पंजाब का राज्य पक्षी Northern goshawk बाज़ state bird of punjab in hindi

पंजाब का राज्य पक्षी, state bird of punjab, punjab ka rajy pakshi,  Northern goshawk in hindi, Northern goshawk,

पंजाब के राज्य पक्षी की जानकारी

पंजाब का राज्य पक्षी Northern goshawk बाज़ है, यह एक छोटे आकार का धारीदार बाज़ होता है,  इसका आकार केवल 45 से 60 सेंटीमीटर के बीच होता है मादा Northern goshawk बाज़ का आकार 55 से 70 सेंटीमीटर के बीच होता है,  वजन में यह 550 ग्राम से लेकर 1400 ग्राम तक का होता है मादा का वजन नर से अधिक होता है.

नर Northern goshawk बाज़ के पंखों का फैलाव 85 से 105 सेंटीमीटर तक हो सकता है जबकि मादा के पंखों का फैलाव 100 सेंटीमीटर से लेकर 125 सेंटीमीटर तक होता है इनकी पूंछ की लंबाई 18 से 28 सेंटीमीटर के बीच होती है.

Northern goshawk के पंख छोटे और मजबूत होते हैं, जिससे कि इन्हें तुरंत तेज गति मिल जाती है, इनकी एक लंबी पूछ होती है जो कि इन्हें कलाबाजियां करने में और शिकार करते समय तुरंत मुड़ने में सहायता प्रदान करती है, जिससे कि ये जंगलों में वृक्षों के बीच आसानी से तेज गति से उड़ सकते हैं.

Northern goshawk  को पहचानने का सबसे अच्छा तरीका इस के  पूरे शरीर पर पाए जाने वाले भूरे रंग की धारियां है जो कि इसके सफेद पेट पर बनी होती हैं और दूर से ही नजर आती हैं.

Loading...

पंजाब राज्य के राज्य पक्षी Northern goshawk बाज़ का वैज्ञानिक वर्गीकरण

Northern goshawk  वैज्ञानिक वर्गीकरण इस प्रकार किया गया है

Common Name – Northern goshawk, Zoological Name – Accipiter gentilis, Kingdom – Animalia ,Phylum – Chordata, Class – Aves, Order – Accipitriformes, Family – Accipitridae, Genus – Accipiter

पंजाब का राज्य पक्षी Northern goshawk  कहां पाया जाता है?

Northern goshawk  के आवासीय इलाके लगभग सारी दुनिया में फैले हुए हैं, मुख्य रूप से यह उत्तरी अमेरिका यूरोप उत्तरी एशिया में पाया जाता है, यह पश्चिमी कनाडा अमेरिका के टेनेसी और साउथ एरीजोना राज्यों, मैक्सिको, मध्य यूरोप के जंगलों में तथा हिमालय के आस पास पाए जाने वाले जंगलों में भी पाया जाता है.

Northern goshawk का आवास और व्यवहार

पंजाब का राज्य पक्षी, state bird of punjab, punjab ka rajy pakshi,  Northern goshawk in hindi, Northern goshawk,

यह बाज़ घने जंगलों में रहना पसंद करता है, जहां दूसरे बाज पहाड़ी और मैदानी इलाकों में रहना पसंद करते हैं यह बाज़ घने पेड़ों वाले जंगलों में  अधिक पाया जाता है, ऐसे जंगल जहां ऊंचे ऊंचे पेड़ हो तथा थोड़ी शिकार करने की जगह हो ऐसे स्थानों पर इसे देखा जा सकता है

मुख्यतः यह बाज़ ऊंचे इलाकों में पाया जाता है, ठंड के मौसम में यह निचले इलाकों में प्रवास कर जाता है,  प्रजनन काल के दौरान यह पक्षी काफी शोर करते हैं नर और मादा अलग अलग तरह की आवाज निकालते हैं इनकी आवाज “की की की”  और “काक काक” की तरह होती है,ज्यादातर यह जोड़ों में देखे जाते हैं यह जीवन पर्यंत के लिए जोड़ा बनाते हैं.

सभी प्रकार के बाजों की तरह यह Northern goshawk बाज़ भी मांसाहारी है,  यह कई छोटे परिंदों स्तनधारी प्राणियों सरीसृप आदि का शिकार करता है, यह घने जंगलों में काफी तेज गति से उड़ सकता है तथा शिकार कर सकता है, अक्सर शिकार खोजने के लिए यह जंगलों के ऊपर उड़ता रहता है शिकार दिख जाने पर यह अचानक से गोता लगा देता है तथा झाड़ियों में आकर गिर जाता है, इसकी गति 50 से 60  किलोमीटर प्रति घंटा तक हो सकती है.

Northern goshawk बाज़ का प्रजनन काल मार्च से जून के महीने में होता है,  यह अपना घोंसला जंगल के किनारों पर उगे हुए ऊंचे पेड़ों पर बनाता है इनके घोसले अक्सर जंगल के किनारे पर स्थित पेड़ों और दल दल के किनारे पर स्थित पेड़ों पर देखे जा सकते हैं.

Northern goshawk अपना घोंसला तिनकों और पत्तियों से बनाता है, यह एक बार में दो से चार अंडे देता है,  इसके अंडों का रंग नीलापण लिए हुए सफेद होता है, अंडे सेने का कार्य ज्यादातर मादा ही करती है कभी-कभी जब मादा शिकार पर जाती है तब नर भी अंडे सेने का काम करता है,  इन अंडों से 30 से 38 दिन में बच्चे निकल आते हैं, जब यह बच्चे 36 से 42 दिन के हो जाते हैं तो यह उड़ना प्रारंभ करते हैं, 3 से चार महीने का होने पर यह बच्चे पूरी तरह स्वतंत्र हो जाते हैं तथा शिकार करना सीख जाते हैं. इन पक्षियों का जीवन काल 10 से 12 वर्ष का होता है.

पंजाब का राज्य पक्षी, state bird of punjab, punjab ka rajy pakshi,  Northern goshawk in hindi, Northern goshawk,


English translation

The state bird of Punjab is the northern goshawk baza state bird of Punjab in hindi

State bird information of Punjab

The state bird of Punjab is the northern goshawk falcon, it is a small striped falcon, its size is only about 45 to 60 centimeters, the female northern goshawk falcon is between 55 and 70 centimeters, it weighs 550 grams From 1400 grams, the weight of the female is higher than the male. The spread of wings of northern goshawk falcon can be anywhere from 85 to 105 centimeters, whereas females have wings spread from 100 centimeters to 125 centimeters. The length of the tail is between 18 to 28 centimeters. The wings of the Northern goshawk are small and strong, so that they get fast speed, they have a long question that they can turn them into doing acrobatics and immediately after hunting , So that they can easily fly between the trees in the forests at a fast pace. The best way to identify the Northern goshawk is to find browns found on the whole body C is the stripes of c, which are made on its white stomach and are visible from a distance. The scientific classification of the northern bird bird of northern state goshawk has been classified as the Northern Goshawk scientific classification. Common Name – Northern goshawk, Zoological Name – Accipiter gentilis , Kingdom – Animalia, Phylum – Chordata, Class – Aves, Order – Accipitriformes, Family – Accipitridae, Genus – Accipiter Where is the state bird of northern India known as Northern goshawk? Residential areas of Northern goshawk are spread all over the world, mainly This answer Ri America Europe is found in North Asia, it is also found in the forests of western Canada, Tennessee and South Arizona states, Mexico, Central Europe, and the forests found near the Himalayas. Accommodation and behavior of Northern goshawk Like to live in dense forests, where the other hikes to live in hilly and plains, this falcon is found more in thick forests with thick trees, From the forest where there are tall high trees and a place to be hunted, it can be seen at such places. Mainly this falcon is found in high areas, it travels in the lower regions during the freezing weather, during this time it is during the breeding period Much noise makes male and female different sounds, their voice is like “ki ki ki” and “kak kak”, mostly seen in joints. To mate. Like all types of appetites, this Northern goshawk falcon is also carnivorous, it hunts many small species of mammalian creatures, reptiles etc., it can fly very fast in dense forests and can hunt, often to find prey It flies on top of the forest. When a victim appears, it suddenly dives and falls into the bushes, it can speed up to 50 to 60 kilometers per hour. The reproduction season takes place in the months of March to June, making its nest on tall trees grown on the edges of the forest, their slices can often be seen on the trees located on the edge of the forests and crew on the edge of the forest. Its nest makes it with straws and leaves, it gives two to four eggs at one go, its egg color is white with blue color, mostly egging the eggs Sometimes, when a female goes on hunting, the male also does the job of egg harvesting, these eggs come out in 30 to 38 days, when these children become 36 to 42 days then they start to fly. These children are completely independent when they are three to four months and learn to hunt. The lifespan of these birds is 10 to 12 years. The state bird of Punjab, state bird of Punjab, punjab ka rajy pakshi, Northern goshawk in hindi, Northern goshawk,


Hinglish article

panjaab ka raajy pakshee northairn goshawk baaz

statai bird of punjab in hindi panjaab ke raajy pakshee kee jaanakaaree panjaab ka raajy pakshee northairn goshawk baaz hai, yah ek chhote aakaar ka dhaareedaar baaz hota hai,  isaka aakaar keval 45 se 60 senteemeetar ke beech hota hai maada northairn goshawk baaz ka aakaar 55 se 70 senteemeetar ke beech hota hai,  vajan mein yah 550 graam se lekar 1400 graam tak ka hota hai maada ka vajan nar se adhik hota hai.nar northairn goshawk baaz ke pankhon ka phailaav 85 se 105 senteemeetar tak ho sakata hai jabaki maada ke pankhon ka phailaav 100 senteemeetar se lekar 125 senteemeetar tak hota hai inakee poonchh kee lambaee 18 se 28 senteemeetar ke beech hotee hai.northairn goshawk ke pankh chhote aur majaboot hote hain, jisase ki inhen turant tej gati mil jaatee hai, inakee ek lambee poochh hotee hai jo ki inhen kalaabaajiyaan karane mein aur shikaar karate samay turant mudane mein sahaayata pradaan karatee hai, jisase ki ye jangalon mein vrkshon ke beech aasaanee se tej gati se ud sakate hain.northairn goshawk  ko pahachaanane ka sabase achchha tareeka is ke  poore shareer par pae jaane vaale bhoore rang kee dhaariyaan hai jo ki isake saphed pet par banee hotee hain aur door se hee najar aatee hain.panjaab raajy ke raajy pakshee northairn goshawk baaz ka vaigyaanik vargeekarananorthairn goshawk  vaigyaanik vargeekaran is prakaar kiya gaya haichommon namai – northairn goshawk, zoologichal namai – achchipitair gaintilis, kingdom – animali ,phylum – chhordat, chlass – avais, ordair – achchipitriformais, family – achchipitridaai, gainus – achchipitairpanjaab ka raajy pakshee northairn goshawk  kahaan paaya jaata hai?northairn goshawk  ke aavaaseey ilaake lagabhag saaree duniya mein phaile hue hain, mukhy roop se yah uttaree amerika yoorop uttaree eshiya mein paaya jaata hai, yah pashchimee kanaada amerika ke tenesee aur sauth ereejona raajyon, maiksiko, madhy yoorop ke jangalon mein tatha himaalay ke aas paas pae jaane vaale jangalon mein bhee paaya jaata hai.northairn goshawk ka aavaas aur vyavahaarayah baaz ghane jangalon mein rahana pasand karata hai, jahaan doosare baaj pahaadee aur maidaanee ilaakon mein rahana pasand karate hain yah baaz ghane pedon vaale jangalon mein  adhik paaya jaata hai, aise jangal jahaan oonche oonche ped ho tatha thodee shikaar karane kee jagah ho aise sthaanon par ise dekha ja sakata haimukhyatah yah baaz oonche ilaakon mein paaya jaata hai, thand ke mausam mein yah nichale ilaakon mein pravaas kar jaata hai,  prajanan kaal ke dauraan yah pakshee kaaphee shor karate hain nar aur maada alag alag tarah kee aavaaj nikaalate hain inakee aavaaj “kee kee kee”  aur “kaak kaak” kee tarah hotee hai,jyaadaatar yah jodon mein dekhe jaate hain yah jeevan paryant ke lie joda banaate hain. sabhee prakaar ke baajon kee tarah yah northairn goshawk baaz bhee maansaahaaree hai,  yah kaee chhote parindon stanadhaaree praaniyon sareesrp aadi ka shikaar karata hai, yah ghane jangalon mein kaaphee tej gati se ud sakata hai tatha shikaar kar sakata hai, aksar shikaar khojane ke lie yah jangalon ke oopar udata rahata hai shikaar dikh jaane par yah achaanak se gota laga deta hai tatha jhaadiyon mein aakar gir jaata hai, isakee gati 50 se 60  kilomeetar prati ghanta tak ho sakatee hai.northairn goshawk baaz ka prajanan kaal maarch se joon ke maheene mein hota hai,  yah apana ghonsala jangal ke kinaaron par uge hue oonche pedon par banaata hai inake ghosale aksar jangal ke kinaare par sthit pedon aur dal dal ke kinaare par sthit pedon par dekhe ja sakate hain.northairn goshawk apana ghonsala tinakon aur pattiyon se banaata hai, yah ek baar mein do se chaar ande deta hai,  isake andon ka rang neelaapan lie hue saphed hota hai, ande sene ka kaary jyaadaatar maada hee karatee hai kabhee-kabhee jab maada shikaar par jaatee hai tab nar bhee ande sene ka kaam karata hai,  in andon se 30 se 38 din mein bachche nikal aate hain, jab yah bachche 36 se 42 din ke ho jaate hain to yah udana praarambh karate hain, 3 se chaar maheene ka hone par yah bachche pooree tarah svatantr ho jaate hain tatha shikaar karana seekh jaate hain. in pakshiyon ka jeevan kaal 10 se 12 varsh ka hota hai.panjaab ka raajy pakshee, statai bird of punjab, punjab ka rajy pakshi,  northairn goshawk in hindi, northairn goshawk,

क्या भारत से प्रवासी पक्षी  दूसरे देशों में जाते हैं? migratory birds from india in hindi

Great Indian Hornbill in hindi, Great Indian Hornbill ki jankari, essay on Great Indian Hornbill, indian hornbill in hindi, hornbill pakshi, bhartiy hornbill pakshi,

क्या कोई एसा पक्षी है जो भारत से दूसरे देशों में प्रवास करता हो? migratory birds from india in hindi

वैज्ञानिकों के अनुसार ऐसा कोई भी पक्षी नहीं है जो कि भारत से दूसरे देश में प्रवास करता  हो, विश्व भर से प्रवासी पक्षी भारत में उड़कर आते हैं परंतु एक भी पक्षी की प्रजाति है ऐसी नहीं है जो कि भारतीय मूल की हो और दूसरे देश में प्रवास के लिए जाती हो There is no migratory birds from india to another country.

क्यों कोई पक्षी की प्रजाति भारत से दूसरे देश में प्रवास नहीं करती है? migratory birds from india

यह आश्चर्य की बात है कि भारत में एक भी ऐसे प्रकार के पक्षी की प्रजाति नहीं पाई जाती है जो कि उड़कर दूसरे देशों में प्रवास पर जाती हो, सामान्यतः देखा जाता है कि मौसम बदलने पर, अत्यधिक ठंड पड़ने या अत्यधिक गर्मी पड़ने पर पक्षी एक स्थान को छोड़कर दूसरे स्थान पर चले जाते हैं, जहां का मौसम अच्छा होता है, इसे प्रवास करना कहते हैं,  विश्व भर में प्रवासी पक्षी पाए जाते हैं, यह साल भर एक ही स्थान पर जीवन व्यतीत नहीं करते हैं, बल्कि मौसम बदलने पर, उड़कर दूसरे देशों में चले जाते हैं. भारत में भी लाखों की संख्या में प्रवासी पक्षी आते हैं, परंतु भारत से एक भी पक्षी उड़ कर दूसरे देश पर प्रवास नहीं करता है इसके पीछे क्या कारण है?

पक्षियों के इस व्यहवार के पीछे कई  भौगोलिक कारण हो सकते हैं, भारत दो तरफ से हिंद महासागर से घिरा हुआ है,  भारत की समुद्र तट रेखा विशाल है, भारत में पर्याप्त मात्रा में उष्णकटिबंधीय जंगल पाए जाते हैं, इसलिए पाखी  इन जंगलों को छोड़कर समुद्र की तरफ क्यों प्रवास करेंगे,

Indian paradise flycatcher in hindi, doodhraj pakshi, sultana bulbul, state bird of MP, State bird of madhya pradesh, madhya pradesh state bird, mp state bird, madhya pradesh ka rajy pakshi, mp rajy pakshi,

Loading...

पक्षियों के इस व्यवहार के पीछे दूसरा कारण यह हो सकता है कि भारत के उत्तर में विशाल हिमालय है  यहां वर्ष भर भयानक ठंड पड़ती है इस हिमालय को पार कर दूसरी ओर जाना पक्षियों के लिए लगभग असंभव है, भारत के पश्चिमी इलाके में थार मरुस्थल है जो कि अत्यधिक गर्म  है, इस भयंकर मरुस्थल को पार कर दूसरी ओर जाना भी पक्षियों के लिए असंभव है, यह दो मुख्य कारण पक्षियों का यह निर्धारित करते हैं कि वे भारत छोड़कर किसी दूसरे देश में प्रवास नहीं करते.

भारत में ना तो अधिक गर्मी बढ़ती है और ना ही अधिक ठंड  यही कारण है कि यह मौसम पक्षियों के लिए अनुकूल है इसलिए वे भारत के जंगलों में ही अपना स्थान बदलते रहते हैं प्रवास करते रहते हैं तथा भारत छोड़कर किसी दूसरे स्थान पर प्रवास नहीं सकते.

Migratory birds from India, bharat se pravasi pakshi, bharat ke pravasi pakshi, kya bharat se udkar pakshi,


English translation

Does migratory birds from India go to other countries? migratory birds from india in hindi

Is there a bird that travels from India to other countries? migratory birds from india in hindi

According to the scientists, there is no such bird which migrates from India to other countries, migratory birds from all over the world fly in India, but there is no such species of birds which are of Indian origin and in other countries Go for migration; there is no migratory birds from India to another country

Why does not a bird species migrate from India to another country? migratory birds from india

It is surprising that there is no single type of bird species found in India which fly and travel to other countries, it is commonly seen that when the weather is changed, due to excessive freezing or excessive heat, Leave the place to the second place, where the weather is good, it is said to migrate, migratory birds are found around the world, it is only one place throughout the year. Do not live, but changing weather, fly go into other countries. There are also millions of migratory birds in India, but one bird from India does not fly and travel to another country. What is the reason behind this? There can be many geographical reasons behind this person of birds, India from two sides Surrounded by the Indian Ocean, India’s coastline is vast, India has sufficient quantity of tropical jungle, therefore, leaving these forests to the sea The second reason behind this behavior of birds will be that, there is a huge Himalayas in the north of India. There is a terrible cold throughout the year. It is almost impossible for birds going on the other side of the Himalayas, the western part of India In the Thar Desert which is extremely hot, crossing this horrid desert and going to the other side is also impossible for the birds, this is the main reason for birds to determine They are not that they leave India and do not migrate to any other country. In India, neither more heat gets increased nor more cold is the reason that this weather is favorable for birds, so they keep changing their place in the forests of India. Keep traveling and can not leave India and move to another place. Migratory birds from India, India’s prakash pakshi, India’s pravasi pakshi, which is India’s udkar pakshi,


Hinglish 

kya bhaarat se pravaasee pakshee  doosare deshon mein jaate hain?

