Hindi Kahani-An Inspiring Story to Improve Difficult Relationships in Hindi - Net In Hindi.com

Hindi Kahani-An Inspiring Story to Improve Difficult Relationships in Hindi

Hindi Kahani  – An Inspiring Story to Improve Difficult Relationships in Hindi

Hindi Kahani  - An Inspiring Story to Improve Difficult Relationships in Hindi

Hindi Kahani – Chinese Girl

हिंदी कहानी – रिश्तों में मधुरता लाने की प्रेरणादायक कहानी

काफी समय पहले, चीन में एक लड़की रहती थी जिसका नाम लिली था, दूसरी लड़कियों की तरह ही, जब लिली की शादी हो गयी, तो वह अपने पति और सास-ससुर के घर जाकर रहने लगी।

बहुत कम समय में ही लिली को पता चल गया की वह अपनी सास के साथ नहीं रह सकती है! उन दोनों के व्यक्तित्व बहुत अलग थे, और लिली को, अपनी सास की कई आदतों पर गुस्सा आता था! इन सब बातों के साथ साथ, उसकी सास लिली के काम में मीन मेख निकालती थी!

दोनों के बीच विवाद और लड़ाई अकसर होने लगी! दिन बीतते गए और उन दोनों के बीच की नफरत और झगडा बढ़ता ही गया। चीन की पुरानी परंपरा थी की, बहु को सास का सम्मान करना चाहिए और उसकी हर आज्ञा का पालन करना चाहिए, लेकिन लिली को यह सब अखरता था! इन सब बातों के कारण घर में तनाव बढ़ता ही गया। ( You are reading this hindi kahani on netinhindi.com)

Hindi Kahani  - An Inspiring Story to Improve Difficult Relationships in Hindi

Hindi Kahani – Chinese Traditional House

आखिरकार, लिली ने फेसला किया की वह अपनी सास की तानाशाही और गुस्सा और नहीं सहेगी और कुछ न कुछ ज़रूर करेगी!

इसी शहर में, लिली के पिता के एक दोस्त मिस्टर हुआंग, जो की पेशे से वैद्य थे, रहते थे। लिली उनके पास पहुंची और अपनी दुखभरी कहानी सुना दी, और कहा की, वह उसे कोई ज़हर दे दें ताकि वह अपनी सास को मारकर इस समस्या की जड़ को ही ख़त्म कर दे! (Hindi Kahani)

Hindi Kahani  - An Inspiring Story to Improve Difficult Relationships in Hindi

Hindi Kahani – Traditional Chinese Doctor

मिस्टर हुआंग ने कुछ देर सोचा, फिर कहा “लिली में तुम्हारी समस्या को हल करने में तुम्हारी मदद करूंगा, लेकिन मेरी एक शर्त है, की जैसा में कहूँ तुम ठीक वैसा ही करोगी!!!”

जब लिली उनकी बात मानने को तैयार हो गयी तो मिस्टर हुआंग अन्दर गए और जड़ी बूटियों का एक पेकेट लेकर आये और उन्होंने लिली से कहा “देखो लिली, तुम अपनी सास को मारने के लिए किसी तेज़ ज़हर का इस्तेमाल नहीं कर सकती, क्यों की इससे लोगों को शक हो जायेगा! इसलिए, में तुम्हे कुछ जड़ी बूटियों का मिश्रण दे रहा हूँ जो एक धीमे ज़हर की तरह असर करेंगी!

