Hindi Kahani आप दुनिया को नहीं बदल सकते हिंदी कहानी

hindi kahani - green world2

hindi kahani – green world

Hindi Kahani – You can not paint the world green!

हिंदी कहानी आप दुनिया को नहीं बदल सकते

 बहुत समय पहले चीन में एक राजा था, जिसके पास बहुत ज़्यादा धन दौलत थी। एक बार उसकी आँखों में तेज़ दर्द की बीमारी हो गयी, उसने कई वैद्यों और हकीमों से इलाज कराया, तरह तरह की जड़ी बूटी और दवाइयाँ ले कर देखी पर उसकी आँखों का दर्द बढ़ता ही गया। जितना ही ज़्यादा वह दवाई लेता था उसकी आँखों का दर्द उतना ही बढ़ता जाता था।

List of all Hindi Kahani is here

फिर एक मंत्री के सलाह पर, राजा ने, एक बूढ़े बौद्ध भिक्षु को बुलाया जो लोगो की बीमारियां ठीक कर दिया करता था। बौद्ध भिक्षु ने राजा की आँखों की काफी देर तक जाँच की और कहा ” महाराज आपकी आँखों का दर्द ठीक हो सकता है, अगर आप हरे रंग की वस्तुओं को देखें और दूसरे रंगो से अपनी आँखों को बचाए!”।
राजा ने बात मान ली और कहा “चलो ठीक है जब इतना कुछ try किया है तो यह भी करके देख लेतें हैं।”

Hindi Kahani monks

Hindi Kahani Monk and king

बौद्ध भिक्षु के जाने के बाद, राजा ने अपने मंत्रियों को हुक्म दिया की, महल को और चारो तरफ की दीवारों को, और उन सभी वस्तुओं को जिन पर राजा की नज़र पढ़ती थी, को हरे रंग से पोत दिया जाये। राजा के मंत्रियों ने एसा ही कर दिया।
कुछ दिनों बाद जब बौद्ध भिक्षु फिर से राजा को देखने आया तो उसके सिपाहियों ने उसको रस्ते में ही रोककर एक हरे रंग का गाउन पहना दिया और कहने लगे की हमारे राजा किसी और हरे रंग के सिवा किसी रंग को नहीं देखते हैं ताकि उनका आँखों का दर्द वापस ना आ जाये।

सभी हिंदी कहानियों की लिस्ट यहाँ है

बौद्ध भिक्षु राजा के पास गया और वह अपनी हंसी को नहीं रोक पाया उसने मुस्कुराते हुए कहा “महाराज, अगर आप हरे रंग के कांच से एक चश्मा बनवा लेते तो आपको इतना खर्च करने और हर चीज़ को हरा रंगने की मुसीबत उठाने की ज़रुरत नहीं होती। आपके पास चाहे जितनी अधिक धन संपत्ति हो, आप पूरी दुनिया को हरे रंग में नहीं रंग सकते”।

hindi kahani green world

Hindi Kahani green world

आप पूरी दुनिया को नहीं बदल सकते हो आपको सिर्फ अपने आप को बुराई से बचाने की कोशिश करनी चाहिए।

Moral of this hindi kahani is

It is  foolish to shape the world, let us shape ourselves first.   

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *