Hindi Kahani - Start a Chain of Love in Hindi - Net In Hindi.com

Hindi Kahani – Start a Chain of Love in Hindi

Hindi Kahani - Chain of love in hindi

Hindi Kahani – Start a Chain of Love in Hindi

Hindi Kahani – Start a Chain of Love in Hindi

हिंदी कहानी – प्यार की चेन की शुरुआत कीजिये!

ब्रायन एंडरसन एक भला आदमी था, जो अकसर अनजान लोगो की निस्वार्थ मदद कर दिया करता था। एक दिन उसने एक बूढी औरत को देखा, जो अपनी कार के बाहर बहुत परेशान खड़ी हुई थी। शाम का वक़्त था, मध्धम रौशनी में भी, उस महिला के चेहरे पर परेशानी साफ़ देखी जा सकती थी।

मुस्कुराते हुए ब्रायन उसकी तरफ बढ़ने लगा, यह देख कर महिला आशंकित हो गयी, एक घंटे से कोई उसकी मदद के लिए नहीं आया था! यह कोई लुटेरा तो नहीं है? इसके कपडे भी एकदम पुराने हैं और यह एकदम गरीब लगता है! ऐसे शंका के विचारों ने उसे घेर लिया।

ब्रायन ने देखा की वह डरी हुई है, बाहर ठण्ड बढती जा रही थी!

“क्या आपको किसी मदद की ज़रुरत है? आप अन्दर कार में बैठकर इंतज़ार क्यों नहीं करती! बाहर बहुत ठण्ड है, ओह मेरा नाम ब्रायन हैं!” ब्रायन ने उसके पास पहुंचकर कहा।(you are reading this hindi kahani at netinhindi.com)

उसकी समस्या कोई बड़ी नहीं थी, केवल उसकी कार का टायर पंचर हो गया था, लेकिन वह बूढी औरत अकेली सफ़र कर रही थी, और इस हाईवे पर लूट की घटनाये आम थी! इसलिए वह बहुत चिंतित थी!

ब्रायन ने कहा की वह टायर बदलना जानता है और अभी कुछ ही देर में यह काम कर देगा। बूढी महिला राज़ी हो गयी और अन्दर कार में बैठकर इंतज़ार करने लगी।( hindi kahani )

ब्रायन ने मशक्कत से टायर बदल दिया! महिला ने ब्रायन से पुछा की इस काम के कितने रूपये हुए?

वह महिला बहुत खुश हो गयी थी, क्यों की उसके मन में तरह तरह के बुरे ख्याल आ रहे थे, रात भी होने वाली थी, ऐसे में कोन उसकी मदद करने के लिए हाईवे पर रुकता।

ब्रायन ने रुपयों के बारे में तो सोचा ही नहीं था, वह तो केवल मदद करना चाहता था। उसकी भी कई लोगों ने बहुत बार मदद की थी! इसलिए वह भी अकसर लोगों की मदद कर दिया कर देता था।

ब्रायन ने कहा की अगर वह मदद का बदला चुकाना चाहतीं हें तो वे भी किसी ज़रुरत मंद की मदद कर दें।( hindi kahani )

जब तक उनकी कर स्टार्ट नहीं हो गयी तब तक ब्रायन वहीँ खड़ा रहा, फिर अपने घर चल दिया। आज का दिन अच्छा नहीं गुज़रा था और उसकी स्थिति निराशाजनक थी लेकिन शाम को इस महिला की मदद कर उसे अच्छा महसूस हुआ।

कुछ ही मील दूर महिला ने एक छोटी होटल देखी, और वह, वहां खाना खाने के लिए रुक गयी। रेस्टोरेंट छोटा सा ही था परन्तु अन्दर से साफ सुथरा था। जैसे ही वह टेबल पर बैठी, एक वेट्रेस मुस्कुराते हुए आई और उसे एक तोलिया दिया।

महिला ने नोटिस किया की वह वेट्रेस प्रेग्नेंट है, उसने सोचा की एसी हालात में, दिन भर खड़े रहने के बाद भी, यह वेट्रेस मुस्कुरा रही है, इतनी परेशानी ने भी इसका स्वभाव नहीं बदला है। तभी उसे ब्रायन का ख्याल आया, उसका स्वभाव भी बहुत अच्छा था।

जब महिला ने खाना खा लिया तो उसने सो डॉलर का नोट वेट्रेस को दिया, जब वह वेट्रेस बचे हुए पैसे लेकर आई तब तक महिला जा चुकी थी! तभी उसने देखा की नेपकिन पर कुछ लिखा था जिसे पढ़कर उसकी आँखों में आंसू आ गए! “आज मेरी भी किसी ने बिना मतलब के मदद की, जिस तरह में तुम्हारी मदद कर रही हूँ, तुम एसी अवस्था में भी दिल लगाकर काम कर रही हो, यह बहुत अच्छा है!, अगर तुम इस मदद का बदला चुकाना चाहो तो किसी ज़रुरत मंद की मदद कर देना, प्यार की इस चेन को तुम अपने आप पर ख़त्म मत होने देना! इसे आगे बढ़ाना” ( hindi kahani )

नेपकिन के नीचे चार सो डॉलर्स और रखे थे।

वेट्रेस ने वह टिप रख ली। आज बहुत ज्यादा काम था, टेबल्स साफ़ करनी थी, लोगो को खाना परोसना था, वेट्रेस ने सारा काम ख़त्म कर लिया और कुछ देर से घर पहुंची। वह बिस्तर पर लेट कर उस बूढी औरत की लिखी हुई बात और ४०० डॉलर्स के बारे में सोचने लगी, उसने सोचा की उस बूढी औरत को कैसे पता चला की मुझे और मेरे पति को इन डालरों की अभी कितनी ज़रूरत है, अगले महीने ही बच्चा आने वाला है, तब मुश्किलें और बढ़ जाएँगी क्यों की उसका काम भी छूट जायेगा।

वह जानती थी की उसका पति भी कितना परेशान है, उसने पास ही सो रहे पति को धीरे से चूमा और कहा “सब कुछ ठीक हो जायेगा, आय लव यु ब्रायन!” ।

एक पुरानी कहावत है “अच्छे काम कबूतरों की तरह लोट कर वापस आपके पास आ जातें हैं।“

आप भी किसी ज़रुरत मंद की निस्वार्थ मदद कीजिये, और एक अच्छी चेन की शुरुआत आज ही कीजिये!

सभी हिंदी कहानियों की लिस्ट यहाँ है।
List of Inspiring Hindi Stories

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *