Common Stonechat पाषाण गोजा पक्षी की जानकारी

Common Stonechat खरपिड्डा पाषाण गोजा पक्षी

हिमालय पहाड़ की तराई और घाटियों में कई तरह के पशु पक्षी पाए जाते हैं,  हिमालय के आस पास पाए जाने वाले जंगलों में कई पक्षी शरण लेते हैं, अक्सर हम किसी पार्क में या बगीचे में कोई पक्षी देखते हैं और सोचते हैं कि यह पक्षी कौन सा है,  प्रकृति में हजारों तरह के पक्षी पाए जाते हैं, छोटा सा स्टोन चेट पक्षी भी उन्हीं में से एक है, इस पक्षी का सामान्य नाम स्टोन चैट Common Stonechat है तथा भारत में इसे कई अलग-अलग नामों से जाना जाता है जैसे कि पाषाण गोजा पक्षी, खरपिड्डा  पक्षी इत्यादि, इस पक्षी का वैज्ञानिक नाम Saxicola torquatus है.

Common Stonechat hindi, stonechat hindi, stonechat bird hindi,  खरपिड्डा, पाषाण गोजा, himalaya birds hindi, birds of himalaya hindi, Saxicola torquatus hindi

यह छोटा सा पक्षी बहुत चपल होता है यह गर्मी के दिन में हिमालय की तराई वाले जंगलों में गुजारता है तथा अंडे भी इन्हीं जंगलों में देता है, सर्दियों के मौसम में यह हिमालय से थोड़ा दूर चला जाता है, यह खुले मैदान और झाड़ियां पसंद करता है, दिल्ली के यमुना बायोडायवर्सिटी पार्क में इसे आसानी से देखा जा सकता है. आइए जानते हैं इस छोटे से पक्षी पाषाण गोजा या स्टोन चैट के बारे में.

Common Stonechat खरपिड्डा पाषाण गोजा पक्षी को केसे पहचाने

यह पक्षी सामान्य गौरैया से भी छोटा होता है, नर स्टोन चैट का सर काला होता है तथा गर्दन पर सफेद पट्टी होती है गर्दन के ठीक नीचे लाल रंग का या केसरी रंग का धब्बा होता है,  इसकी एक प्रजाति में नर का पेट पूरी तरह सफेद रंग का होता है तथा दूसरी प्रजाति में यह भूरे रंग का होता है, मादा स्टोन चेट, नर से थोड़ी भिन्न होती है, इसका पेट मटमैला और पंख मादा गोरिया की तरह होते हैं, दूर से देखने पर आपको यह मादा गौरैया चिड़िया की तरह ही नजर आएगी अतः इसकी पहचान करना थोड़ा मुश्किल है.

Common Stonechat hindi, stonechat hindi, stonechat bird hindi,  खरपिड्डा, पाषाण गोजा, himalaya birds hindi, birds of himalaya hindi, Saxicola torquatus hindi

Stonechat खरपिड्डा पक्षी का वजन 11 से 18 ग्राम के बीच होता है इसकी लंबाई 12 से 13 सेंटीमीटर के बीच होती है इनके पंखों का फेलाव भी बहुत छोटा केवल 18 से 21 सेंटीमीटर का हौता है.

Common Stonechat खरपिड्डा पाषाण गोजा पक्षी कहाँ पाया जाता है?

Common Stonechat खरपिड्डा पाषाण गोजा  पक्षी यूरोप एशिया और अफ्रीका के कई हिस्सों में पाए जाते हैं,  हिमालय के आसपास लगभग 1500 मीटर से लेकर 3000 के मीटर की ऊंचाई तक पाया जाता है

Common Stonechat खरपिड्डा पाषाण गोजा पक्षी में प्रजनन

Common Stonechat hindi, stonechat hindi, stonechat bird hindi,  खरपिड्डा, पाषाण गोजा, himalaya birds hindi, birds of himalaya hindi, Saxicola torquatus hindi Common Stonechat hindi, stonechat hindi, stonechat bird hindi,  खरपिड्डा, पाषाण गोजा, himalaya birds hindi, birds of himalaya hindi, Saxicola torquatus hindi

Common Stonechat  पक्षी अपने प्रजनन काल के लिए विभिन्न जगहों पर प्रवास भी करता है, यह खुले मैदानों और झाड़ियों वाले मैदानों में घोंसला बनाना पसंद करता है यह छोटी पहाड़ियों के किनारों पर भी अपना घोंसला बनाता है, यह 15  से 25 की संख्या के झुंडों में दिखाई देता है, इस पक्षी की खासियत यह है कि यह पेड़ पर घोंसला नहीं बनाता है बल्कि जमीन पर झाड़ियों के नीचे घोंसला बनाता है, अंडे देने के लिए यह हिमालय के जंगलों में चला जाता है तथा सर्दियां आने पर यह पक्षी हिमालय पहाड़ों को छोड़कर भारत के खुले मैदानों में दूर-दूर तक प्रवास करता है प्रजनन काल के दौरान मादा  स्टोनचेट घोंसला बनाती है तथा एक बार में 3 से 6 अंडे देती है, मादा स्टोनचेट 11 से 14 दिनों तक अंडे सेती है, नर और मादा दोनों बच्चों की देखभाल करते हैं.

स्टोनचेट पक्षी का भोजन  कीट पतंगे इल्लियाँ लार्वे और  छोटे-छोटे टिड्डे इत्यादि हैं

Common Stonechat hindi, stonechat hindi, stonechat bird hindi,  खरपिड्डा, पाषाण गोजा, himalaya birds hindi, birds of himalaya hindi, Saxicola torquatus hindi

 

 

Taj Mohammed Sheikh

हेलो दोस्तों, में एक Freelance Blogger हूँ , नेट इन हिंदी .com वेबसाईट बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषा में मनोरंजक और उपयोगी सामग्री प्रस्तुत करना है, यहाँ आपको विज्ञान, सेहत, शायरी, प्रेरक कहानिया, सुविचार और अन्य विषयों पर अच्छे लेख पढ़ने को मिलते रहेंगे. धन्यवाद!

You may also like...

Leave a Reply