migratory birds from indi in hindi kya koee esa pakshee hai jo bhaarat se doosare deshon mein pravaas karata ho? migratory birds from indi in hindi vaigyaanikon ke anusaar aisa koee bhee pakshee nahin hai jo ki bhaarat se doosare desh mein pravaas karata  ho, vishv bhar se pravaasee pakshee bhaarat mein udakar aate hain parantu ek bhee pakshee kee prajaati hai aisee nahin hai jo ki bhaarateey mool kee ho aur doosare desh mein pravaas ke lie jaatee ho thairai is no migratory birds from indi to anothair chountry. kyon koee pakshee kee prajaati bhaarat se doosare desh mein pravaas nahin karatee hai? migratory birds from indi yah aashchary kee baat hai ki bhaarat mein ek bhee aise prakaar ke pakshee kee prajaati nahin paee jaatee hai jo ki udakar doosare deshon mein pravaas par jaatee ho, saamaanyatah dekha jaata hai ki mausam badalane par, atyadhik thand padane ya atyadhik garmee padane par pakshee ek sthaan ko chhodakar doosare sthaan par chale jaate hain, jahaan ka mausam achchha hota hai, ise pravaas karana kahate hain,  vishv bhar mein pravaasee pakshee pae jaate hain, yah saal bhar ek hee sthaan par jeevan vyateet nahin karate hain, balki mausam badalane par, udakar doosare deshon mein chale jaate hain. bhaarat mein bhee laakhon kee sankhya mein pravaasee pakshee aate hain, parantu bhaarat se ek bhee pakshee ud kar doosare desh par pravaas nahin karata hai isake peechhe kya kaaran hai?pakshiyon ke is vyahavaar ke peechhe kaee  bhaugolik kaaran ho sakate hain, bhaarat do taraph se hind mahaasaagar se ghira hua hai,  bhaarat kee samudr tat rekha vishaal hai, bhaarat mein paryaapt maatra mein ushnakatibandheey jangal pae jaate hain, isalie paakhee  in jangalon ko chhodakar samudr kee taraph kyon pravaas karenge,pakshiyon ke is vyavahaar ke peechhe doosara kaaran yah ho sakata hai ki bhaarat ke uttar mein vishaal himaalay hai  yahaan varsh bhar bhayaanak thand padatee hai is himaalay ko paar kar doosaree or jaana pakshiyon ke lie lagabhag asambhav hai, bhaarat ke pashchimee ilaake mein thaar marusthal hai jo ki atyadhik garm  hai, is bhayankar marusthal ko paar kar doosaree or jaana bhee pakshiyon ke lie asambhav hai, yah do mukhy kaaran pakshiyon ka yah nirdhaarit karate hain ki ve bhaarat chhodakar kisee doosare desh mein pravaas nahin karate.bhaarat mein na to adhik garmee badhatee hai aur na hee adhik thand  yahee kaaran hai ki yah mausam pakshiyon ke lie anukool hai isalie ve bhaarat ke jangalon mein hee apana sthaan badalate rahate hain pravaas karate rahate hain tatha bhaarat chhodakar kisee doosare sthaan par pravaas nahin sakate. migratory birds from indi, bharat sai pravasi pakshi, bharat kai pravasi pakshi, ky bharat sai udkar pakshi,

 

1200 प्रकार के पक्षी देखे जा सकते हैं भारत के पक्षी अभ्यारण्यों में

Hystory of Bharatpur Bird Sanctuary hindi, History of Keoladeo National park hindi, bharatpur bird sanctuary history, bharatpur history, bharatpur park history, Bharatpur pakshi Udyan ka itihas, bharatpur ka itihas, keoladeo park ka itihas

भारत के पक्षी अभ्यारण्य Bird sanctuaries of India in hindi

भारत के विविध वन क्षेत्र कई सुंदर रंग-बिरंगे परिंदों का  आवास स्थल है, भारत के घने जंगलों में सदियों से कई प्रकार के पशु पक्षी पाए जाते हैं, भारत का मौसम पक्षियों के अनुकूल है, सर्दियों में यहां अत्यधिक ठंड नहीं पड़ती जितनी की यूरोप और उत्तरी एशिया और अमेरिका में होती है, इसीलिए ठंडे इलाकों से पक्षी प्रवास करके भारत आ जाते हैं, भारत के पक्षी अभयारण्य Bird sanctuary में हजारों प्रकार के पक्षी देखे जा सकते हैं इनमें से कुछ तो भारतीय मूल के पक्षी है, जो वर्ष भर भारत में ही रहते हैं तथा कई पक्षी ऐसे हैं जो कि प्रवासी पक्षी हैं और भारत में केवल 3 से 4 महीने ही गुजारते हैं, इन सुंदर पक्षियों को देखने के लिए बर्ड सेंचुरी Bird sanctuary में पक्षी प्रेमियों और बर्ड वाचर दुनिया भर से आते रहते हैं.

Ranthambhor in hindi, birds in ranthambhor in hindi, birds of ranthambhro in hindi, ranthambhor birds hindi, hindi essay on ranthambhor, Ranthambhor animals hindi, ranthambhor repltiles hindi, Ranthambhor kya he, Ranthambhor kaha he

भारत के सुंदर पक्षियों में भारतीय मोर, ग्रेट इंडियन बस्टर्ड, भारतीय हॉर्नबिल, किंगफिशर पक्षी, भारतीय बाज़ आदि शामिल है, भारतीय हॉर्नबिल पक्षी सभी प्रकार के हार्नबिल पक्षियों में सबसे बड़ा होता है यह भारत के पश्चिमी घाट के जंगल में पाया जाता है विज्ञान के अनुसार भारत में 1200 पक्षियों की प्रजातियां पाई जाती है.

पक्षी अक्सर पानी के आस पास पाए जाते हैं  यही कारण है की नदियों, झीलों और तालाबों के आसपास पक्षियों की भारी संख्या देखने को मिलती है, इस प्रकार के क्षेत्रों को भारत सरकार ने पक्षी अभयारण्य घोषित कर दिया है जिसे की बोर्ड सेंचुरी कहते हैं भारत के विभिन्न राज्यों में कई Bird sanctuary पक्षी अभयारण्य है, यह पक्षी अभयारण्य भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा सुरक्षित क्षेत्र होते हैं इन क्षेत्रों में पशु पक्षियों के शिकार पर पाबंदी होती है तथा जंगलों की कटाई और भवन निर्माण पर भी प्रतिबंध रहता है, यह पक्षी अभयारण्य भारतीय मूल निवासी पक्षियों और प्रवासी पक्षियों के लिए स्वर्ग के समान है, नीचे हम भारत में स्थित सभी पक्षी अभयारण्य की सूची प्रस्तुत करें कर रहे हैं,  अगर आप एक पक्षी प्रेमी हैं तो अपने नजदीक के पक्षी अभयारण्य में जाकर रंग-बिरंगे पक्षियों को आसानी से देख सकते हैं.

भारत के पक्षी अभ्यारण्यों की सूचि List of Bird sanctuaries of India

surkhab in hindi, chakwa in hindi, surkhab pakshi, chakwa pakshi, surkhab ki jankari, surkhab pakshi kesa hota he, chakwa pakshi ki jankari, surkhab bird,

Loading...

1 Atapaka Bird Sanctuary Andhra Pradesh

2 Nelapattu Bird Sanctuary Andhra Pradesh

3 Pulicat Lake Bird Sanctuary Andhra Pradesh

4 Sri Penusila Narasimha Wildlife Sanctuary Andhra Pradesh

5 Uppalapadu Bird Sanctuary Andhra Pradesh

6 Najafgarh drain bird sanctuary Delhi

7 Salim Ali Bird Sanctuary Goa

8 Gaga Wildlife Sanctuary Gujarat

9 Khijadiya Bird Sanctuary Gujarat

10 Kutch Bustard Sanctuary Gujarat

11 Nal Sarovar Bird Sanctuary Gujarat

12 Porbandar Bird Sanctuary Gujarat

13 Thol Lake Gujarat

14 Bhindawas Wildlife Sanctuary Haryana

15 Khaparwas Wildlife Sanctuary Haryana

16 Sultanpur Bird Sanctuary Haryana

17 Gamgul Himachal Pradesh

18 Attiveri Bird Sanctuary Karnataka

19 Bankapura Karnataka

20 Bankapura Peacock Sanctuary Karnataka

21 Bonal Bird Sanctuary Karnataka

21 Gudavi Bird Sanctuary Karnataka

22 Kaggaladu Karnataka

23 Kaggaladu Bird Sanctuary Karnataka

24 Magadi Bird Sanctuary Karnataka

25 Mandagadde Bird Sanctuary Karnataka

26 Puttenahalli Lake (Yelahanka) Karnataka

27 Ranganathittu Bird Sanctuary Karnataka

28 Kadalundi Bird Sanctuary Kerala

29 Kumarakom Bird Sanctuary Kerala

30 Mangalavanam Bird Sanctuary Kerala

31 Pathiramanal Kerala

32 Thattekad Bird Sanctuary Kerala

33 Mayani Bird Sanctuary Maharashtra

34 Karnala Bird Sanctuary Maharashtra

35 Great Indian Bustard Sanctuary Maharashtra

36 Lengteng Wildlife Sanctuary Mizoram

37 Chilika Lake Odisha

38 Keoladeo National Park Rajasthan

39 Tal Chhapar Sanctuary Rajasthan

40 Chitrangudi Bird Sanctuary Tamil Nadu

41 Kanjirankulam Bird Sanctuary Tamil Nadu

42 Koothankulam Bird Sanctuary Tamil Nadu

43 Suchindram Theroor Birds Sanctuary Tamil Nadu

44 Udayamarthandapuram Bird Sanctuary Tamil Nadu

45 Vedanthangal Bird Sanctuary Tamil Nadu

46 Vellode Birds Sanctuary Tamil Nadu

47 Vettangudi Bird Sanctuary Tamil Nadu

48 Bakhira Sanctuary Uttar Pradesh

49 Lakh Bahosi Sanctuary Uttar Pradesh

50 Nawabganj Bird Sanctuary Uttar Pradesh

51 Okhla Sanctuary Uttar Pradesh

52 Patna Bird Sanctuary Uttar Pradesh

53 Saman Sanctuary Uttar Pradesh

54 Samaspur Sanctuary Uttar Pradesh

55 Bird Sanctuary Uttar Pradesh

56 Surajpur Bird Sanctuary Uttar Pradesh

57 Chintamoni Kar Bird Sanctuary West Bengal

58 Raiganj Wildlife Sanctuary West Bengal

59 Thasrana Bird Sanctuary (Dhanauri Wetlands) Uttar Pradesh

60 Wachana Bird Sanctuary Gujarat

Bird sanctuary in hindi, hindi essay on bird sanctuary, pakshi abhyarany, list of bird sanctuaries of india, bird sanctuaries of india in hindi, indian bird sanctuaries, bharat me bird sanctuary,  


