99.9 प्रतिशत यूनिवर्स बना है केवल इन दो हल्के तत्वों से !

ब्रह्माण्ड में सबसे हल्का तत्व

Lightest element in the Universe Hindi

हम जो कुछ भी देखते हैं जिन चीजों को छूते हैं जिनका उपयोग करते हैं वह सब चीजें तत्वों elements से बनी हुई है, यूनिवर्स में कुछ मूलभूत तत्व हैं जिनसे मिलकर कई प्रकार के योगिक बनते हैं. सभी तरह की वस्तुएं इन प्राथमिकत तत्वों के यौगिकों से ही मिलकर बनी हुई है. आवर्त सारणी हमें इन मूल तत्वों के बारे में जानकारी देती है, आवर्त सारणी में प्रकृति में पाए जाने वाली सभी तत्वों को  सम्मिलित किया गया है तथा उन्हें एक व्यवस्थित क्रम में जमाया गया है. सबसे हलके तत्व को बाईं तरफ तथा सबसे भारी तत्व को दाईं तरफ रखा गया है.

सबसे ज्यादा पाया जाने वाला तत्व

Most abundant element hindi

hydrogen ki jankari hindi me

यूनिवर्स  में पाए जाने वाला सबसे हलके तत्व हाइड्रोजन, हिलियम, लिथियम तथा बेरिलियम है. हमारे ब्रह्माण्ड का 99.9 प्रतिशत हिस्सा हाइड्रोजन और हीलियम गैस से बना है.

आवर्त सारणी में देखकर आप सबसे हल्के तत्वों का आसानी से पता लगा सकते हैं, किसी तत्व का एटॉमिक नंबर उस तत्व के परमाणु के अंदर पाए जाने वाले प्रोटॉन की संख्या बताता है तथा  उस तत्व के नीचे लिखा हुआ अंक उसका रिलेटिव आण्विक द्रव्यमान दर्शाता है, आवर्त सारणी में आगे जाने पर तत्वों का भार बढ़ता जाता है.

हाइड्रोजन सबसे ज्यादा पाया जाने वाला तत्व क्यों है?

Why hydrogen is most abundant hindi

इस प्रश्न का उत्तर जानने के लिए आपको हाइड्रोजन की सरंचना जाननी होगी, हाइड्रोजन सबसे सरल तत्व है इसके परमाणु के नाभिक में सिर्फ एक प्रोटोन होता है तथा एक इलेक्ट्रॉन इस नाभिक का चक्कर लगाता रहता है बिग बैंग की प्रक्रिया से जब  ब्रह्मांड बना तब एक प्रोटोन और इलेक्ट्रॉन ने मिलकर सबसे सरल परमाणु की रचना की यह परमाणु हाइड्रोजन ही था. यही कारण है कि हाइड्रोजन ब्रह्मांड में सबसे ज्यादा पाया जाता है.  तारों के अंदर हाइड्रोजन के परमाणुओं ने ही सलयित होकर हिलियम का निर्माण किया, तब इन तारों में विस्फोट हुआ जिसे सुपरनोवा विस्फोट कहते हैं, तब जाकर भारी तत्वों का निर्माण हुआ क्योंकि सुपरनोवा विस्फोट के दौरान अत्यधिक तापमान और अत्यधिक दबाव उत्पन्न होता है जिससे कई हाइड्रोजन परमाणु आपस में मिलकर भारी तत्वों का निर्माण करते हैं.

हमारे Universe में ऑक्सीजन तीसरा सबसे ज्यादा पाए जाने वाला तत्व है, ऑक्सीजन से भारी तत्व और भी कम मात्रा में पाए जाते हैं, क्योंकि  उनके बनने की प्रक्रिया के लिए अधिकतम तापमान और अत्यधिक दबाव की आवश्यकता होती है. हाइड्रोजन परमाणु का सरल होना ही उसे सबसे ज्यादा पाया जाने वाला तत्व बनाता है.

सबसे हल्का तत्व हाइड्रोजन

The lightest element in the Universe

हाइड्रोजन प्रकृति में पाए जाने वाला सबसे हल्का तत्व है, यही तत्व ब्रह्मांड में सबसे अधिक पाया जाता है, हाइड्रोजन के परमाणु में सिर्फ एक प्रोटोन और इलेक्ट्रॉन होता है, हाइड्रोजन का न तो कोई रंग होता है और ना कोई गंध. सामान्य तापमान पर हाइड्रोजन गैस अवस्था में रहती है.

