Jawani Shayari in Hindi जवानी शायरी

Jawani Shayari in Hindi जवानी शायरी

Jawani Shayari in Hindi जवानी शायरी
Jawani Shayari in Hindi जवानी शायरी

Jawani Shayari in Hindi

जवानी शायरी

दोस्तों “जवानी शेर ओ शायरी का एक मज़ेदार संकलन हम इस पेज पर प्रकाशित कर रहे है, उम्मीद है यह आपको पसंद आएगा और आप विभिन्न शायरों के “जवानी के बारे में ज़ज्बात जान सकेंगे. अगर आपके पास भी जवानी शायरी का कोई अच्छा शेर है तो उसे कमेन्ट बॉक्स में ज़रूर लिखें.

सभी विषयों पर हिंदी शायरी की लिस्ट यहाँ है.

****************************************************

इक अदा मस्ताना सर से पाँव तक छाई हुई,

Loading...

उफ़ तेरी काफ़िर जवानी जोश पर आई हुई !! – दाग़ देहलवी

 

खुद अपनी जवानी की आरजूओं पर

तुम्हारे बाद अकेला ही छुप के रोता हूँ

~नरेश कुमार ‘शाद’

 

मेरी दरमांदा जवानी की तमाओं के

मुज्महिल ख्वाब की ताबीर बता दे मुझको

~साहिर

 

मलाहत जवानी तबस्सुम इशारा,

इन्हीं काफ़िरों ने तो शायर को मारा !!- नुशूर वाहिदी

 

बरसात की भीगी रातों में फिर कोई सुहानी याद आई

कुछ अपना ज़माना याद आया कुछ उनकी जवानी याद आई

 

Jawani Shayari in Hindi जवानी शायरी

 

सुकून-ए-कल्ब की दौलत कहाँ दुनिया-ए-फानी में,

बस इक गफलत-सी आ जाती है और वो भी जवानी में !!

 

सैर कर दुनिया की ग़ाफ़िल ज़िंदगानी फिर कहाँ,

ज़िंदगी गर कुछ रही तो ये जवानी फिर कहाँ !! – मीर दर्द

 

मोड़ होता है जवानी का सम्हलने के लिये

और सब लोग यहीं आके फिसलते क्यों हैं.!!

 

इतनी आसानी से मिलती नहीं फ़न की दौलत।।

ढल गई उम्र तो गज़लों में जवानी आई..!!

 

कतरा कतरा सागर तक तो जाती है हर उम्र

मगर जो बहता दरिया वापस मोड़े उसका नाम जवानी है

 

Jawani Shayari in Hindi जवानी शायरी

 

वह कुछ मुस्कुराना, वह कुछ झेंप जाना,

जवानी अदाएं सिखाती है क्या-क्या। -‘बेखुद’ देहलवी

 

तुम्हारी कातील अदा और मदमस्त जवानी

तडपा रही हम को, रहम कर दिवानी।।

 

एक तो कम जिंदगानी

उस से भी कम है जवानी

 

कहते है पीनेवाले मर जाते है जवानी में ।।

हमने तो बुजुर्गों को जवान होते देखा है मैखाने में ।

 

ख़याल-ओ ख़्वाब में दीवानगी पागलपन में

जवानी काम की थी ग़फ़लतों में बीत गयी!!!

 

Jawani Shayari in Hindi जवानी शायरी

मोहब्बत के सुहाने दिन जवानी की हसीन राते,

जुदाई में नज़र आती हैं ये सब ख्वाब की बाते.

 

लड़कपन खेल में खोया, जवानी नींद में सोया।

बुढ़ापा देख के रोया, वही किस्सा पुराना है।

 

ज़िक्र जब छिड़ गया क़यामत का

बात पहुंची तेरी जवानी तक

 

हंसीए जो कभी पाइये पढ़ते ग़ालिब की गज़ल

और ’हाय जवानी ले बैठी’ तन्हा गुनगुनाइए ~आतिशमिज़ाज

 

जिंदगी की रफ़्तार में क्या-क्या नहीं छूटा ??