English translation

Birds of 1200 can be seen in bird sanctuaries of India

Bird sanctuary of India Bird sanctuaries of India

India’s diverse forest areas are the home of many beautiful colorful birds, many species of animals are found in the dense forests of India for centuries, India’s weather is favorable to birds, it does not get much cold in winter as it is in Europe And is in North Asia and America, hence migrating birds from cold areas to India, Bird Sanctuary of India has thousands of types of birds in Bird sanctuary Some of these may be birds of Indian origin, which remain in India throughout the year and there are many birds which are migratory birds and spend only 3 to 4 months in India, to see these beautiful birds Birds and bird watchers are coming from around the world in bird sanctuary bird sanctuary. The beautiful birds of India include Indian peafowl, Great Indian Bustard, Indian Hornbill, Kingfisher Bird, Indian Falcon etc. Indian hornbill bird is the largest of all types of Hornbill birds, it is found in the forest of Western Ghats of India According to science, species of 1200 birds are found in India. Birds are often found around the water. This is the reason that the huge number of birds is seen around the rivers, lakes and ponds; Such areas have been declared by the Indian government as a bird sanctuary, which is called the Board Century, India There are many Bird sanctuary bird sanctuaries in various states, this bird sanctuary is protected areas by the Government of India and the State Government. The hunting of animal birds is banned and restrictions on forest cutting and building construction are also prohibited, this bird sanctuary is similar to paradise for native Indian birds and migratory birds, below we present a list of all bird sanctuaries located in India. If you are a bird lover then you can easily see colorful birds by going to the bird sanctuary near you. List of bird sanctuaries of India
List of Bird sanctuaries of India1

Atapaka Bird Sanctuary Andhra Pradesh3 Nelapattu Bird Sanctuary Andhra Pradesh3 Pulicat Lake Bird Sanctuary Andhra Pradesh4 Sri Penusila Narasimha Wildlife Sanctuary Andhra Pradesh5 Uppalapadu Bird Sanctuary Andhra Pradesh6 Najafgarh drain bird sanctuary Delhi7 Salim Ali Bird Sanctuary Goa8 Gaga Wildlife Sanctuary Gujarat9 Khijadiya Bird Sanctuary Gujarat10 Kutch Bustard Sanctuary Gujarat11 Nal Sarovar Bird Sanctuary Gujarat12 Porbandar Bird Sanctuary Gujarat13 Thol Lake Gujarat 14 Bhindawas Wildlife Sanctuary Haryana15 Khaparwas Wildlife Sanctuary Haryana16 Sultanpur Bird Sanctuary Haryana 17 Gamgul Himachal Pradesh 18 Attiveri Bird Sanctuary Karnataka19 Bankapur Karnataka Bankakura Peacock Sanctuary Karnataka 21 Bonal Bird Sanctuary Karnataka21 Gudavi Bird Sanctuary Karnataka 22 Kaggaladu Karnataka 23 Kaggaladu Bird Sanctuary Karnataka24 Magadi Bird Sanctuary Karnataka25 Mandagadde Bird Sanctuary Karnataka 26 Puttenahalli Lake (Yelahanka) Karnataka27 Ranganathittu Bird Sanctuary Karnatak a28 Kadalundi Bird Sanctuary Kerala29 Kumarakom Bird Sanctuary Kerala 30 Mangalavanam Bird Sanctuary Kerala31 Pathiramanal Kerala32 Thattekad Bird Sanctuary Kerala33 Mayani Bird Sanctuary Maharashtra34 Karnala Bird Sanctuary Maharashtra35 Great Indian Bustard Sanctuary Maharashtra36 Lengteng Wildlife Sanctuary Mizoram37 Chilika Lake Odisha38 Keoladeo National Park Rajasthan39 Tal Chhapar Sanctuary Rajasthan40 Chitrangudi Bird Sanctuary Tamil Nadu 41 Kanjirankulam Bird Sanctuary Tamil Nadu42 Koothankulam Bird Sanctuary Tamil Nadu 43 Suchindram Theroor Birds Sanctuary Tamil Nadu 44 Udayamarthandapuram Bird Sanctuary Tamil Nadu45 Vedanthangal Bird Sanctuary Tamil Nadu46 Vellode Birds Sanctuary TamilNadu47 Vettangudi Bird Sanctuary Tamil Nadu48 Bakhira Sanctuary Uttar Pradesh 49 Lakh Bahosi Sanctuary Uttar Pradesh50 Nawabganj Bird Sanctuary Uttar Pradesh51 Okhla Sanctuary Uttar Pradesh52 Patna Bird Sanctuary Uttar Pradesh53 Saman Sanctuary Uttar Pradesh54 Samaspur Sanctuary Uttar Pradesh55 Bir d Sanctuary Uttar Pradesh56 Surajpur Bird Sanctuary Uttar Pradesh57 Chintamoni Kar Bird Sanctuary West Bengal58 Raiganj Wildlife Sanctuary West Bengal 59 Thasrana Bird Sanctuary (Dhanauri Wetlands) Uttar Pradesh60 Wachana Bird Sanctuary GujaratBird sanctuary in hindi, hindi on bird sanctuary, pakshi abhyarany, list of bird sanctuaries of India, bird sanctuaries of india in hindi, indian bird sanctuaries, India bird sanctuary,


Hinglish

1200 prakaar ke pakshee dekhe ja sakate hain bhaarat ke pakshee abhyaaranyon mein

bhaarat ke pakshee abhyaarany bird sanchtuariais of indi in hindi

bhaarat ke vividh van kshetr kaee sundar rang-birange parindon ka  aavaas sthal hai, bhaarat ke ghane jangalon mein sadiyon se kaee prakaar ke pashu pakshee pae jaate hain, bhaarat ka mausam pakshiyon ke anukool hai, sardiyon mein yahaan atyadhik thand nahin padatee jitanee kee yoorop aur uttaree eshiya aur amerika mein hotee hai, iseelie thande ilaakon se pakshee pravaas karake bhaarat aa jaate hain, bhaarat ke pakshee abhayaarany bird sanchtuary mein hajaaron prakaar ke pakshee dekhe ja sakate hain inamen se kuchh to bhaarateey mool ke pakshee hai, jo varsh bhar bhaarat mein hee rahate hain tatha kaee pakshee aise hain jo ki pravaasee pakshee hain aur bhaarat mein keval 3 se 4 maheene hee gujaarate hain, in sundar pakshiyon ko dekhane ke lie bard senchuree bird sanchtuary mein pakshee premiyon aur bard vaachar duniya bhar se aate rahate hain.bhaarat ke sundar pakshiyon mein bhaarateey mor, gret indiyan bastard, bhaarateey hornabil, kingaphishar pakshee, bhaarateey baaz aadi shaamil hai, bhaarateey hornabil pakshee sabhee prakaar ke haarnabil pakshiyon mein sabase bada hota hai yah bhaarat ke pashchimee ghaat ke jangal mein paaya jaata hai vigyaan ke anusaar bhaarat mein 1200 pakshiyon kee prajaatiyaan paee jaatee hai. pakshee aksar paanee ke aas paas pae jaate hain  yahee kaaran hai kee nadiyon, jheelon aur taalaabon ke aasapaas pakshiyon kee bhaaree sankhya dekhane ko milatee hai, is prakaar ke kshetron ko bhaarat sarakaar ne pakshee abhayaarany ghoshit kar diya hai jise kee bord senchuree kahate hain bhaarat ke vibhinn raajyon mein kaee bird sanchtuary pakshee abhayaarany hai, yah pakshee abhayaarany bhaarat sarakaar evan raajy sarakaar dvaara surakshit kshetr hote hain in kshetron mein pashu pakshiyon ke shikaar par paabandee hotee hai tatha jangalon kee kataee aur bhavan nirmaan par bhee pratibandh rahata hai, yah pakshee abhayaarany bhaarateey mool nivaasee pakshiyon aur pravaasee pakshiyon ke lie svarg ke samaan hai, neeche ham bhaarat mein sthit sabhee pakshee abhayaarany kee soochee prastut karen kar rahe hain,  agar aap ek pakshee premee hain to apane najadeek ke pakshee abhayaarany mein jaakar rang-birange pakshiyon ko aasaanee se dekh sakate hain. bhaarat ke pakshee abhyaaranyon kee soochi list of bird sanchtuariais of india1 atapak bird sanchtuary andhr pradaish2 nailapattu bird sanchtuary andhr pradaish3 pulichat lakai bird sanchtuary andhr pradaish4 sri painusil narasimh wildlifai sanchtuary andhr pradaish5 uppalapadu bird sanchtuary andhr pradaish6 najafgarh drain bird sanchtuary dailhi7 salim ali bird sanchtuary goa8 gag wildlifai sanchtuary gujarat9 khijadiy bird sanchtuary gujarat10 kutchh bustard sanchtuary gujarat11 nal sarovar bird sanchtuary gujarat12 porbandar bird sanchtuary gujarat13 thol lakai gujarat14 bhindawas wildlifai sanchtuary haryana15 khaparwas wildlifai sanchtuary haryana16 sultanpur bird sanchtuary haryana17 gamgul himachhal pradaish18 attivairi bird sanchtuary karnataka19 bankapur karnataka20 bankapur paiachochk sanchtuary karnataka21 bonal bird sanchtuary karnataka21 gudavi bird sanchtuary karnataka22 kaggaladu karnataka23 kaggaladu bird sanchtuary karnataka24 magadi bird sanchtuary karnataka25 mandagaddai bird sanchtuary karnataka26 puttainahalli lakai (yailahank) karnataka27 ranganathittu bird sanchtuary karnataka28 kadalundi bird sanchtuary kairala29 kumarakom bird sanchtuary kairala30 mangalavanam bird sanchtuary kairala31 pathiramanal kairala32 thattaikad bird sanchtuary kairala33 mayani bird sanchtuary maharashtra34 karnal bird sanchtuary maharashtra35 graiat indian bustard sanchtuary maharashtra36 laingtaing wildlifai sanchtuary mizoram37 chhilik lakai odisha38 kaioladaio national park rajasthan39 tal chhhapar sanchtuary rajasthan40 chhitrangudi bird sanchtuary tamil nadu41 kanjirankulam bird sanchtuary tamil nadu42 koothankulam bird sanchtuary tamil nadu43 suchhindram thairoor birds sanchtuary tamil nadu44 udayamarthandapuram bird sanchtuary tamil nadu45 vaidanthangal bird sanchtuary tamil nadu46 vaillodai birds sanchtuary tamil nadu47 vaittangudi bird sanchtuary tamil nadu48 bakhir sanchtuary uttar pradaish49 lakh bahosi sanchtuary uttar pradaish50 nawabganj bird sanchtuary uttar pradaish51 okhl sanchtuary uttar pradaish52 patn bird sanchtuary uttar pradaish53 saman sanchtuary uttar pradaish54 samaspur sanchtuary uttar pradaish55 bird sanchtuary uttar pradaish56 surajpur bird sanchtuary uttar pradaish57 chhintamoni kar bird sanchtuary waist baingal58 raiganj wildlifai sanchtuary waist baingal59 thasran bird sanchtuary (dhanauri waitlands) uttar pradaish60 wachhan bird sanchtuary gujaratbird sanchtuary in hindi, hindi aissay on bird sanchtuary, pakshi abhyarany, list of bird sanchtuariais of indi, bird sanchtuariais of indi in hindi, indian bird sanchtuariais, bharat mai bird sanchtuary,