पृथ्वी पर ज्यादातर हाइड्रोजन ऑक्सीजन से मिलकर पानी के अणुओं का निर्माण करती है तथा पानी के रूप में रहती है, हाइड्रोजन और कार्बन मिलकर कई ऑर्गेनिक जैविक योगिक बनाते हैं जो कि जीवन के लिए बहुत आवश्यक है, हाइड्रोजन की उत्पत्ति ब्रह्मांड की उत्पत्ति के समय बिग बेंग के साथ ही हुई थी, तारों में दो हाइड्रोजन के परमाणु सलायिंत होकर एक हीलियम का परमाणु बनाते हैं, इस प्रक्रिया को नाभिकीय संलयन कहते हैं, सूर्य और तारों में की ऊर्जा का यही मुख्य कारण है.

हाइड्रोजन के तीन समस्थानिक isotope – तीन रूप पाए जाते हैं

प्रथम प्रकार के हाइड्रोजन के परमाणु में  केंद्र में केवल एक प्रोटोन हौता है और एक इलेक्ट्रॉन इस नाभिक के चारो और चक्कर लगता रहता है.

दूसरे प्रकार के हाइड्रोजन के परमाणु के नाभिक में दो प्रोटोन के साथ एक न्यूट्रॉन भी होता है, तथा केवल एक इलेक्ट्रान इस नाभिक के चारो और चक्कर लगता रहता है. इसे Deuterium कहतें हैं

तथा तीसरे प्रकार के हाइड्रोजन परमाणु में के केंद्र में दो न्यूट्रॉन, एक प्रोटॉन हौता है इस नाभिक के चारो और चक्कर लगता रहता है. इसे Tritium कहते हैं.

ब्रह्मांड का दूसरा सबसे हल्का तत्व हीलियम

Second lightest element hindi

हिलियम, प्रकृति का दूसरा सबसे हल्का तत्व है,  इसके परमाणु के नाभिक में दो प्रोटॉन और दो न्यूट्रॉन होते हैं तथा दो इलेक्ट्रॉन नाभिक का चक्कर लगाते रहते हैं हाइड्रोजन की तरह हीलियम भी गंधहीन और  रंगहीन गैस है, हिलियम किसी भी अन्य तत्व से क्रिया नहीं करता है इसीलिए यह नोबल गैसे समूह का प्रथम सदस्य है, क्योंकि हिलियम किसी भी तत्व से क्रिया करके कोई भी योगिक नहीं बनाता है इसलिए बायोलॉजी में इसका कोई विशेष महत्व नहीं है, ना ही उद्योगों में इसका उपयोग किया जाता है. हिलियम ब्रह्मांड में पाए जाने वाला दूसरा प्रमुख तत्व है, इसका निर्माण भी बिग बेंग  के समय हुआ था कुछ हीलियम का निर्माण तारों में लगातार होता रहता है.

हाइड्रोजन सबसे हल्का तत्व क्यों है?

Why hydrogen is lightest hindi

हाइड्रोजन के परमाणु  के नाभिक में केवल एक प्रोटोन होता है और केवल एक इलेक्ट्रॉन उसके चारों ओर चक्कर लगाता रहता है यही कारण है कि हाइड्रोजन सबसे हल्का तत्व है, दूसरे तत्वों में ज्यादा प्रोटोन पाए जाते हैं तथा उनमें न्यूट्रॉन भी पाए जाते हैं जो कि उनके भार में वृद्धि करते हैं यही वजह है कि हाइड्रोजन विश्व में सबसे हल्का तत्व है.

हाइड्रोजन को आवर्त सारणी में  प्रथम स्थान पर क्यों रखा गया है?

Why hydrogen is first element in periodic table?

hydrogen ki jankari hindi me

इस प्रश्न का जवाब भी हाइड्रोजन की सरल सरचना ही है, आवर्त सारणी में तत्वों को एक विशेष क्रम में जमाया गया है, सबसे हलके तत्वों पहले हैं जिनमें कम प्रोटॉन है तथा जैसे जैसे हम आगे बढ़ते जाते हैं प्रोटोनो की संख्या और न्यूट्रोंस की संख्या बढ़ती जाती है, तथा पदार्थ का भार भी बढ़ता जाता है हलके होने की वजह से ही हाइड्रोजन सबसे हल्का तत्व इसलिए आवर्त सारणी में सबसे पहले स्थान पर पाया जाता है.

*****

Tags ब्रह्माण्ड में सबसे हल्का तत्व, Lightest element in the Universe Hindi,सबसे ज्यादा पाया जाने वाला तत्व, Most abundant element hindi,Why hydrogen is most abundant hindi, हाइड्रोजन,हीलियम,Second lightest element hindi,आवर्त सारणी

 

 

 

 

Taj Mohammed Sheikh

हेलो दोस्तों, में एक Freelance Blogger हूँ , नेट इन हिंदी .com वेबसाईट बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषा में मनोरंजक और उपयोगी सामग्री प्रस्तुत करना है, यहाँ आपको विज्ञान, सेहत, शायरी, प्रेरक कहानिया, सुविचार और अन्य विषयों पर अच्छे लेख पढ़ने को मिलते रहेंगे. धन्यवाद!

You may also like...

Leave a Reply