Khushi Shayari – Shayari on Khushi with Images

Khushi Shayari – Shayari on Khushi with Images

Khushi Shayari

Khushi Shayari :  ख़ुशी शायरी,  दोस्तों इस पेज पर हम आपके लिए ख़ुशी पर शायरी पेश कर रहे हैं, यहाँ मशहूर शायरों के ख़ुशी के बारे में शेर दिए गए हैं, इन्टरनेट पर यह ख़ुशी शायरी का एक सबसे बड़ा संग्रह है, ख़ुशी के बारे में मशहूर शायरों ने क्या क्या कहा है, ख़ुशी पर सारे शेर एक पेज पर पढ़कर आपको काफी अच्छा लगेगा, यहाँ ख़ुशी शायरी पर 150 से भी ज्यादा शेर संकलित जमा किये गए है. 

हमने यहाँ महान शायरों की khushi shayari 2 lines देवनागरी font में दी है, यह ख़ुशी शायरी hindi (khushi shayari in hindi ) और उर्दू भाषा में हैं, khushi shayari in hindi को आप आसानी से कॉपी कर अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं, khushi par shayari का यह संकलन आपको केसा लगा, कमेंट्स में ज़रूर लिखे.

ख़ुशी शायरी इमेजेस :- इस पेज के अंत में हमने कुछ शानदार खूबसूरत ख़ुशी शायरी इमेजेस दी हैं, आप इन ख़ुशी शायरी इमेजेस को आसानी से डाउनलोड और शेयर कर सकते हैं.

सभी hindi शायरी की लिस्ट यहाँ दी गयी है  All Topics Hindi Shayari

 

Khushi shayari in hindi

 

तेरे वा‘दे पर जिए हम तो ये जान झूट जाना

कि ख़ुशी से मर न जाते अगर ए‘तिबार होता … Ghalib Khushi shayari

 

लबों पर यूँही सी हँसी भेज दे

मुझे मेरी पहली ख़ुशी भेज दे

अँधेरा है कैसे तेरा ख़त पढ़ूँ

लिफ़ाफ़े में कुछ रौशनी भेज दे

~मोहम्मद अल्वी

 

वो दिल ले के ख़ुश हैं मुझे ये ख़ुशी है

कि पास उन के रहता हूँ मैं दूर हो कर

~जलील मानिकपूरी

 

इन्ही ग़म की घटाओं से ख़ुशी का चाँद निकलेगा

अँधेरी रात के पर्दे में दिन की रौशनी भी है

~अख़्तर शीरानी ~

 

कुछ तो हवा भी सर्द थी कुछ था तेरा ख़याल भी

दिल को ख़ुशी के साथ साथ होता रहा मलाल भी

~Parveen Shakir –

 

अब्र है, गुलज़ार है, मय है, ख़ुशी का दौर है

आज तो डूबे हुए दिल को उछलने दीजिए

~हसन बरेलवी

 

ख़ुशी जीने की क्या मरने का ग़म क्या

हमारी ज़िंदगी क्या और हम क्या

~मिर्ज़ा ग़ालिब

 

दोस्ती अपनी जगह और दुश्मनी अपनी जगह

फ़र्ज़ के अंजाम देने की ख़ुशी अपनी जगह

~गणेश बिहारी तर्ज़

 

इतने संजीदा कि जैसे खेल ही हो ज़िंदगी

खेल ही में सारे ग़म हों खेल ही सारी ख़ुशी

 

‏मिल जाए मुझ को ख़ाक जो क़दमों की आप के

दिल क्या है मैं तो जान भी दे दूँ ख़ुशी के साथ

 

मुझे ख़बर नहीं ग़म क्या है और ख़ुशी क्या है

ये ज़िंदगी की है सूरत तो ज़िंदगी क्या है

~अहसन मारहरवी ~

 

है ख़ुशी इंतिज़ार की हर दम

मैं ये क्यूँ पूछूँ कब मिलेंगे आप

~निज़ाम रामपुरी

 

तमाम उम्र ख़ुशी की तलाश में गुज़री

तमाम उम्र तरसते रहे ख़ुशी के लिए

 

वो हयात क्या कि जिस में न ख़ुशी के साथ ग़म हो

वो सहर भी क्या सहर है कि जो शाम तक न पहुँचे

~मुहम्मद अय्यूब ज़ौक़ी

 

Shayari on khushi

 

एक वो हैं कि जिन्हें अपनी ख़ुशी ले डूबी

एक हम हैं कि जिन्हें ग़म ने उभरने न दिया

~आज़ाद_गुलाटी

 

खुला ये राज़ कि ये ज़िंदगी भी होती है

बिछड़ के तुझ से हमें अब ख़ुशी भी होती है

~हसीब सोज़      

 

मजबूरियों को अपनी कहें क्या किसी से हम

लाए गए हैं, आए नहीं हैं ख़ुशी से हम

~बिस्मिल अज़ीमाबादी

 

उस से मिलने की ख़ुशी बाद में दुख देती है

जश्न के बाद का सन्नाटा बहुत खलता है

– Moin Shadab

 

कर रहा हूँ तुझे ख़ुशी से बसर

ज़िंदगी तुझ से दाद चाहता हूँ

~अंजुम सलीमी

 

हर एक ग़म को ख़ुशी की तरह बरतना है

ये दौर वो है कि जीना भी इक हुनर सा लगे

~जाँ निसार अख़्तर

 

मुझे ख़बर नहीं ग़म क्या है और ख़ुशी क्या है

ये ज़िंदगी की है सूरत तो ज़िंदगी क्या है

~अहसन मारहरवी ~

 

लाई हयात आए क़ज़ा ले चली चले

अपनी ख़ुशी न आए न अपनी ख़ुशी चले

~ज़ौक़

 

Khushi shayari two lines

 

ज़िंदगी कितनी मसर्रत से गुज़रती या रब

ऐश की तरह अगर ग़म भी गवारा होता

~अख़्तर_शीरानी

 

लबों पर यूँही सी हँसी भेज दे

मुझे मेरी पहली ख़ुशी भेज दे

अँधेरा है कैसे तेरा ख़त पढ़ूँ

लिफ़ाफ़े में कुछ रौशनी भेज दे

~मोहम्मद_अल्वी

 

वो कौन है दुनिया में जिसे ग़म नहीं होता

किस घर में ख़ुशी होती है, मातम नहीं होता

~रियाज़_ख़ैराबादी

 

ख़ुशी हुई थी कि अब मैं तन्हा नहीं हूँ लेकिन

ये शख़्स तो मेरे साथ चलता ही जा रहा है

~शारिक़_कैफ़ी

 

दिल में कोई ख़ुशी नहीं लेकिन

आदतन मुस्कुरा रहा हूँ मैं

~रिफ़अत सुलतान

 

अब ख़ुशी है न कोई दर्द रुलाने वाला

हम ने अपना लिया हर रंग ज़माने वाला

~NidaFazli

 

इन्ही ग़म की घटाओं से ख़ुशी का चाँद निकलेगा

अँधेरी रात के पर्दे में दिन की रौशनी भी है

~अख़्तर_शीरानी

 

तमाम उम्र ख़ुशी की तलाश में गुज़री

तमाम उम्र तरसते रहे ख़ुशी के लिए

~अबुल_मुजाहिद_ज़ाहिद

 

न ख़ुशी अच्छी है ऐ दिल न मलाल अच्छा है

यार जिस हाल में रक्खे वही हाल अच्छा है

~Jaleel Manikpuri

 

सुकूँ ही सुकूँ है ख़ुशी ही ख़ुशी है

तेरा ग़म सलामत मुझे क्या कमी है

~ख़ुमार_बाराबंकवी

 

Khushi wali shayari

 

कुछ तो हवा भी सर्द थी कुछ था तेरा ख़याल भी

दिल को ख़ुशी के साथ साथ होता रहा मलाल भी

~परवीन_शाकिर

 

सितम तो ये है कि वो भी न बन सका अपना

क़ुबूल हम ने किए जिस के ग़म ख़ुशी की तरह

~क़तील_शिफ़ाई

    

ख़ुशी है सब को रोज़-ए-ईद की याँ

हुए हैं मिल के बाहम आश्ना ख़ुश

बाहम – together

आश्ना – acquaintance

 

नए दीवानों को देखें तो ख़ुशी होती है

हम भी ऐसे ही थे जब आए थे वीराने में

~अहमद_मुश्ताक़

 

ये कह के दिल ने मेरे हौसले बढ़ाए हैं

ग़मों की धूप के आगे ख़ुशी के साए हैं

~Mahirul Qadri ~    

 