व्हाइट स्टोर्क पक्षी को बच्चों को लाते हुए क्यों दिखाया जाता है White stork bring babies

White stork hindi, white stork jankari, essay on white stork, story of white stork in hindi, white storks bring baby in hindi, white stork bring babies hindi, white stork national bird of which, white stork kis desh ka, white stork in india hindi,

व्हाइट स्टोर्क सफ़ेद स्टोर्क पक्षी के बारे में रोचक जानकारी

व्हाइट स्टोर्क सफेद स्टोर्क एक बहुत बड़े आकार का सुंदर पक्षी होता है, इसका वैज्ञानिक नाम Ciconia ciconia  यह स्टोर्क  Ciconiidae वर्ग का सदस्य है, व्हाइट स्टोर्क लिथुआनिया और बेलारूस देशों  का राष्ट्रीय पक्षी है. (नेशनल बर्ड ऑफ़ Lithuania और Belarus)

White stork hindi, white stork jankari, essay on white stork, story of white stork in hindi, white storks bring baby in hindi, white stork bring babies hindi, white stork national bird of which, white stork kis desh ka, white stork in india hindi,

इस विशालकाय पक्षी के पंख मुख्यतः सफेद और काले होते हैं,  व्हाइट स्टोर्क के लाल रंग के लंबे पैर होते हैं, इनकी चोंच भी लाल रंग की होती है, जो की बहुत तीखी होती है, इन पक्षियों का आकार  39 से 45 इंच के बीच होता है, यह उड़ने में बहुत दक्ष होते हैं यह काफी ऊंचाई पर उड़ते हैं इनके पंखों का फैलाव 61 से 85 इंच के बीच होता है.

 व्हाइट स्टोर्क की दो उपप्रजातियां पाई जाती है, इन उप प्रजातियों में आकार का अंतर होता है, यह पक्षी  एक प्रवासी पक्षी है जो की मौसम बदलने और अपने प्रजनन काल के समय में दूसरे स्थान पर प्रवास कर जाता है, अपने प्रजनन काल में यह यूरोप उत्तर पश्चिमी अफ्रीका दक्षिण पश्चिम एशिया तथा दक्षिण अफ्रीका में पाए जाते हैं.

  

Loading...

यह बहुत लंबी दूरी तक प्रवास करते हैं, सर्दियों के मौसम में यह अफ्रीका उड़  कर आ जाते हैं और यहां के सहारा के आस पास के जंगलों में पाए जाते हैं, कुछ व्हाइट स्टोर्क पक्षी उड़ कर  साउथ अफ्रीका की झीलों और तालाबों तक पहुंच जाते हैं, कजाकिस्तान से उड़कर कुछ पक्षी भारतीय उपमहाद्वीप की झीलों तालाबों पर भी प्रवास करते हैं.

यूरोप से अफ्रीका की तरफ प्रवास करते समय यह भूमध्य सागर के ऊपर उड़ान नहीं भरते हैं इनके इस व्यवहार का कारण  हवा का तापमान कम होना है, ठंडी हवा में यह पानी के ऊपर उड़ नहीं हो पाते हैं.

White stork hindi, white stork jankari, essay on white stork, story of white stork in hindi, white storks bring baby in hindi, white stork bring babies hindi, white stork national bird of which, white stork kis desh ka, white stork in india hindi,

White stork hindi, white stork jankari, essay on white stork, story of white stork in hindi, white storks bring baby in hindi, white stork bring babies hindi, white stork national bird of which, white stork kis desh ka, white stork in india hindi,

व्हाइट स्टोर्क एक सर्वाहारी पक्षी यह कई प्रकार के जानवरों का शिकार करता है इनमें कीट पतंगे मछलियां मेंढक सांप, छोटे  स्तनधारी प्राणी और छोटे पक्षी शामिल है, यह अपना शिकार ज्यादातर जमीन पर ही करता है, यह ऐसे इलाकों में रहना पसंद करता है जहां पेड़ पौधों की संख्या कम हो तथा आसपास पानी का स्रोत हो.

व्हाइट स्टोर्क एक मोनोगोमस पक्षी है यह लंबे समय के लिए जोड़ा बनाता है हालांकि यह जोड़ा जीवन भर के लिए नहीं होता, नर और मादा व्हाइट स्टोर्क पक्षी दोनों मिलकर बड़े तिनकों  का एक बहुत बड़े आकार का घोंसला बनाते हैं इस घोसले का उपयोग कई वर्षों तक किया जाता है, प्रतिवर्ष मादा इस घोसले में चार तक अंडे देती है, इन अन्डो से बच्चे 33 दिन बाद बाहर निकलते हैं, नर और मादा व्हाइट स्टोर्क पक्षी दोनों ही इन अंडों को गर्मी देने और सेने का काम करते हैं, अंडे से बच्चे निकलने के बाद नर व मादा दोनों ही उनका लालन-पालन करते है,

व्हाइट स्टोर्क के बच्चे 58 से 64 दिनों में उड़ने लायक हो जाते हैं उड़ना सीखने के 20 दिनों बाद तक इन्हें माता पिता द्वारा भोजन दिया जाता है इसके बाद यह अपना भोजन स्वयं खोजना सीख जाते हैं

व्हाइट स्टोर्क पक्षी को बच्चों को लाते हुए क्यों दिखाया जाता है?

व्हाइट स्टोर्क के बारे में मनोरंजक लोक कथा

अक्सर आपने बच्चों की कहानियां और किताबों में व्हाइट स्टोर्क पक्षी को छोटे बच्चे को अपनी चोंच में लाते हुए देखा होगा, यूरोप में इस बारे में एक मनोरंजक लोक कथा प्रचलित है, वहां के बच्चों को ऐसा बताया जाता है कि व्हाइट स्टोर्क पक्षी ही अपनी चोंच में नए बच्चों को लाकर माता पिता को देते हैं, और ऐसे ही नए  बच्चों का जन्म होता है, यह लोककथा यूरोप में काफी प्राचीन है 19वीं सदी के कहानी किस्सों और किताबों में यह अधिक प्रमुखता से इस्तेमाल की गई है,जर्मनी में इस लोक कथा में यह बात और जोड़ दी गई है कि व्हाइट स्टोर्क पक्षी को छोटे बच्चे बड़ी गुफाओं में मिलते हैं, जहां से यह उन्हें उठाकर माता पिता को दे देते हैं, ऐसा लगता है कि इस लोक कथा का जन्म बच्चों के इस प्रश्न का उत्तर देने के लिए हुआ होगा कि “बच्चों का जन्म कैसे होता है”? बच्चों को इस प्रश्न का उत्तर देने के लिए दादा दादी नाना नानी ने इस कहानी को गढ़ा होगा.

Tags – White stork hindi, white stork jankari, essay on white stork, story of white stork in hindi, white storks bring baby in hindi, white stork bring babies hindi, white stork national bird of which, white stork kis desh ka, white stork in india hindi,

विश्व के विभिन्न देशों के राष्ट्रिय पक्षी और उनके वैज्ञानिक नाम

all country national birds, राष्ट्रिय पक्षी, national bird ka naam, national bird konsa he, names of national birds, national birds name, all countries national bird names, rashtriy pakshiyon ke naam, sabhi deshon ke rashtriy pakshiyon ke naam

हर देश का एक राष्ट्रिय पक्षी हौता है

हर देश का एक झंडा होता है, एक राष्ट्रीय चिन्ह होता है, एक राष्ट्रीय गीत होता है, तथा एक  राष्ट्रीय पशु और एक राशि पक्षी भी होता है, हर देश अपनी संस्कृति और शक्ति को प्रदर्शित करने के लिए पशुओं और पक्षियों के प्रतीकों का उपयोग करते हैं जिस प्रकार भारत का राष्ट्रीय पक्षी मोर है जो कि भारत की विविध संस्कृतियों का प्रतीक है, इसी तरह विश्व के लगभग हर देश ने अपने राष्ट्रिय चिन्ह, पशु, पक्षी घोषित किये हैं, यहाँ हम आपके लिए विश्व के लगभग सभी देशों के राष्ट्रिय पक्षी नेशनल बर्ड के नाम प्रस्तुत कर रहे हैं साथ ही हम यहाँ उन राष्ट्रिय पक्षियों के वैज्ञानिक नाम भी दे रहे हैं ताकि आपको और अधिक जानकारी खोजने में आसानी हो, भविष्य में हम इन देशों के राष्ट्रिय पक्षियों के सुन्दर चित्र भी इस पेज पर अपडेट करेंगे. आइये जानते हैं की विश्व के विभिन्न देशों के राष्ट्रिय पक्षी कौन से हैं, किसी एक देश का नाम खोजने के लिए आप कंट्रोल + F key दबाकर सीधे उस देश के राष्ट्रिय पक्षी का नाम खोज सकते हैं.

राष्ट्रिय पक्षी और उनके वैज्ञानिक नाम

Angola का राष्ट्रिय पक्षी Red-crested turaco है इसका वैज्ञानिक नाम Tauraco erythrolophus है

Anguilla का राष्ट्रिय पक्षी Zenaida dove है इसका वैज्ञानिक नाम Zenaida aurita है

Antigua and Barbuda का राष्ट्रिय पक्षी Magnificent frigatebird है इसका वैज्ञानिक नाम Fregata magnificens है

Loading...

