प्रकृति प्रेमियों को लुभाता कोल्लेरू पक्षी अभयारण्य आन्ध्र प्रदेश  

कोल्लेरू बर्ड सेंचुरी Kolleru Bird Sanctuary hindi

कोल्लेरू बर्ड सेंचुरी आंध्र प्रदेश में स्थित एक पक्षी अभयारण्य है जो कि 673 स्क्वेयर किलोमीटर में फैला हुआ है इसकी स्थापना सन 1999 में वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट 1972 के अंतर्गत की गई थी , इस अभ्यारण के अंतर्गत कोल्लेरू झील के आसपास का दलदली इलाका आता है. स्थानीय भाषा में इसे कोलामारू पक्षी उद्यान भी कहते हैं.

कोल्लेरू पक्षी अभयारण्य आंध्र प्रदेश के दो जिलों में फैला हुआ है यह जिले कृष्णा और वेस्ट गोदावरी जिले हैं, यह अभयारण्य कृष्णा नदी और गोदावरी नदी के बीच में स्थित है,  कृष्णा और गोदावरी नदी का डेल्टा यहां 10 से 25 किलोमीटर के इलाके में फैला हुआ है निकट ही इलुरु नाम का शहर है.

 Kolleru Bird Sanctuary hindi, kolleru hindi, kolamaru bird sanctuary, andhra pradesh bird sanctuary hindi, essay on bird sanctuary, pakshi abhyaranny,

इस पक्षी अभयारण्य में मुख्यतः 10 फीट लंबी एक विशेष प्रकार की घास पाई जाती है जिसे Phragmites karka  कहते हैं, यह लंबी घांस ही इन दलदली इलाकों में पक्षियों के लिए मुख्य आवास स्थल उपलब्ध करवाती हैं.

कोल्लेरू पक्षी उद्यान में कई प्रकार के पौधे और पक्षी पाए जाते हैं, यह कई पक्षियों का प्राकृतिक आवास है, बड़ी संख्या में प्रवासी पक्षी यहां पर दुनिया भर से सर्दियों के मौसम में उड़कर के आते हैं, इन पक्षियों के लिए कोल्लेरू पक्षी उद्यान किसी जन्नत से कम नहीं ह, क्योंकि यहां पर इन्हें पर्याप्त मात्रा में भोजन और सुरक्षित आवास मिल जाता है, यह पक्षी उद्यान विजयवाड़ा शहर से 65 किलोमीटर दूर स्थित है,  इसलिए बड़ी संख्या में प्रकृति प्रेमी और पक्षियों में दिलचस्पी रखने वाले लोग इस पक्षी उद्यान में अक्सर आते हैं, आस्ट्रेलिया साइबेरिया मिश्र और फिलीपींस जैसे देशों से उड़कर प्रवासी पक्षी कोल्लेरू वर्ल्ड उद्यान पक्षी उद्यान में आते हैं. यह पक्षी पर्यटकों का मुख्य आकर्षण है.

कोल्लेरू पक्षी अभ्यारण्य में कौन से पक्षी देखें जा सकते हैं?

इन पक्षियों में मुख्य प्रजातियां Open Billed Stork, Shovellers, Painted Stork, Pintails, Glossy Ibises, Teals और Red Chested Podchards तथा और कई पक्षियों की प्रजातियां यहां दिखाई दे जाती है. इनके अलावा यहां पर Widgeons, Gadwalls, Cormorants and Avocets आदि पक्षी बहुत आसानी से दिखाई दे जाते हैं क्योंकि यहां पर यह बहुतायत में पाए जाते हैं

कोल्लेरू पक्षी उद्यान कोल्लेरू झील के आसपास फैला हुआ है इससे पक्षियों को झील से पर्याप्त मात्रा में भोजन मिल जाता है यहां पर एक वॉच टावर भी बनाया गया है  जहां जाकर पर्यटक आसानी से पक्षीयों को निहार सकते हैं, मानसून के मौसम में झील का आकार बहुत बड़ा हो जाता है तथा यहां कई मछुआरे झींगे और छोटी मछलियां पकड़ने आते हैं गांव के लोगों को इस झील से अच्छा रोजगार प्राप्त हो जाता है,  यहां पर एक वॉटर टैंक Muthyraju Tank नाम का वाटर टैंक भी है.

कोल्लेरू पक्षी अभ्यारण्य घुमने का सबसे अच्छा समय कौन सा है?

कोल्लेरू पक्षी उद्यान में घूमने का सबसे अच्छा समय नवंबर से लेकर मार्च तक का होता है इस दौरान आप काफी तरह के पक्षी यहां पर विचरण करते हुए देख सकते हैं

Tags : Kolleru Bird Sanctuary hindi, kolleru hindi, kolamaru bird sanctuary, andhra pradesh bird sanctuary hindi, essay on bird sanctuary, pakshi abhyaranny,

 

 

Taj Mohammed Sheikh

हेलो दोस्तों, में एक Freelance Blogger हूँ , नेट इन हिंदी .com वेबसाईट बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषा में मनोरंजक और उपयोगी सामग्री प्रस्तुत करना है, यहाँ आपको विज्ञान, सेहत, शायरी, प्रेरक कहानिया, सुविचार और अन्य विषयों पर अच्छे लेख पढ़ने को मिलते रहेंगे. धन्यवाद!

You may also like...

Leave a Reply