कहीं बचपन नहीं रहा, कहीं जवानी नहीं रही…!!!

 

इतिहास के पन्ने जब जब पलटो ,बस एक कहानी मिलती है,

इतिहास उधर चल देता है ,जिस ओर जवानी चलती है

 

Jawani Shayari in Hindi जवानी शायरी

 

एक उम्र जवानी होती है हर शय पे रवानी होती है

हर दिल नजरो का दीवाना हर नजर दीवानी होती है.

 

अह्दे-जवानी रो-रो काटी,पीरी में लीं आंखें मून्द..

यानी रात बहुत थे जागे,सुबह हुई आराम किया..! ~मीर तक़ी मीर

 

कहाँ तक जफा हुस्न वालों के सहते,

जवानी जो रहती तो फिर हम न रहते। ~साकिब_लखनवी

 

हुस्न ढल गया गुरूर अभी बाकी है

नशा उतर गया सुरूर अभी बाकी है

जवानी ने दस्तक दी और चली गई

जेहन में वही फितूर अभी बाकी है

 

Jawani Shayari in Hindi जवानी शायरी

 

टहनियों के आँगन में हरे पत्तों को जवानी की दुआ लगे

मुसाफिरों के सिरों को छाया औरराहों को फूलों की आशीष मिले

 

वही प्यास के अनगढ़ मोती ,

वही धूप की सुर्ख़ कहानी

वही ऑंख में घुट कर मरती ,

ऑंसू की ख़ुद्दार जवानी

 

हुकूमत थी बचपन में बादशाहों सी हमारी,

जवानी ने हमें तकदीर का रफ़ूगर बना दिया…!!

 

जी भर कर बदनाम हो गए हम …

चलो जवानी का हक़ तो अदा हो गया…

 

जवानी जा रही है और मैं महव-ए-तमाशा हूँ

उड़ी जाती है मंज़िल और ठहरता जा रहा हूँ मैं ~नुशूर_वाहिदी

 

ऐ दिल– सुना न मुझको बिसरी हुई कहानी

कुछ इश्क की तबाही कुछ हुस्न की जवानी

 

ज़िन्दगी के किस मोड़ पर ले आई है यह जवानी भी,

जलना होगा या डूबना होगा “अक्स” इश्क़ आग भी है और पानी भी

 

Search Tags

Jawani Shayari in Hindi, Jawani Hindi Shayari, Jawani Shayari, Jawani whatsapp status, Jawani hindi Status, Hindi Shayari on Jawani, Jawani whatsapp status in hindi,

जवानी हिंदी शायरी, हिंदी शायरी, जवानी स्टेटस, जवानी व्हाट्स अप स्टेटस,जवानी पर शायरी, जवानी शायरी, जवानी पर शेर, जवानी की शायरी


Hinglish

Jawani Shayari in Hindi

जवानी शायरी

jawani shayari in hindi javaani shaayarijawani shayari in hindijavaani shaayari doston “javaani” sher o shaayari ka ek mazedaar sankalan ham is pej par prakaashit kar rahe hai, ummid hai yah aapako pasand aaega aur aap vibhinn shaayaron ke “javaani” ke baare mein zajbaat jaan sakenge. agar aapake paas bhi javaani shaayari ka koi achchha sher hai to use kament boks mein zaroor likhen.sabhi vishayon par hindi shaayari ki list yahaan hai.****************************************************

ik ada mastaana sar se paanv tak chhai hui,uf teri kaafir javaani josh par aai hui !! – daag dehalavikhud apani javaani ki aarajooon paratumhaare baad akela hi chhup ke rota hoon~naresh kumaar shaad

meri daramaanda javaani ki tamaon kemujmahil khvaab ki taabir bata de mujhako~saahiramalaahat javaani tabassum ishaara,inhin kaafiron ne to shaayar ko maara !!- nushoor vaahidi

barasaat ki bhigi raaton mein phir koi suhaani yaad aaikuchh apana zamaana yaad aaya kuchh unaki javaani yaad aaijawani shayari in hindi javaani shaayari

sukoon-e-kalb ki daulat kahaan duniya-e-phaani mein,bas ik gaphalat-si aa jaati hai aur vo bhi javaani mein !!