न ख़ुशी अच्छी है ऐ दिल न मलाल अच्छा है

यार जिस हाल में रक्खे वही हाल अच्छा है

~जलील_मानिकपूरी

 

चेहरे पे ख़ुशी छा जाती है आँखों में सुरूर आ जाता है

जब तुम मुझे अपना कहते हो अपने पे ग़ुरूर आ जाता है

~साहिर_लुधियानवी

दिल दे तो इस मिज़ाज का परवरदिगार दे

जो रंज की घड़ी भी ख़ुशी से गुज़ार दे

~Dagh Dehlvi ~

 

ग़म हो कि ख़ुशी दोनों कुछ दूर के साथी हैं

फिर रस्ता ही रस्ता है हँसना है न रोना है

~निदा_फ़ाज़ली ~    

इतने संजीदा कि जैसे खेल ही हो ज़िंदगी

खेल ही में सारे ग़म हों खेल ही सारी ख़ुशी

~सलीम_अहमद

 

Khushi shayari hindi

चेहरे पे ख़ुशी छा जाती है आँखों में सुरूर आ जाता है

जब तुम मुझे अपना कहते हो अपने पे ग़ुरूर आ जाता है

~साहिर_लुधियानवी

 

खुल के रो लूँ तो ज़रा जी सँभले

मुस्कुराना ही मसर्रत* तो नहीं

 – परवीन फ़ना सय्यद  *Happiness

 

ये चुपके चुपके न थमने वाली हँसी तो देखो

वो साथ है तो ज़रा हमारी ख़ुशी तो देखो

~शारिक़_कैफ़ी

 

  अब तो ख़ुशी का ग़म है न ग़म की ख़ुशी मुझे

बे-हिस बना चुकी है बहुत ज़िंदगी मुझे

~Shakeel Badayuni

 

उससे मिलने की ख़ुशी बाद में दुख देती है

जश्न के बाद का सन्नाटा बहुत खलता है

~MoinShadab

 

लाई हयात आए क़ज़ा ले चली चले

अपनी ख़ुशी न आए न अपनी ख़ुशी चले

~Zauq

 

ये कह के दिल ने मेरे हौसले बढ़ाए हैं,

ग़मों की धूप के आगे ख़ुशी के साए हैं

~Mahirul Qadri

 

नए दीवानों को देखें तो ख़ुशी होती है

हम भी ऐसे ही थे जब आए थे वीराने में

~Ahmad Mushtaq

 

ग़म हो कि ख़ुशी दोनों कुछ दूर के साथी हैं

फिर रस्ता ही रस्ता है हँसना है न रोना है

~NidaFazli

 

दिल दे तो इस मिज़ाज का परवरदिगार दे

जो रंज की घड़ी भी ख़ुशी से गुज़ार दे

~Dagh Dehlvi

 

Zindagi khushi shayari in hindi

 

बहुत दिनों से है दिल अपना ख़ाली ख़ाली सा

ख़ुशी नहीं तो उदासी से भर गए होते

~BashirBadr

 

कुछ तो हवा भी सर्द थी कुछ था तिरा ख़याल भी

दिल को ख़ुशी के साथ साथ होता रहा मलाल भी ~Parvin Shakir

 

तेरी ख़ुशी से अगर ग़म में भी ख़ुशी न हुई

वो ज़िंदगी तो मोहब्बत की ज़िंदगी न हुई

~Jigar

 

शब-ए-विसाल है गुल कर दो इन चराग़ों को

ख़ुशी की बज़्म में क्या काम जलने वालों का ~मोमिन

 

ये कह के दिल ने मिरे हौसले बढ़ाए हैं

ग़मों की धूप के आगे ख़ुशी के साए हैं

~Mahirul Qadri

 

हर तमन्ना से जुदा मैं

हर खुशी से दूर हूं

जी रहा हूं, क्योंकि

जीने के लिए मजबूर हूं

मुझको मरने भी ना देगा ये तुम्हारा इंतज़ार..