Argentina का राष्ट्रिय पक्षी Rufous hornero है इसका वैज्ञानिक नाम Furnarius rufus है

Aruba का राष्ट्रिय पक्षी “Prikichi” Brown-throated Parakeet है इसका वैज्ञानिक नाम aupsittula pertinax arubensis है

Australia का राष्ट्रिय पक्षी Emu है इसका वैज्ञानिक नाम Dromaius novaehollandiae है

Austria का राष्ट्रिय पक्षी Barn swallow है इसका वैज्ञानिक नाम Hirundo rustica है

***

B

Bahamas का राष्ट्रिय पक्षी American flamingo है इसका वैज्ञानिक नाम Phoenicopterus ruber है

Bahrain का राष्ट्रिय पक्षी Himalayan bulbul है इसका वैज्ञानिक नाम Pycnonotus leucogenys है

Bangladesh का राष्ट्रिय पक्षी Oriental magpie-robin है इसका वैज्ञानिक नाम Copsychus saularis है

Belarus का राष्ट्रिय पक्षी White stork है इसका वैज्ञानिक नाम Ciconia ciconia है

Belgium का राष्ट्रिय पक्षी Common kestrel है इसका वैज्ञानिक नाम Falco tinnunculus है

Belize का राष्ट्रिय पक्षी Keel-billed toucan है इसका वैज्ञानिक नाम Ramphastos sulfuratus है

Bermuda का राष्ट्रिय पक्षी Bermuda petrel है इसका वैज्ञानिक नाम Pterodroma cahow है

Bhutan का राष्ट्रिय पक्षी Common raven है इसका वैज्ञानिक नाम Corvus corax है

Bolivia का राष्ट्रिय पक्षी Andean condor है इसका वैज्ञानिक नाम Vultur gryphus है

Botswana का राष्ट्रिय पक्षी Kori bustard है इसका वैज्ञानिक नाम Ardeotis kori है

Brazil का राष्ट्रिय पक्षी Rufous-bellied thrush है इसका वैज्ञानिक नाम Turdus rufiventris है

British Virgin Islands का राष्ट्रिय पक्षी Mourning dove है इसका वैज्ञानिक नाम Zenaida macroura है

**

Bald eagle hindi, national bird of america, national bird of us, america ka rashtriya pakshi, ganja baaz, facts about bald eagle in hindi,

C

Cambodia का राष्ट्रिय पक्षी Giant ibis है इसका वैज्ञानिक नाम Thaumatibis gigantea है

Cayman Islands का राष्ट्रिय पक्षी Grand Cayman parrot है इसका वैज्ञानिक नाम Amazona leucocephala caymanensis है

Chile का राष्ट्रिय पक्षी Andean condor है इसका वैज्ञानिक नाम Vultur gryphus है

China का राष्ट्रिय पक्षी Red-crowned crane है इसका वैज्ञानिक नाम Grus japonensis है

Colombia का राष्ट्रिय पक्षी Andean condor है इसका वैज्ञानिक नाम Vultur gryphus है

Costa Rica का राष्ट्रिय पक्षी Clay-colored thrush है इसका वैज्ञानिक नाम Turdus grayi है

Croatia का राष्ट्रिय पक्षी Common nightingale है इसका वैज्ञानिक नाम Luscinia megarhynchos है

Cuba का राष्ट्रिय पक्षी Cuban trogon है इसका वैज्ञानिक नाम Priotelus temnurus है

***

D

Denmark का राष्ट्रिय पक्षी Mute swan है इसका वैज्ञानिक नाम Cygnus olor है

Dominica का राष्ट्रिय पक्षी Imperial amazon है इसका वैज्ञानिक नाम Amazona imperialis है

Dominican Republic का राष्ट्रिय पक्षी Palmchat है इसका वैज्ञानिक नाम Dulus dominicus है

***

E

Ecuador का राष्ट्रिय पक्षी Andean condor है इसका वैज्ञानिक नाम Vultur gryphus है

El Salvador का राष्ट्रिय पक्षी Turquoise-browed motmot है इसका वैज्ञानिक नाम Eumomota superciliosa है

Estonia का राष्ट्रिय पक्षी Barn swallow है इसका वैज्ञानिक नाम Hirundo rustica है

***

F

Faroe Islands का राष्ट्रिय पक्षी Eurasian oystercatcher है इसका वैज्ञानिक नाम Haematopus ostralegus है

Finland का राष्ट्रिय पक्षी Whooper swan है इसका वैज्ञानिक नाम Cygnus cygnus है

France का राष्ट्रिय पक्षी Gallic rooster है इसका वैज्ञानिक नाम Gallus gallus है

***

Hystory of Bharatpur Bird Sanctuary hindi, History of Keoladeo National park hindi, bharatpur bird sanctuary history, bharatpur history, bharatpur park history, Bharatpur pakshi Udyan ka itihas, bharatpur ka itihas, keoladeo park ka itihas

G

Germany का राष्ट्रिय पक्षी Golden eagle है इसका वैज्ञानिक नाम Aquila chrysaetos है

Gibraltar का राष्ट्रिय पक्षी Barbary partridge है इसका वैज्ञानिक नाम Alectoris barbara है

Greece का राष्ट्रिय पक्षी Little owl है इसका वैज्ञानिक नाम Athene noctua है

Grenada का राष्ट्रिय पक्षी Grenada dove है इसका वैज्ञानिक नाम Leptotila wellsi है

Guatemala का राष्ट्रिय पक्षी Resplendent quetzal है इसका वैज्ञानिक नाम Pharomachrus mocinno है

Guyana का राष्ट्रिय पक्षी Hoatzin है इसका वैज्ञानिक नाम Opisthocomus hoazin है

***

H

Haiti का राष्ट्रिय पक्षी Hispaniolan trogon है इसका वैज्ञानिक नाम Priotelus roseigaster है

Honduras का राष्ट्रिय पक्षी Scarlet macaw है इसका वैज्ञानिक नाम Ara macao है

Hungary का राष्ट्रिय पक्षी Saker falcon है इसका वैज्ञानिक नाम Falco cherrug है

***

I

Iceland का राष्ट्रिय पक्षी Gyrfalcon है इसका वैज्ञानिक नाम Falco rusticolus है

India का राष्ट्रिय पक्षी Indian peacock है इसका वैज्ञानिक नाम Pavo cristatus है

Indonesia का राष्ट्रिय पक्षी Javan hawk-eagle है इसका वैज्ञानिक नाम Nisaetus bartelsi है

Iran का राष्ट्रिय पक्षी Common nightingale है इसका वैज्ञानिक नाम Luscinia megarhynchos है

Iraq का राष्ट्रिय पक्षी Chukar partridge है इसका वैज्ञानिक नाम Alectoris chukar है

Ireland का राष्ट्रिय पक्षी Northern lapwing है इसका वैज्ञानिक नाम Vanellus vanellus है

Israel का राष्ट्रिय पक्षी Hoopoe है इसका वैज्ञानिक नाम Upupa epops है

Italy का राष्ट्रिय पक्षी Italian sparrow है इसका वैज्ञानिक नाम Passer italiae है

***

J

Jamaica का राष्ट्रिय पक्षी Doctor bird है इसका वैज्ञानिक नाम Trochilus polytmus है

Japan का राष्ट्रिय पक्षी Green pheasant है इसका वैज्ञानिक नाम Phasianus versicolor है

Jordan का राष्ट्रिय पक्षी Sinai rosefinch है इसका वैज्ञानिक नाम Carpodacus synoicus है

***

K

Kenya का राष्ट्रिय पक्षी Lilac-breasted roller है इसका वैज्ञानिक नाम Coracias caudatus है

***

L

Latvia का राष्ट्रिय पक्षी White wagtail है इसका वैज्ञानिक नाम Motacilla alba है

Liberia का राष्ट्रिय पक्षी Garden bulbul है इसका वैज्ञानिक नाम Pycnonotus barbatus है

Lithuania का राष्ट्रिय पक्षी White stork है इसका वैज्ञानिक नाम Ciconia ciconia है

Luxembourg का राष्ट्रिय पक्षी Goldcrest है इसका वैज्ञानिक नाम Regulus regulus है

***

M

Malta का राष्ट्रिय पक्षी Blue rock thrush है इसका वैज्ञानिक नाम Monticola solitarius है

Mexico का राष्ट्रिय पक्षी Golden eagle है इसका वैज्ञानिक नाम Aquila chrysaetos है

Mongolia का राष्ट्रिय पक्षी Saker falcon है इसका वैज्ञानिक नाम Falco cherrug है

Montserrat का राष्ट्रिय पक्षी Montserrat oriole है इसका वैज्ञानिक नाम Icterus oberi है

Myanmar का राष्ट्रिय पक्षी Grey peacock-pheasant है इसका वैज्ञानिक नाम Polyplectron bicalcaratum है

***

N

Namibia का राष्ट्रिय पक्षी African fish eagle है इसका वैज्ञानिक नाम Haliaeetus vocifer है

Nepal का राष्ट्रिय पक्षी Himalayan monal है इसका वैज्ञानिक नाम Lophophorus impejanus है

Netherlands का राष्ट्रिय पक्षी Black-tailed godwit है इसका वैज्ञानिक नाम Limosa limosa है

New Zealand का राष्ट्रिय पक्षी Kiwi है इसका वैज्ञानिक नाम Apteryx mantelli है

Nicaragua का राष्ट्रिय पक्षी Turquoise-browed motmot है इसका वैज्ञानिक नाम Eumomota superciliosa है

Nigeria का राष्ट्रिय पक्षी Black crowned crane है इसका वैज्ञानिक नाम Balearica pavonina है

North Korea का राष्ट्रिय पक्षी Northern goshawk है इसका वैज्ञानिक नाम Accipiter gentilis है

Norway का राष्ट्रिय पक्षी White-throated dipper है इसका वैज्ञानिक नाम Cinclus cinclus है

***

P

Pakistan का राष्ट्रिय पक्षी Chukar partridge है इसका वैज्ञानिक नाम Alectoris chukar है

Palestine का राष्ट्रिय पक्षी Palestine sunbird है इसका वैज्ञानिक नाम Cinnyris oseus है

Panama का राष्ट्रिय पक्षी Harpy eagle है इसका वैज्ञानिक नाम Harpia harpyja है

Papua New Guinea का राष्ट्रिय पक्षी Raggiana bird-of-paradise है इसका वैज्ञानिक नाम Paradisaea raggiana है

Paraguay का राष्ट्रिय पक्षी Bare-throated bellbird है इसका वैज्ञानिक नाम Procnias nudicollis है

Peru का राष्ट्रिय पक्षी Andean cock-of-the-rock है इसका वैज्ञानिक नाम Rupicola peruvianus है

Philippines का राष्ट्रिय पक्षी Philippine eagle है इसका वैज्ञानिक नाम Pithecophaga jefferyi है

Poland का राष्ट्रिय पक्षी White-tailed eagle है

Puerto Rico का राष्ट्रिय पक्षी Puerto Rican spindalis है इसका वैज्ञानिक नाम Spindalis portoricensis है

***

S

Saint Helena का राष्ट्रिय पक्षी Saint Helena plover है इसका वैज्ञानिक नाम Charadrius sanctaehelenae है

Saint Kitts and Nevis का राष्ट्रिय पक्षी Brown pelican है इसका वैज्ञानिक नाम Pelecanus occidentalis है

Saint Vincent and the Grenadines का राष्ट्रिय पक्षी St Vincent parrot है इसका वैज्ञानिक नाम Amazona guildingii है

Scotland का राष्ट्रिय पक्षी Golden eagle Aquila है इसका वैज्ञानिक नाम chrysaetos है