sair kar duniya ki gaafil zindagaani phir kahaan,zindagi gar kuchh rahi to ye javaani phir kahaan !! – mir

dardamod hota hai javaani ka samhalane ke liyeaur sab log yahin aake phisalate kyon hain.!!itani aasaani se milati nahin fan ki daulat..dhal gai umr to gazalon mein javaani aai..!!katara katara saagar tak to jaati hai har umramagar jo bahata dariya vaapas mode usaka naam javaani haijawani shayari in hindi javaani shaayari

vah kuchh muskuraana, vah kuchh jhemp jaana,javaani adaen sikhaati hai kya-kya. -bekhud dehalavitumhaari kaatil ada aur madamast javaani.tadapa rahi ham ko, raham kar divaani..ek to kam jindagaanius se bhi kam hai javaanikahate hai pinevaale mar jaate hai javaani mein .

.hamane to bujurgon ko javaan hote dekha hai maikhaane mein .khayaal-o khvaab mein divaanagi paagalapan menjavaani kaam ki thi gafalaton mein bit gayi!!!jawani shayari in hindi javaani shaayari mohabbat ke suhaane din javaani ki hasin raate,judai mein nazar aati hain ye sab khvaab ki baate.ladakapan khel mein khoya,

javaani nind mein soya.budhaapa dekh ke roya, vahi kissa puraana hai.zikr jab chhid gaya qayaamat kaabaat pahunchi teri javaani takahansie jo kabhi paiye padhate gaalib ki gazalaur ’haay javaani le baithi’ tanha gunagunaie ~aatishamizaajajindagi ki raftaar mein kya-kya nahin chhoota ??kahin bachapan nahin raha, kahin javaani nahin rahi…!!!

itihaas ke panne jab jab palato ,bas ek kahaani milati hai,itihaas udhar chal deta hai ,jis or javaani chalati haijawani shayari in hindi javaani shaayari ek umr javaani hoti hai har shay pe ravaani hoti haihar dil najaro ka divaana har najar divaani hoti hai.ahde-javaani ro-ro kaati,piri mein lin aankhen moond..yaani raat bahut the jaage,subah hui aaraam kiya..! ~mir taqi mirakahaan tak japha husn vaalon ke sahate,javaani jo rahati to phir ham na rahate. ~saakib_lakhanavi

husn dhal gaya guroor abhi baaki hainasha utar gaya suroor abhi baaki haijavaani ne dastak di aur chali gaijehan mein vahi phitoor abhi baaki haijawani shayari in hindi javaani shaayari tahaniyon ke aangan mein hare patton ko javaani ki dua lagemusaaphiron ke siron ko chhaaya auraraahon ko phoolon ki aashish milevahi pyaas ke anagadh moti ,vahi dhoop ki surkh kahaanivahi onkh mein ghut kar marati ,

onsoo ki khuddaar javaanihukoomat thi bachapan mein baadashaahon si hamaari,javaani ne hamen takadir ka rafoogar bana diya…!!ji bhar kar badanaam ho gae ham …chalo javaani ka haq to ada ho gaya…javaani ja rahi hai aur main mahav-e-tamaasha hoonudi jaati hai manzil aur thaharata ja raha hoon main ~nushoor_vaahidiai dil– suna na mujhako bisari hui kahaanikuchh ishk ki tabaahi kuchh husn ki javaanizindagi ke kis mod par le aai hai yah javaani bhi,jalana hoga ya doobana hoga “aks” ishq aag bhi hai aur paani bhisaiarchh tagsjawani shayari in hindi, jawani hindi shayari,

jawani shayari, jawani whatsapp status, jawani hindi status, hindi shayari on jawani, jawani whatsapp status in hindi,javaani hindi shaayari, hindi shaayari, javaani stetas, javaani vhaats ap stetas,javaani par shaayari, javaani shaayari, javaani par sher, javaani ki shaayari

 

Leave a Reply