-अंजान

 

समझते हैं हम खेल दुनिया के ग़म को

हमारी ख़ुशी है तुम्हारी ख़ुशी से ~हैरतगोंडवी

 

बड़े घरों में रही है बहुत ज़माने तक

ख़ुशी का जी नहीं लगता ग़रीब-ख़ाने में Nomaan Shauq

 

लबों पर यूँही सी हँसी भेज दे

मुझे मेरी पहली ख़ुशी भेज दे ~Alvi

 

हँसी-ख़ुशी से बिछड़ जा अगर बिछड़ना है

ये हर मक़ाम पे क्या सोचता है आख़िर तू

~Faraz

5 khushi shayari image

 

आ धमके ऐश ओ तरब क्या क्या जब हुस्न दिखाया होली ने

हर आन ख़ुशी की धूम हुई यूँ लुत्फ़ जताया होली ने ~Nazir

 

अब खुशी है न कोई ग़म रुलानेवाला

हमने अपना लिया हर रंग ज़मानेवाला

हर बे-चेहरा सी उम्मीद है चेहरा चेहरा

जिस तरफ़ देखिए आने को है आनेवाला

-निदा

 

वो कौन है दुनिया में जिसे ग़म नहीं होता

किस घर में ख़ुशी होती है मातम नहीं होता

~Riyaz Khairabadi

 

अरे ओ आसमाँ वाले, बता इसमें बुरा क्या है

ख़ुशी के चार झोंके, गर इधर से भी गुज़र जाएँ

~Sahir

 

Khushi shayari status

 

ख़ुशी की लहर दौड़ी दुश्मनों में

वो शायद दोस्तों में घिर गया है ~Amir Qazalbash

 

चंद कलियाँ नशात की चुन कर मुद्दतों महव-ए-यास रहता हूँ

तेरा मिलना ख़ुशी की बात सही तुझ से मिल कर उदास रहता हूँ

 

चेहरे पे ख़ुशी छा जाती हैं आँखों में सुरूर आ जाता हैं,

जब तुम मुझे अपना कहते हो अपने पे ग़ुरूर आ जाता हैं

-साहिर

 

‘इक ख़्वाब ख़ुशी का देखा नही,

देखा जो कभी तो भुल गये

माँगा हुआ तुम कुछ दे न सके,

जो तुमने दिया वो सहने दो’-कैफ़ी आझमी

 

हँसी ख़ुशी से बिछड़ जा अगर बिछड़ना है

ये हर मक़ाम पे क्या सोचता है आख़िर तू ~Faraz

 

ख़ुशी मिली तो ये आलम था बद-हवासी का

कि ध्यान ही न रहा ग़म की बे-लिबासी का ~Zafar

 

मेरी ज़िंदगी के मालिक मेरे दिल पे हाथ रखना

तेरे आने की ख़ुशी में मेरा दम निकल न जाए ~anwar mirzapuri

 

KHUSHI SHAYARI IMAGES

you can easily download these Khushi shayari images and share with your friends.

 

Khusi Shayari

 

Khusi Shayari in hindi

 

Khusi Shayari in hindi font

 

khushi shayari images

 

Ghalib khushi shayari images

 

khushi shayari images

 

khushi shayari images

 

khushi shayari images

 

khushi shayari images

 

This page is all about khushi ki shayari, khushi shayari in hindi, shayari on khushi, khushi shayari two lines, khushi wali shayari, khushi shayari hindi, zindagi khushi shayari in hindi, khushi shayari image, teri khushi shayari, khushi shayari status, aap ki khushi ke liye shayari, khushi shayari urdu,khushi shayari ghalib, khushi ki shayari in hindi, khushi ki shayari hindi, shayari on khushi in hindi, shayari khushi ki, hindi shayari khushi, hindi khushi shayari, khushi shayari 2 lines, khushi bhari shayari in hindi, khushi hindi shayari, khushi love shayari, khushi urdu shayari, love khushi shayari, aane ki khushi shayari, hindi shayari on khushi, dil ki khushi shayari, khushi aur gham shayari, urdu shayari khushi,pyar ki khushi shayari, urdu khushi shayari, tujhe har khushi mile shayari, urdu shayari on khushi, teri khushi ke liye shayari, hindi shayari teri khushi, khushi shayari in hindi font,khushi shayari wallpaper, teri khushi me meri khushi shayari, teri khushi ki khatir shayari, khushi shayari in urdu, meri khushi ho tum shayari, teri khushi shayari in hindi,aap ki khushi shayari, meri khushi shayari, dost ki khushi shayari, khushi ki dua shayari,