डायनासोर पृथ्वी पर कहाँ से आये थे ?

डायनासोर की पृथ्वी पर उत्पत्ति कैसे हुई How dinosaurs evolved hindi?

क्या आपने कभी सोचा है कि पृथ्वी पर डायनासोर कहां से आए थे, इतने विशालकाय, प्राणी जो पृथ्वी पर विचरण करते थे, अचानक कहां से प्रकट हुए?, पृथ्वी पर डायनासोर के बाद इतने बड़े और खतरनाक प्राणी कभी नहीं देखे गए, कई डायनासोर तो ऐसे थे जीनका वजन 100 टन से भी ज्यादा था और आकार 125 फुट से भी लंबा था, आज हम ऐसे भयानक जीवो की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं.

डायनासोर धरती पर अचानक प्रकट नहीं हुए, जैसे कि पृथ्वी पर प्रत्येक जीव अचानक प्रकट नहीं हुआ है बल्कि एक सतत विकास की प्रक्रिया द्वारा बना है,  विशालकाय डायनासोर सतत विकास की प्रक्रिया से बने थे, 23 करोड़ साल पहले प्रथम प्रकार के डायनासोर दिखाई देने लगे थे इस युग को Triassic Period कहते हैं.

बाकी सभी पेड़ पौधों और जीवो की तरह डायनासोर भी डार्विन के विकासवादी सिद्धांत ईवोलुशन, नेचुरल सिलेक्शन तथा अडॉप्टेशन यानी कि क्रम विकास, प्राकृतिक चयन अनुकूलन आदि नियमों से पहले से मौजूद जीवो से विकसित हुए थे.  डायनासोर का विकास रेप्टाइल्स या सरीसर्प से हुआ. Plateosaurus पहला शाकाहारी बड़ा डायनासोर था इसकी लंबाई 9 मीटर थी तथा यह पेड़ों की टहनियों से पत्तियां तोड़कर खाता था.

सरीसृप रेप्टाइल से बने थे डायनासोर 

डायनासोरों का विकास प्राचीन  सरीसृप रेप्टाइल archosaurs (“ruling lizards”)  से हुआ, Paleontologists जीवाश्म विज्ञानी ने प्राचीन काल में पाया जाने वाला वह archosaurs सरीसृप खोज निकाला है जिससे की डायनासोरों का विकास हुआ था, इसका नाम Lagosuchus (Greek for “rabbit crocodile”) रखा गया है,   यह archosaurs सरीसृप वर्ग का ही एक सदस्य था जोकि Triassic युग की शुरुआत में दक्षिणी अमेरिका के जंगलों में पाया जाता था, इसे कभी कभी Marasuchus नाम से भी जाना जाता है.

नीचे दिए गए चित्र में आप Marasuchus  सरीसृप को देख सकते हैं दरअसल इस जीव से सभी प्रकार के शाकाहारी और मांसाहारी डायनासोर उत्पन्न हुए थे यही क्रम विकास यानी एवल्यूशन का कमाल है

पहला डायनासोर कौन सा था first true dinosaur

इस जीव से विकास करते करते हैं पहला प्रसिद्ध डायनासोर बना जिसे हम first true dinosaur कह सकते हैं इसका नाम वैज्ञानिक कौन है Eoraptor रखा है,  यह डायनासोर काफी छोटा, दो पैरों पर चलने वाला मांसाहारी डायनासोर था, यह छोटे मगरमच्छ, स्तनधारियों प्राणियों और सरीसर्प का रात में शिकार करता था.

इसके बाद डायनासोर की कहानी में एक नया मोड़ आया जब डायनासोर दो प्रमुख वर्गों में बट गए  यह वर्ग थे

Saurischian (“lizard-hipped”) डायनासोर और

Ornithischian (“bird-hipped”)  डायनासोर

आगे चलकर इन दोनों श्रेणियों में सैकड़ों प्रकार के डायनासोर की प्रजातियां उत्पन्न हुई जो, कि क्रीटेशियस युग के अंत तक बने रहे,  क्रीटेशियस युग के अंत में एक विशाल उल्का पिंड पृथ्वी से आकर टकराया और सभी डायनासोर इस महाविनाश में विलुप्त हो गए इस घटना को मास एक्सटिंक्शन इवेंट कहते हैं, पृथ्वी पर केवल कुछ जीव और पेड़ पौधे ही बचे इनमें पक्षी, छोटे स्तनधारी प्राणी और सरीसर्प शामिल थे आदि थे.

इस तरह हम पाते हैं कि पृथ्वी पर डायनासोर अचानक प्रकट नहीं हुए थे बल्कि करोड़ों साल के विकास की प्रक्रिया ने उन्हें उत्पन्न किया था.

Tags : How dinosaurs come to earth hindi, dinosaur kese bane, dinosaur ki utpatti kese, how dinosaurs evolved hindi, dinosaur evolution hindi, eoraptor hindi, first dinosaur hindi, how dinosaur came hindi, from where dinosaur came from

Taj Mohammed Sheikh

हेलो दोस्तों, में एक Freelance Blogger हूँ , नेट इन हिंदी .com वेबसाईट बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषा में मनोरंजक और उपयोगी सामग्री प्रस्तुत करना है, यहाँ आपको विज्ञान, सेहत, शायरी, प्रेरक कहानिया, सुविचार और अन्य विषयों पर अच्छे लेख पढ़ने को मिलते रहेंगे. धन्यवाद!

You may also like...

Leave a Reply