देखिये पहले चलते फिरते पेड़ – क्या यह एन्ट्स की शुरुआत हैं ?

चलते फिरते पेड़ : क्या पेड़ पोधे चल फिर सकते हैं?..

आप कहेंगे नहीं…विश्व में एसा कोई पेड़ या पौधा नहीं होता तो चल फिर सके ….आपका जवाब सही हे । ..लेकिन अब जल्द ही पेड़ और पोधे इंसानों की मदद से न केवल चल फिर सकेंगे बल्कि आश्चर्य जनक रूप से आपसे हाथ भी मिला सकेगें और नाच भी सकेंगे !!!

ये सब सभव होने जा रहा हे एक रोबोटिक्स वैज्ञानिक की वजह से जिनका नाम हे तिआंकी सुन, जो की सी ई ओ हैं चायनीज़ रोबोटिक फर्म विन्क्रोस के ।
तिआंकी सुन इस प्रोजेक्ट को “Sharing Human Technology with Plants,” कहते हैं, जिसका मतलब है इंसानी तकनीक को पौधों के साथ शेयर करना…इस सब की शुरुवात एक मृत सूर्यमुखी के पोधे से हुई!

चलते फिरते पेड़

चलते फिरते पेड़

सन २०१४ में तिआंकी एक सूरजमुखी पौधों की प्रदर्शनी देखने गए थे । उनकी नज़र एक छाया में रखे हुए सूरजमुखी के पौधे पर पड़ी जो की मर चूका था । शायद धुप न मिलने के कारण या पानी न मिल पाने की वजह से वह पौधा मर गया था ..तब तिआंकी ने यह सोचा की अगर यह पौधा ३० फीट चल पाता और छायाँ से बाहर निकलकर वहां पहुँच जाता, जहाँ दुसरे पौधे धुप में पनप रहे थे तो वह बच सकता था…पर उसने एसा नहीं किया …क्योंकि पेड़ पौधे निष्क्रिय होते हें । प्रकृति ने उन्हें चलने फिरने की स्वतंत्रता नहीं दी है …चाहे आप उन्हें काटें, तोड़ें, या जला दे वे कुछ नहीं कर सकते । चाहे पानी एक मीटर दूर ही क्यों ना हों वे उस तक नहीं पहुच सकते । इवोलुशन ने उन्हें एसा ही बनाया है.

हर प्राणी की एक निश्चित सीमाएं प्रकृति ने निर्धारित की हैं ।आप समंदर की गहराइयों में नहीं जा सकते …न ही आसमान में बादलों के ऊपर उड़ सकतें हैं…लेकिन इंसानी ने विज्ञान और तकनीक के सहारे अपनी सीमाओं से आगे जाना संभव कर लिया हैं।

तिआंकी कहते हैं के क्या प्लांट्स भी अपनी सीमाओं से आगे जाना चाहते हैं? इसका जवाब किसी को भी नहीं पता पर तिआंकी इस मानवीय भावना और तकनीक को प्लांट्स के साथ शेयर करना चाहते हैं!!!

इसके लिए तिआंकी ने पौधे को एक रोबोटिक रोवर के साथ जोड़ दिया है ..इसके लिए उन्होंने एक टेरेन्टूला मकड़ी की तरह दिखने वाले रोबोट को बनाया ..यह रोबोट अपने ऊपर एक पोधे को लिए फिरता हैं .. रोबोट के सॉफ्टवेर को इस तरह से डिजाईन किया गया हे की जब पोधे को धुप की ज़रूरत होती हे तो यह उसे धुप में ले जाता हे और कुछ सामय बाद पुनः छाँव में ले जाता हैं…..समय समय पर यह पौधे को पानी भी देता रहता हैं…यही नहीं यह रोबोट आप से हाथ भी मिला सकता हे और जब यह खुश होता हे तो यह नाचता भी हे …जो लोग गार्डनिंग का शौक रखते हैं उनके लिए यह अपने पौधे को चलते-फिरते देखना… अपनी मर्जी से धुप छाँव में जाते देखना एक अजीब एहसास है ।

इस रोबोटिक चलते-फिरते पौधे की कुछ मज़ेदार gifs जिफ्स आप यहाँ देख सकते हैं..

क्या आपको “लार्ड आफ द रिंग्स” के चलते फिरते पेड़ याद हैं जिन्हें एंट्स (Ents) कहा जाता था…कौन जाने यह एंट्स की शुरुआत हो आज से कुछ सौ वर्षों में इन्सान रोबोटिक्स और पेड़ों को मिलकर एक नयी प्रजाति “एंट्स” बना लें …आप क्या सोचते हैं. कमेंट्स में लिखिए …

चलते फिरते पेड़

चलते फिरते पेड़

चलते फिरते पेड़

चलते फिरते पेड़

सोर्स : https://forum.vincross.com/t/remaking-sharing-human-technology-with-plants-with-hexa/596

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *