Hindi Shayri – इश्क के रिश्ते भी बड़े नाज़ुक

Hindi Shayri – इश्क के रिश्ते भी बड़े नाज़ुक

Hindi Shayri –

इश्क के रिश्ते भी बड़े नाज़ुक होते हैं साहब,
रात को नंबर बिजी आने पर भी टूट जाते हैं।

Hindi Shayri
Hindi Shayri – इश्क के रिश्ते भी बड़े नाज़ुक

Leave a Reply