Serbia का राष्ट्रिय पक्षी Griffon vulture है इसका वैज्ञानिक नाम Gyps fulvus है

Singapore का राष्ट्रिय पक्षी Crimson sunbird है इसका वैज्ञानिक नाम Aethopyga siparaja है

South Africa का राष्ट्रिय पक्षी Blue crane है इसका वैज्ञानिक नाम Anthropoides paradisea है

Sri Lanka का राष्ट्रिय पक्षी Sri Lanka junglefowl है इसका वैज्ञानिक नाम Gallus lafayetii है

Swaziland का राष्ट्रिय पक्षी Purple-crested turaco है इसका वैज्ञानिक नाम Tauraco porphyreolophus है

Sweden का राष्ट्रिय पक्षी Common blackbird है इसका वैज्ञानिक नाम Turdus merula है

***

T

Thailand का राष्ट्रिय पक्षी Siamese fireback है इसका वैज्ञानिक नाम Lophura diardi है

Trinidad and Tobago का राष्ट्रिय पक्षी Scarlet ibis है इसका वैज्ञानिक नाम Eudocimus ruber है

***

U

Uganda का राष्ट्रिय पक्षी East African crowned crane है इसका वैज्ञानिक नाम Balearica regulorum gibbericeps है

Ukraine का राष्ट्रिय पक्षी White stork है इसका वैज्ञानिक नाम Ciconia ciconia

United Arab Emirates का राष्ट्रिय पक्षी Falcon है इसका वैज्ञानिक नाम Falco है

United Kingdom का राष्ट्रिय पक्षी European robin है इसका वैज्ञानिक नाम Erithacus rubecula है

United States का राष्ट्रिय पक्षी Bald eagle है इसका वैज्ञानिक नाम Haliaeetus leucocephalus है

Uruguay का राष्ट्रिय पक्षी Southern lapwing है इसका वैज्ञानिक नाम Vanellus chilensis है

***

V

Venezuela का राष्ट्रिय पक्षी Venezuelan troupial है इसका वैज्ञानिक नाम Icterus icterus है

***

W

Wales का राष्ट्रिय पक्षी Red Kite है इसका वैज्ञानिक नाम Milvus milvus है

***

Z

Zambia का राष्ट्रिय पक्षी African fish eagle है इसका वैज्ञानिक नाम Haliaeetus vocifer है

Zimbabwe का राष्ट्रिय पक्षी African fish eagle है इसका वैज्ञानिक नाम Haliaeetus vocifer है

*****

all country national birds, राष्ट्रिय पक्षी, national bird ka naam, national bird konsa he, names of national birds, national birds name, all countries national bird names, rashtriy pakshiyon ke naam, sabhi deshon ke rashtriy pakshiyon ke naam

 

 

 

Endogenous और Exogenous प्रोसेस में क्या होती हैं

इंडोजीनीयस और एक्सोजीनियस प्रक्रियाओं में अंतर

Endogenous and Exogenous processes  

पृथ्वी ग्रह का निर्माण कई भूगर्भीय प्रक्रियाओं और बलों के द्वारा किया गया है, कई प्रकार के बलों ने पृथ्वी के वर्तमान स्वरूप को आकार दिया है, इनमें से कुछ बल ऐसे हैं जो कि पृथ्वी के अंदर से उत्पन्न होते हैं तथा कुछ बल ऐसे हैं जो पृथ्वी की सतह के बाहर उत्पन्न होते हैं.

वह भूगर्भीय प्रक्रियाएं जो कि पृथ्वी के आंतरिक बलों से उत्पन्न होती है उन्हें इंडोजीनीयस प्रक्रिया कहा जाता है इसके ठीक विपरीत वह प्रक्रियाएं  जो कि बाहरी बलों से उत्पन्न होती है उन्हें एक्सोजीनियस प्रक्रियाएं कहा जाता है, इंडो का मतलब आंतरिक होता है यह एक प्रीफिक्स है, इसी प्रकार एक्सो का मतलब बाहरी होता है यह भी एक प्रीफिक्स है.

इस तरह हम कह सकते हैं कि पृथ्वी की आन्तरिक भूगर्भीय प्रक्रियाएं इंडोजीनीयस प्रक्रियाएं है तथा बाहरी बालो द्वारा उत्पन्न प्रक्रियाएं एक्सोजीनीयस प्रक्रियाएं हैं.

इंडोजीनीयस प्रक्रियाएं Endogenous processes

इंडोजीनीयस प्रक्रियाएं, Endogenous processes in hindi, एक्सोजीनीयस प्रक्रियाएं, Endogenous processes in hindi, geological processes in hindi

Loading...

पृथ्वी की तीन मुख्य आंतरिक भू गर्भीय  इंडोजीनीयस प्रक्रिया होती है इनके नाम,  फोल्डिंग, फॉल्टिंग और वोल्कानिक है यह सभी प्रक्रिया है पृथ्वी की सतह के टेक्टोनिक प्लेट्स के किनारों पर उत्पन्न होती हैं, टेक्टोनिक प्लेट्स का मुड़ना, टेक्टोनिक प्लेट्स का टकराना, तथा टेक्टोनिक प्लेट्स पर ज्वालामुखीयों का निर्माण यह सभी पृथ्वी की आंतरिक भूगर्भीय प्रक्रियाए है, यह सभी प्रक्रियाएं पृथ्वी के अंदर मौजूद बलों से उत्पन्न होती है, यह सभी इंडो जीनीयस प्रक्रियाए  पृथ्वी के रूप को बदल देती है, पृथ्वी की सतह का वर्तमान रूप इन्हीं प्रक्रियाओं द्वारा निर्धारित होता है.

एक्सोजीनीयस प्रक्रियाएं Endogenous processes

इंडोजीनीयस प्रक्रियाएं, Endogenous processes in hindi, एक्सोजीनीयस प्रक्रियाएं, Endogenous processes in hindi, geological processes in hindi

वहीं दूसरी ओर एक्सोजीनीयस बाहरी प्रक्रियाओं का मुख्य स्रोत पृथ्वी के बाहर स्थित होता है,  एक्सो जीनीयस प्रक्रिया का सबसे अच्छा उदाहरण पृथ्वी के चंद्रमा द्वारा समुद्र और बड़ी झीलों में ज्वार भाटा की लहरें उत्पन्न करना है, जिन्हें टाइडस Tides कहते हैं.

बाहरी अंतरिक्ष से धूमकेतु और छोटे उल्का पिंड आकर पृथ्वी पर गिरते हैं तथा पृथ्वी की सतह पर बड़े गड्ढे या क्रेटर का निर्माण करते हैं यह भी एक्सो जीनियस प्रक्रिया के उदाहरण है, ये क्रेटर बड़े और छोटे आकार के हो सकते हैं.

सूर्य से आने वाला विकिरण पृथ्वी के वायुमंडल में ओजोन परत का निर्माण करता है, तथा सूर्य से आने वाले आएनीत कण पृथ्वी के उत्तरी और दक्षिणी ध्रुव पर औरा नाम का प्रकाश उत्पन्न करते हैं इसे नॉर्दन लाइट कहां जाता है यह भी एक एक्सोजीनीयस प्रक्रिया का उदाहरण है.

कुछ एक्सो जीनीयस प्रक्रिया ऐसी भी है जो कि अंतरिक्ष में स्थित किसी बाहरी पिंड द्वारा उत्पन्न नहीं होती बल्कि पृथ्वी पर ही पाए जाने वाले कारकों से उत्पन्न होती है,  मृदा का क्षरण जिसे की इरोजन कहा जाता है यह भी एक एक्सो जीनीयस प्रक्रिया ही है, मिटटी का क्षरण वायु, जल, बर्फ, मनुष्य तथा पशुओं की गतिविधि के द्वारा होता है यह सभी कारक एक्सो जीनीयस कारक है जो कि पृथ्वी की सतह पर ही पाए जाते हैं, पृथ्वी की सतह पर पाए जाने वाले कुछ और एक्सो जीनीयस कारकों का उदाहरण वर्षा हिमपात तूफान सुनामी हवाएं तथा बिजली बिजली का गिरना है.

इस तरह हम देखते हैं कि एक्सेस जीनियस का स्रोत अंतरिक्ष में भी हो सकता है और पृथ्वी की सतह में भी हो सकता है जबकि इन क्रियाओं का स्रोत के अंदर ही मौजूद होता है

Tags :- इंडोजीनीयस प्रक्रियाएं, Endogenous processes in hindi, एक्सोजीनीयस प्रक्रियाएं, Endogenous processes in hindi, geological processes in hindi

 

 

 

कौन से वन्य जीव और पक्षी देख सकते हैं रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में

Ranthambhor in hindi, birds in ranthambhor in hindi, birds of ranthambhro in hindi, ranthambhor birds hindi, hindi essay on ranthambhor, Ranthambhor animals hindi, ranthambhor repltiles hindi, Ranthambhor kya he, Ranthambhor kaha he

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान के पशु पक्षी और सरीसर्प

Ranthambhor in hindi, birds in ranthambhor in hindi, birds of ranthambhro in hindi, ranthambhor birds hindi, hindi essay on ranthambhor, Ranthambhor animals hindi, ranthambhor repltiles hindi, Ranthambhor kya he, Ranthambhor kaha he

रणथंभौर नेशनल पार्क राजस्थान के सवाई माधोपुर डिस्ट्रिक्ट में स्थित है, यह राष्ट्रीय उद्यान अरावली और विंध्य पर्वत श्रेणी के मध्य स्थित है, रणथंभौर के राष्ट्रीय उद्यान में आप कई प्रकार के पशु पक्षी और सरीसर्प प्राणियों को देख सकते हैं, रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान बहुत विस्तृत क्षेत्र में फैला हुआ है इसका कुल क्षेत्रफल  400 वर्ग किलोमीटर है अगर इसमें सवाई मानसिंह अभ्यारण क्षेत्र को मिला लिया जाए तो इसकी चौड़ाई 500 वर्ग किलोमीटर हो जाती है.आइये जानते हैं की यहाँ हम कौन कौन से जंगली जानवर और पक्षी देख सकते हैं?

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान को वन्यजीव अभयारण्य का दर्जा सन 1957 में दिया गया, सन 1973 में इसे प्रोजेक्ट टाइगर के अंतर्गत एक सुरक्षित क्षेत्र घोषित किया गया, सन 1980 में रणथंभौर अभ्यारण को राष्ट्रीय उद्यान नेशनल पार्क बनाया गया.

