Hindi Shayri -लफ्ज़ जब बरसते हैं

Hindi Shayri -लफ्ज़ जब बरसते हैं

Hindi Shayri –

हिंदी शायरी
लफ्ज़ जब बरसते हैं बन कर बूंदे।
मौसम कोई भी हो मन भीग ही जाता है।

Hindi Shayri
Hindi Shayri

Leave a Reply