Love Shayri – टुकड़ों में बिखेर

Love Shayri – टुकड़ों में बिखेर

Love Shayri

हिंदी शायरी
टुकड़ों में बिखेर चुके हो दिल मेरा मगर ,
इन बिखरे टुकड़ों को वफादारी की आदत आज भी है।

Love Shayri
Love Shayri

Leave a Reply