हर दिन तुम अपनी सास के लिए उसकी पसंद का व्यंजन बनाना और उसमे थोड़ी सी मात्र इन जड़ी बूटियों की डाल देना!” लेकिन जब वह मर जाएगी तब, कोई तुम पर शक न करे इसके लिए तुम्हे पहले से थोड़ी तयारी करनी पड़ेगी । (Hindi Kahani)

“तुम्हे उनके साथ दोस्ताना व्यवहार करना होगा, कुछ दिनों के लिए,उनके साथ किसी भी बात पर विवाद करना बंद कर दो! उनकी आज्ञा का पालन करो! और उन्हें पूरा सम्मान दो जैसे की वह उस घर की महारानी हों! मुझे मालूम है यह करना मुश्किल है पर तुम्हे एसा करना ही पड़ेगा वरना लोगों तो तुम पर ही शक होगा और तुम्हारे साथ साथ में भी एक मुसीबत में पड़ जाऊँगा!” (Hindi Kahani)

लिली ने वादा किया की वह ठीक एसा ही करेगी! उसने मिस्टर हुआंग का शुक्रिया अदा किया और ख़ुशी ख़ुशी घर लोट गयी और अपना काम शुरू कर दिया ।

Hindi Kahani  - An Inspiring Story to Improve Difficult Relationships in Hindi

Chinese Herbs

कई हफ्ते बीत गए, महीने बीत गए, और हर दिन लिली ने अपनी सास को अच्छा खाना पकाकर खिलाया, उसने अपने गुस्से पर काबू रखा, अपनी सास की कही गयी बात मानी, और उन्हें अपनी माँ की तरह ही सम्मान दिया! (Hindi Kahani)

छह महीनों में तो घर का सारा माहोल ही बदल गया! लिली ने इन छह महीनों में एक बार भी अपनी सास पर गुस्सा नहीं किया! यह सब देखकर, उसकी सास का व्यवहार भी बदल गया, वो अधिक दयालु और बात मानाने वाली बन गयीं थी। लिली को भी वह अपनी बेटी की तरह प्यार करने लगी! घर पर आने वाले लोगों से वह लिली की तारीफ करती और कहती की लिली एक बहुत अच्छी बहु है!

लिली का पति और ससुर भी यह देखकर बहुत खुश थे क्यों की घर में खुशहाली और शांति थी! (Hindi Kahani)

एक दिन लिली मिस्टर हुआंग के पास पहुंची और उसने कहा “मुझे अपने किये पर अब पछतावा होता है की मेने अपनी सास को ज़हर देने की कोशिश की, आपने जो ज़हर दिया था उसके असर को ख़त्म करने के लिए आप मुझे जल्द कोई दवाई दें ताकि में उसे अपनी सास को दे सकूं! वे अब सुधर गयीं हैं, और आश्चर्य की बात है की वे अब मुझे अपनी बेटी की तरह प्यार करतीं हैं!”

मिस्टर हुआंग मुस्कुरा दिए और कहा “लिली! चिंता करने की कोई बात नहीं है बेटा!, मेने तुम्हे जो जड़ी बूटियां दी थी उनमे ज़हर नहीं था! वे तो स्वास्थवर्धक विटामिन से भरपूर थीं! ज़हर तो तुम दोनों के मन और व्यवहार में था! पर जब तुमने, उन्हें झूठे दिल से ही सही, मगर सम्मान और प्यार दिया, तो उनके मन का ज़हर इस से धुल गया!!! और उनके मन में तुम्हारे लिए सच्चा प्यार और कदर पैदा हो गयी! (Hindi Kahani)

सोचो बेटा!!! अगर तुम उनके साथ सच्चे दिल से, सम्मान और प्यार का व्यवहार करो, तो तुम्हारे घर और जीवन में कितनी खुशहाली आ जाएगी !!!”

Moral of this Hindi Kahani is

आप ज़हर को ज़हर से नहीं काट सकते, आग को आग से नहीं बुझा सकते, नफरत को नफरत से नहीं मिटा सकते बल्कि अपने अच्छे व्यवहार और प्यार से मिटा सकतें हैं। प्यार से पत्थर भी पिघल सकता है तो फिर इन्सान पर इसका असर क्यों नहीं होगा।

सभी हिंदी कहानियों की लिस्ट यहाँ है।
List of Inspiring Hindi Stories

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *