Father Shayari in hindi with Images

Father Shayari in hindi with Images

Father Shayari with Images

Father Shayari :-  फादर, पापा, अब्बू, यानी पिता का किसी भी व्यक्ति के जीवन में सबसे महत्वपूर्ण स्थान होता है, पिता ही व्यक्ति को बनता है, पिता के दिए हुए विचार, व्यहवार, आदतें, संस्कार ही व्यक्ति को बनाते हैं, इसी लिए मशहूर शायर निदा फाजली कहते हैं

“कहीं कुछ भी नहीं बदला,
तुम्हारे हाथ मेरी उंगलियों में सांस लेते हैं,
मैं लिखने के लिये जब भी कागज कलम उठाता हूं,
तुम्हे बैठा हुआ मैं अपनी कुर्सी में पाता हूं |

बदन में मेरे जितना भी लहू है,
वो तुम्हारी लगजिशों नाकामियों के साथ बहता है,
मेरी आवाज में छुपकर तुम्हारा जेहन रहता है,
मेरी बीमारियों में तुम मेरी लाचारियों में तुम |

तुम्हारी कब्र पर जिसने तुम्हारा नाम लिखा है,
वो झूठा है, वो झूठा है, वो झूठा है,
तुम्हारी कब्र में मैं दफन तुम मुझमें जिन्दा हो,
कभी फुरसत मिले तो फातहा पढनें चले आना |”

Loading...

यूँ तो पिता को सम्मान,प्यार और तोहफे हमेशा देते ही रहना चाहिए, लेकिन पाश्चात्य संस्कृती में पिता के सम्मान का वर्ष में एक दिन ख़ास रहता है जिसे फादर्स डे कहते हैं, इस वर्ष 2019 में फादर्स दे Sunday 16 June को मनाया जायेगा, इस दिन सभी अपने पिता को प्यार भरा सन्देश और तोहफे देतें हैं.

इस पेज पर हम ख़ास आपके लिए पेश कर रहे हैं पिता के सम्मान में कही गयी कुछ शायरी, यह father shayari मशहूर शायरों ने लिखी है, आप इन शायरी को father day shayari

 के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं, यह shayari on father in hindi हमने देवनागरी font में दी है ताकि आप आसानी से यह मेसेज कॉपी कर अपने पिताजी को भेज सकें.

इस पेज के आखिर में हम खूबसूरत फादर्स डे शायरी इमेज father shayari images भी दे रहे हैं ताकि आप आसानी से डाउनलोड कर सकें.

List of All Topics in Hindi Shayari

Fathers Day shayari in Hindi

 

वो पेड़ जिस की छाँव में कटी थी उम्र गाँव में

मैं चूम चूम थक गया मगर ये दिल भरा नहीं

हम्माद नियाज़ी

 

बच्चे मेरी उँगली थामे धीरे धीरे चलते थे

फिर वो आगे दौड़ गए मैं तन्हा पीछे छूट गया

ख़ालिद महमूद

 

घर लौट के रोएँगे माँ बाप अकेले में

मिट्टी के खिलौने भी सस्ते न थे मेले में

 

माँ बाप और उस्ताद सब हैं ख़ुदा की रहमत

है रोक-टोक उन की हक़ में तुम्हारे नेमत

 

अज़ीज़-तर मुझे रखता था वो रग-ए-जाँ से

ये बात सच है मेरा बाप कम न था माँ से

 

उम्मीदें माँ बाप की देखीं

बच्चों का जब बस्ता देखा

 

अब और क्या तेरा बीमार बाप देगा तुझे

बस इक दुआ कि ख़ुदा तुझ को कामयाब करे

#कैफ़ी_आज़मी (shayari on father and daughter in hindi,

)

 

गाँव,बचपन,नदी,महकते खजूर

ख़्वाब की बात मत सुना बाबा

#Sarshar

 

सुब्ह सवेरे नंगे पाँव घास पे चलना ऐसा है

जैसे बाप का पहला बोसा क़ुर्बत जैसे माओं की

#हम्माद_नियाज़ी

 

