Ketoacidosis क्या होता है?  क्या Keto diet लेने से Ketoacidosis हो सकता है?

Ketoacidosis क्या होता है?  क्या कीटो डाइट लेने से Ketoacidosis हो सकता है?

Ketoacidosis ऐसी अवस्था है जिसमें की रक्त  मैं keytons की मात्रा बहुत अधिक हो जाती है, यह एक बहुत गंभीर अवस्था होती है जिसमें जान जाने का भी खतरा उत्पन्न हो जाता है, यह स्थिति  सामान्यतः डायबिटीज के कारण उत्पन्न होती है, इस अवस्था में रक्त अत्यधिक एसिटिक हो जाता है, जिससे कि शरीर के कई अंगों की कार्यप्रणाली पर नुकसानदायक प्रभाव पड़ता है,  इससे लीवर और किडनी दोनों को नुकसान होता है, इस अवस्था Ketoacidosis का तुरंत इलाज किया जाना बहुत आवश्यक होता है.

Ketoacidosis  बहुत तेजी से उत्पन्न हो सकता है, यह क्यों चौबीस घंटों में मरीज को ग्रसित कर सकता है.  ज्यादातर यह टाइप वन डायबिटीज के रोगियों में देखा जाता है, ऐसे रोगियों के शरीर में इंसुलिन बनना बंद हो जाता है जिससे कि उनका शरीर ग्लूकोस को ऊर्जा में नहीं बदल पाता और शरीर में ketons की मात्रा बढ़ जाती है

कीटो डाइट लेने से Ketoacidosis  हो सकता है?

Ketoacidosis kya he, Ketoacidosis kya hota he, what is Ketoacidosis in hindi, keto dite se Ketoacidosis ho sakta, keto dite ke nuksan, Ketoacidosis ke lakshan, Ketoacidosis symptoms in hindi, Ketoacidosis ki jankari, Ketoacidosis ke symptoms

अधिक समय तक कीटो डाइट लेने से Ketoacidosis होने की संभावना बढ़ जाती है,  अधिक समय तक भूखा रहने से भी Ketoacidosis हो जाता है, अगर आप बहुत लंबे समय तक कीटो डाइट ले रहे हैं और कार्बोहाइड्रेट का बिल्कुल भी सेवन नहीं कर रहे हैं तो आप को Ketoacidosis  होने का खतरा है, हालांकि इस प्रकार के केस बहुत रेयर ही देखे गए.

यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका इस प्रकार का एक केस दर्ज किया गया,  32 वर्ष की एक महिला ने कीटो आहार लेना शुरू किया जिसमें कि उसने कार्बोहाइड्रेट लेना बिल्कुल बंद कर दिया और अत्यधिक वसा वाला आहार लेना शुरू किया,  इस महिला के एक 10 महीने का बच्चा भी था जिसे वह स्तनपान कराती थी, कीटो आहार लेने के 10 दिन बाद ही इस महिला को Ketoacidosis  हो गया, उसे उल्टियां होने लगी और उसके रक्त का पीएच लेवल  7.20 हो गया,  उसे तुरंत ही अस्पताल में भर्ती किया गया यहां उसे  पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन और ग्लूकोस के द्वारा उपचार कर स्वस्थ किया गया.

कीटो आहार लेने से Ketoacidosis हो सकता है, यही कारण है कि स्तनपान कराने वाली माताओं को कीटो आहार लेने से मना किया जाता है, इस प्रकार का आहार लेने से पहले चिकित्सकों का परामर्श अवश्य लेना चाहिए.

Ketoacidosis  के लक्षण क्या है?

Ketoacidosis होने पर शरीर में निम्न लक्षण दिखाई देते हैं,  अगर आप कीटो आहार ले रहे हैं और आपको यह लक्षण दिखाई दे तो तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें.

extreme thirst  अधिक प्यास लगना

frequent urination –  अधिक मात्रा में मूत्र आना

Dehydration –  पानी की कमी हो जाना

Nausea –  जी मिचलाना

Vomiting –  उल्टियां होना

stomach pain  पेट में दर्द होना

Tiredness  थकान का अनुभव होना

breath that smells fruity – सांसों से दुर्गंध आना

shortness of breath  सांस लेने में दिक्कत होना

feelings of confusion –  मति भ्रम होना

Ketoacidosis kya he, Ketoacidosis kya hota he, what is Ketoacidosis in hindi, keto dite se Ketoacidosis ho sakta, keto dite ke nuksan, Ketoacidosis ke lakshan, Ketoacidosis symptoms in hindi, Ketoacidosis ki jankari, Ketoacidosis ke symptoms

 

Taj Mohammed Sheikh

हेलो दोस्तों, में एक Freelance Blogger हूँ , नेट इन हिंदी .com वेबसाईट बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषा में मनोरंजक और उपयोगी सामग्री प्रस्तुत करना है, यहाँ आपको विज्ञान, सेहत, शायरी, प्रेरक कहानिया, सुविचार और अन्य विषयों पर अच्छे लेख पढ़ने को मिलते रहेंगे. धन्यवाद!

You may also like...

Leave a Reply