7 सदस्य सात सदस्यों की टीम थी

Rick Husband, commander, Michael Anderson, payload commander; David Brown, mission specialist; Kalpana Chawla, mission specialist; Laurel Clark, mission specialist; William McCool, pilot; and Ilan Ramon, payload specialist

यह सभी एस्ट्रोनामर दो शिफ्ट में काम करते थे जिससे कि वैज्ञानिक प्रयोगों का कार्य 24 घंटे चलता रहता था, कोलंबिया स्पेस शटल की टीम ने कुल 80 वैज्ञानिक प्रयोग किए जिनमें की जीव विज्ञान पदार्थ विज्ञान तरल फिजिक्स आदि विषयों के प्रयोग किये गए थे इन अंतरिक्ष यात्रियों ने 16 दिन अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन में रहकर यह वैज्ञानिक प्रयोग किए.

कोलंबिया के बारे में पूर्व चेतावनी दी गयी थी

जब यह सात अंतरिक्ष यात्री स्पेस स्टेशन में रहकर अंतरिक्ष प्रयोग कर रहे थे तो  नासा ने अपने वीडियो अध्ययन में यह पाया कि फोम का एक टुकड़ा कोलंबिया स्पेस शटल के बाय पंख से टकराया था, फोम का यह टुकड़ा लॉन्च के 82 सेकंड बाद बाएं पंख से टकराया था, नासा के अंतर्गत विभिन्न वैज्ञानिकों और दूसरी संस्थाओं ने नासा के उच्चाधिकारियों को  स्पेस में स्थित कोलंबिया स्पेस शटल की और अधिक जांच करने के लिए सुझाव दिया परन्तु नासा के उच्च अधिकारियों ने इस सुझाव को रद्द कर दिया उन्होंने इसे महत्वपूर्ण नहीं समझा.

नासा का कोलंबिया स्पेस शटल कब  दुर्घटनाग्रस्त हुआ था when Columbia disaster happened?

Columbia space shuttle in hindi, columbia kese, kalpana chawla disaster, essay on columbia disaster in hindi, columbia disaster in hindi

1 फरवरी 2003 को नासा के कोलंबिया स्पेस शटल ने अपनी पूर्व निर्धारित वापसी की प्रक्रिया शुरू की इसे अमेरिका के कैनेडी स्पेस सेंटर में लौटना था,  लेकिन सुबह 9:00 बजे ही वैज्ञानिकों को अजीब रीडिंग्स मिलना शुरू हुई, कोलंबिया स्पेस शटल के बाएं पंख के सेंसर की रीडिंग गायब हो गई उसके कुछ सेकंड बाद ही स्पेस शटल के बाय टायर प्रेशर की रीडिंग्स भी दिखाई देना बंद हो गई.

जिस समय कोलंबिया स्पेस शटल अमेरिका के Dallas के ऊपर उड़ रहा था और उसकी गति ध्वनि कि गति से 18 गुना अधिक थी, इस समय कोलंबिया स्पेस शटल पृथ्वी से 61000 मीटर की ऊंचाई पर था, मिशन कंट्रोल पर स्थित वैज्ञानिकों ने  कोलंबिया के पायलट से बात करने की कोशिश की परन्तु वे नाकाम रहे हैं,कुछ ही सेकंड बाद कोलंबिया स्पेस शटल में विस्फोट हो गया और वह टुकड़े-टुकड़े होकर चारों और बिखर गया, साथ ही उस में स्थित सभी अंतरिक्ष यात्री मारे गए

कोलंबिया स्पेस शटल की दुर्घटना का कारण क्या था Reason of  Columbia disaster

बाद में किये गए अध्यन  में है पता चला कि कोलंबिया स्पेस शटल के बाएं पंख में एक छोटा सा छेद हो गया था जिसकी वजह से वायुमंडल की गैसें स्पेस शटल के अंदर घुस गई जिससे कि स्पेस शटल में विस्फोट हो गया और सभी अंतरिक्ष यात्रियों का दुखद अंत हो गया.

कोलंबिया स्पेस शटल के टुकड़े लगभग 5000 स्क्वेयर किलोमीटर के क्षेत्र में बिखर गए थे इन टुकड़ों को खोजने में कई हफ्तों का समय लगा, नासा ने कुल 84000 टुकड़े प्राप्त किए, इनमें कुछ अंतरिक्ष यात्रियों के शरीर के हिस्से भी थे जिनकी डीएनए के द्वारा पहचान की गई.

सन 2008 में नासा ने एक रिपोर्ट में बताया कि कोलंबिया स्पेस शटल के अंत के दौरान अंतरिक्ष यात्रियों के साथ क्या हुआ था, इस रिपोर्ट के अनुसार जब कोलंबिया स्पेस शटल टूटा तब भी अंतरिक्ष यात्री जीवित थे,  जैसे ही स्पेस शटल का वायुदाब कम हुआ तो कुछ ही सेकंड के बाद सभी बेहोश हो गए, जब स्पेस शटल में विस्फोट हुआ तो सभी अंतरिक्ष यात्री यात्रियों का भी दुखद अंत हो गया.

Columbia space shuttle in hindi, columbia kese, kalpana chawla disaster, essay on columbia disaster in hindi, columbia disaster in hindi

 

Taj Mohammed Sheikh

हेलो दोस्तों, में एक Freelance Blogger हूँ , नेट इन हिंदी .com वेबसाईट बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषा में मनोरंजक और उपयोगी सामग्री प्रस्तुत करना है, यहाँ आपको विज्ञान, सेहत, शायरी, प्रेरक कहानिया, सुविचार और अन्य विषयों पर अच्छे लेख पढ़ने को मिलते रहेंगे. धन्यवाद!

You may also like...

Leave a Reply