ज़िंदगी बाप की मानिंद सज़ा देती है

रहम-दिल माँ की तरह मौत बचाने आई

father shayari images

***

तुम्हारी कब्र पर मैं
फ़ातेहा पढ़ने नही आया,

मुझे मालूम था, तुम मर नही सकते
तुम्हारी मौत की सच्ची खबर
जिसने उड़ाई थी, वो झूठा था,
वो तुम कब थे?
कोई सूखा हुआ पत्ता, हवा मे गिर के टूटा था ।

मेरी आँखे
तुम्हारी मंज़रो मे कैद है अब तक
मैं जो भी देखता हूँ, सोचता हूँ
वो, वही है
जो तुम्हारी नेक-नामी और बद-नामी की दुनिया थी ।

कहीं कुछ भी नहीं बदला,
तुम्हारे हाथ मेरी उंगलियों में सांस लेते हैं,
मैं लिखने के लिये जब भी कागज कलम उठाता हूं,
तुम्हे बैठा हुआ मैं अपनी कुर्सी में पाता हूं |

बदन में मेरे जितना भी लहू है,
वो तुम्हारी लगजिशों नाकामियों के साथ बहता है,
मेरी आवाज में छुपकर तुम्हारा जेहन रहता है,
मेरी बीमारियों में तुम मेरी लाचारियों में तुम |

तुम्हारी कब्र पर जिसने तुम्हारा नाम लिखा है,
वो झूठा है, वो झूठा है, वो झूठा है,
तुम्हारी कब्र में मैं दफन तुम मुझमें जिन्दा हो,
कभी फुरसत मिले तो फातहा पढनें चले आना |

***

हम दर-ए-अदल पे मिन्नत को गए जितनी बार

अपने माँ बाप की क़ब्रों पे भी इतने न गए #Mahshar Badayuni

 

नंहे बच्चों ने छू भी लिया चाँद को

बूढ़े बाबा कहानी सुनाते रहे #wasim

 

फूल कभी दोबारा नहीं खिलते

जन्म कभी दोबारा नहीं मिलते

मिलते है लोग हजारों

पर हजारों गलतियां माफ़ करने वाले

मां बाप नहीं मिलते

 

पिता ने हारकर बाज़ी हमेशा मुस्कुराया,

शतरंज की उस जीत को मैं अब समझ पाया।

 

तुम्हारी क़ब्र पर

मैं फ़ातिहा पढ़ने नहीं आया

मुझे मालूम था

तुम मर नहीं सकते

#NidaFazli

 

धरती सा धीरज दिया और आसमान सी उंचाई है,

जिन्दगी को तरस के खुदा ने ये तस्वीर बनाई है।

हर दुख वो बच्चों का खुद पे वो सह लेतें है

उस ईश्वर की जीवित प्रतिमा को हम पिता कहते हैं।।

 

शौक तो पिता की कमाई से पूरे होते हैं,

अपनी कमाई से तो बस गुज़ारे होते हैं।

 

जिस व्यक्ति की छत्रछाया में हम बड़े हुए,

जिनके कर्मों से हमने नैतिकता की शिक्षा ली, उस पिता को हम आज नमन करते हैं। 

 

“पिता का महत्व दुनिया में कम हो नहीं सकता।

पिता जैसा दुनिया में कोई और हो नहीं सकता।।”

 

मै उन्हें क्या तोहफा दूँ,,

जो खुद मुझे इस दुनियाँ में लाए हैं,,

जिन्होंने पढा लिखाकर मुझे,,इस काबिल बनाया जो मैं आज ये लिख पा रही हूँ,,

कभी मुझपर वो करने का दबाव नही डाला,,

जिसे करने का मेरा मन नही है,,

क्या तोहफा दूँ मै उन्हें????? (shayari on father and daughter in hindi,

)

Shayari on father in hindi

 

जब परेशानियों से घिर जाती हूँ

कभी खुद को तनहा पाती हूँ,

आप कि कहीं बातें बहुत याद करती हूँ

पापा, आपकी दी सिख हमेशा काम आई (shayari on father and daughter in hindi,

)

 

“कुछ क़िस्से हैं जो हमेशा के लिए दिल पे दर्ज हो गए..

मेरी ख़ुशियाँ ख़रीदने में, मेरे बाबूजी ख़र्च हो गए..

 

थके पिता का उदास चेहरा,

उभर रहा है यूँ मेरे दिल में,

कि प्यासे बादल का अक्स जैसे,

किसी सरोवर से झाँकता है.

 

पिता

हमने पहचाना तुमको

अक्सर आहट से

साइकल की घंटियों की

टनटनाहट से

शाम को दरवाजे की लौटी

मुस्कुराहट से

 

फिर पुराने नीम के नीचे खडा हूँ

फिर पिता की याद आई है मुझे

-कुमार विश्वास

 

पिता रोटी है कपड़ा है मकान है

पिता छोटे से परिंदे का बड़ा आसमान है

 

बुरी तरह थका देने वाली अनंत जिम्मेदारियो के बाद भी अगर

कोई व्यक्ति मुस्कुराता रहता है, तो वो निश्चित रूप से हमारे पिता ही है !!

 

पिता यानी..

पल-पल, पग-पग एक नई चुनौती स्वीकार कर किसी भी स्थिति मे

अंत तक अपने दायित्व और जिम्मेदारी को पूरा करने वाली प्रेरणा।

Father day shayari

बाप का रुत्बा भी कुछ कम नहीं होता लेकिन,

जितनी माँए हैं फ़रिश्तों की तरह होती हैं !

 

जिन पर लुटा चूका था मैं दुनियां की दौलतें,

उन वारिसों ने मुझको कफ़न नाप कर दिया।

-डा. नवाज देवबंदी

 

बड़े मज़बूत होते हैं वो कंधे…

जो पूरे परिवार का बोझ उठाके भी “उफ़्फ़” तक नहीं करते

 

“पिता सुरक्षा है, अगर सिर पर हाथ है,

पिता  नहीं  तो  बचपन  अनाथ  है।।

 

“पिता रोटी है, कपडा है, मकान है,

पिता छोटे से परिंदे का बडा आसमान है।।

 

जिन्दगी के सफर ने कोशिश खूब की दुनिया दिखाने की,

पर पापा के कंधे से जितनी दिखाई देती है, असल में दुनिया उतनी ही है

 

“पिता जीवन है, संबल है, शक्ति है,

पिता सृष्टि के निर्माण की अभिव्यक्ति है

 

Father shayari images

Father Shayari in hindi

 

Father Shayari in hindi

 

Father Shayari in hindi

 

Father Shayari in hindi

 

parents shayari

 

parents shayari

 

parents shayari

 

fathers day shayari

 

fathers day shayari

 

Nida Fazli father shayari

 

This page is about  shayari on father and daughter in hindi, shayari for father in hindi, shayari on father daughter relation, punjabi shayari on father, it is a collection of father and son shayari in hindi, father shayari hindi, shayari on father and son, mother father shayari, mother father shayari in hindi, father and daughter shayari, father shayari image,

mother and father shayari, shayari on father in urdu, urdu shayari for father,

father day shayari hindi, hindi shayari for father, shayari on mother and father in hindi, urdu shayari for father death, shayari in hindi for father,

shayari father, father sad shayari, father daughter shayari in hindi, shayari father hindi, best shayari for father in hindi, sad shayari in hindi for father,

shayari of father, shayari for daughter and father, father day urdu shayari,

best shayari on father, shayari on father and son in hindi, shayari daughter to father, happy birthday shayari in hindi for father, urdu shayari on father,

shayari for father in English, birthday shayari for father in hindi, birthday shayari for father, shayari in hindi for mother and father, shayari mother father hindi, shayari for mother and father in hindi, shayari for mother and father, hindi shayari on mother and father, father birthday shayari, father shayari in Punjabi, shayari on mother and father, shayari on father in Punjabi, father shayari in urdu, shayari for father in urdu, shayari about father,