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान एक बहुत ही बड़े इलाके में फैला हुआ है इसीलिए यहां कई प्रकार के जंगली जानवर, पक्षी और सरीसर्प प्राणी पाए जाते हैं, भारत और विश्वभर से सैलानी और प्रकृति प्रेमी यहां पशु पक्षियों को देखने के लिए आते हैं.

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में कौन-कौन से पक्षी देखे जा सकते हैं?

Ranthambhor in hindi, birds in ranthambhor in hindi, birds of ranthambhro in hindi, ranthambhor birds hindi, hindi essay on ranthambhor, Ranthambhor animals hindi, ranthambhor repltiles hindi, Ranthambhor kya he, Ranthambhor kaha he

Loading...

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान किन पक्षियों के लिए प्रसिद्ध है?  रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान की खासियत यह है कि यहां पर कई छोटे तालाब और झीलें मौजूद है यही कारण है कि यहाँ बड़ी संख्या में पक्षी पाए जाते हैं, कई पक्षी यहां के मूल निवासी है तथा कई प्रकार के प्रवासी पक्षी भी यहां आते हैं, वैज्ञानिकों के अनुसार अनुमानतः यहां पर 272 प्रकार के प्रजातियों के पक्षी देखे जा सकते हैं

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में इन प्रमुख जगहों पर आप विभिन्न प्रकार के पक्षियों को देख सकते हैं

मलिक तलाव, रणथंभौर का किला, राजबाग तालाब, पदम तालाब और झालरा एरिया क्षेत्र, इन क्षेत्रों में कई प्रकार के पक्षी बहुत आसानी से देखे जा सकते हैं क्योंकि पक्षी इन तालाबों के किनारे अक्षर कीट पतंगों और मछलियों का शिकार करने के लिए आते हैं.

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में आप निम्न प्रकार के प्रजातियों के पक्षियों को देख सकते हैं, इनमें सबसे प्रमुख भारतीय हॉर्नबिल पक्षी, छोटे तोते, किंगफिशर पक्षी, कठफोड़वा पक्षी, विभिन्न प्रकार के बाज़  आदि प्रमुख है, इस राष्ट्रीय उद्यान में आप कई प्रवासी पक्षियों को भी देख सकते हैं इनमें सबसे प्रमुख गुलाबी रंग का फ्लेमिंगो पक्षी एवं आईबिस पक्षी प्रमुख है.

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में पाए जाने वाले पक्षियों की सूची इस प्रकार है

Graylag Goose, Woodpeckers, Indian Gray Hornbills, Common Kingfishers, Bee Eaters, Cuckoos, Parakeets, Asian Palm Swift, Owl, Nightjars, Pigeon, Dove, Crakes, Snipes, Sandpipers, Gulls, Terns, Great Crested Grebe, Eagles, Darters, Cormorants, Egrets, Herons, Bitterns, Flamingos, Ibis, Pelicans, Storks, Pittas, Shrikes, Treepies, Crows, Orioles, Cuckoo-Shrikes, Minivets, Drongos, Flycatchers, Ioras, Wood Shrikes, Pipits, Bayas, Sparrows, Finches, Wagtails, Munias, Bulbul, Mynas, Falcons

रणथंभौर राष्ट्रीय पार्क में कौन-कौन से पशु पाए जाते हैं?

Ranthambhor in hindi, birds in ranthambhor in hindi, birds of ranthambhro in hindi, ranthambhor birds hindi, hindi essay on ranthambhor, Ranthambhor animals hindi, ranthambhor repltiles hindi, Ranthambhor kya he, Ranthambhor kaha he

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में कई प्रकार के बड़े और छोटे जीव देखे जा सकते हैं, बड़े जीवो में बाघ तेंदुआ लकड़बग्घा सांभर हिरण चीतल नीलगाय हनुमान लंगूर स्लॉथ भालू आदि प्रमुख है, इनके अलावा भी रणथंभौर राष्ट्रीय पार्क में कई प्रकार के छोटे जीव देखे जा सकते हैं कई जीव तो ऐसे हैं जो विलुप्ति के कगार पर हैं और बड़ी मुश्किल से दिखाई देते हैं

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में पाए जाने वाले पशुओं की सूची इस प्रकार है

Tigers, Leopards, Striped Hyenas, Sambar deer, Chital, Nilgai, Common or Hanuman langurs, Macaques, Jackals, Jungle cats, Caracals, Sloth bears, Black bucks, Rufoustailed Hare, Indian Wild Boar, Chinkara, Common Palm Civets or Toddy cat, Coomon Yellow Bats, Desert Cats, Fivestriped Palm Squirels, Indian False Vampires, Indian Flying Foxes, Indian Foxes, Indian Gerbilles, Indian Mole Rats, Indian Porcupines, Longeared Hedgehogs, Ratels, Small Indian Mongoose, Small Indian Civets, Common mongoose.

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में पाए जाने वाले सरीसृप प्राणी

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में कई प्रकार के सरीसृप प्राणी भी देखे जा सकते हैं इनमें से प्रमुख मार्श मगरमच्छ की प्रजाति है, इसके अलावा यहां रेगिस्तानी मॉनिटर छिपकली, कोबरा सांप, करैत सांप, अजगर और कई प्रकार के कछुए भी देखे जा सकते हैं.

रणथंभौर राष्ट्रीय पार्क में पाए जाने वाले सरीसर्प प्राणियों की सूची

Snub Nosed Marsh Crocodiles, Desert Monitor Lizards, Tortoise, Banded Kraits, Cobras, Common Kraits, Ganga Soft Shelled Turtles, Indian Pythons, North Indian Flap Shelled Turtles, Rat Snakes, Russel’s Vipers, Saw-scaled Vipers, Indian Chamaeleon.

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में पाए जाने वाले पेड़

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान में करीब 300 अलग-अलग प्रकार प्रजाति के वृक्ष पाए जाते हैं इनमें मुख्य वर्ष में एक बार पत्ते गिराने वाले पतझड़ वृक्ष प्रमुख है, इस राष्ट्रीय उद्यान में आप निम्न प्रकार के पेड़ और पौधे देख सकते हैं

  1. Am (Magnifera iIndica)
  2. Imli (Tamarindicus indica)
  3. Babul (Accasia nilotica)
  4. Banyan (F icus benghalensis) 5. Ber (Zizyphus mauritania)
  5. Dhak or Chila (flame of the forest){Butea monosperma}
  6. Dhok (Anogeossis pendula)
  7. Jamun (Syzygium cumini)
  8. Kadam (Authocephalus cadamba)
  9. Khajur (Phoenix sylvestris)
  10. Khair (Accacia catechu)
  11. Karel (Capparis decidua)
  12. Khejda (Prosopis specigera)
  13. Kakera (Flacourtia indica)
  14. Mohua (Madhuca indica)
  15. Neem (Azadirachta indica)

 

Tags – Ranthambhor in hindi, birds in ranthambhor in hindi, birds of ranthambhro in hindi, ranthambhor birds hindi, hindi essay on ranthambhor, Ranthambhor animals hindi, ranthambhor repltiles hindi, Ranthambhor kya he, Ranthambhor kaha he

छत्तीसगढ़ का राज्य पक्षी state bird of Chhattisgarh in hindi

state bird of chhattisgarh hindi, chhattisgarh state bird hindi, chhattisgarh rajy pakshi, rajy pakshi chhattisgarh, chhattisgarh ka rajy pakshi kon sa he, essay on chhattisgarh state bird, essay on hill myna hindi, essay on hill mynah, hill myna in hindi, hill myna ki jankari, hill mynah ki jankari, pahadi myna in hindi, pahadi mynah in hindi

छत्तीसगढ़ का राज्य पक्षी कौन सा है

state bird of Chhattisgarh in hindi

छत्तीसगढ़ के राज्य पक्षी का नाम Hill Myna पहाड़ी मैना है, यह एक काले रंग की मैना होती है, यह सर्वाहारी छोटा पक्षी होता है, पहाड़ी मैना जंगलों, सदाबहार जंगलों, तथा नम पतझड़ वनों में पाई जाती है,  पहाड़ी मैना को नम और घने जंगल बहुत पसंद है इसीलिए यह शहरो में नहीं दिखाई देती,, यह निचले इलाकों में पाए जाने वाले जंगलों में ही रहती है, ऐसे जंगल जो पहाड़ो के पास होते हैं उनमें इसे आसानी से देखा जा सकता है.

पहाड़ी मैना Hill Myna का आकार 28 सेंटीमीटर से 30 सेंटीमीटर के बीच होता है, इसका वजन 200 ग्राम से लेकर 250 ग्राम तक हो सकता है, पहाड़ी मैना के शरीर का ऊपरी हिस्सा चमकदार काले रंग का कुछ हलकी हरी आभा लिए हुए होता है, इसके शरीर पर नांरगी पीले रंग के धब्बे होते हैं, पहाड़ी मैना का पूरा शरीर काला होता है उड़ते समय इसके सफेद पंख दिखाई देते हैं परन्तु जब यह बैठी रहती है तो इसके सफेद पर दिखाई नहीं देते, पहाड़ी मैना की चोंच और मजबूत पैर नारंगी पीले रंग के होते हैं.

छत्तीसगढ़ के राज्य पक्षी  पहाड़ी मैना Hill Myna का वैज्ञानिक वर्गीकरण

state bird of chhattisgarh hindi, chhattisgarh state bird hindi, chhattisgarh rajy pakshi, rajy pakshi chhattisgarh, chhattisgarh ka rajy pakshi kon sa he, essay on chhattisgarh state bird, essay on hill myna hindi, essay on hill mynah, hill myna in hindi, hill myna ki jankari, hill mynah ki jankari, pahadi myna in hindi, pahadi mynah in hindi

पहाड़ी मैना Hill Myna का वैज्ञानिक वर्गीकरण इस प्रकार किया गया है.

Loading...

Common Name – Hill myna, Local Name – Mynah, Zoological Name – Gracula religiosa, Kingdom – Animalia, Phylum – Chordata, Class – Aves, Subclass – Neornithes, Order – Passeriformes, Family – Sturnidae, Genus – Gracula

पहाड़ी मैना पर्याप्त संख्या में पाई जाती है इसलिए इसे वाइल्डलाइफ प्रोटक्शन एक्ट 1972 के तहत कम चिंता वाले पक्षियों की श्रेणी में रखा गया है.

छत्तीसगढ़ का राज्य पक्षी Hill Myna पहाड़ी मैना कहां कहां पाई जाती है?

पहाड़ी मैना भारत के वेस्टर्न घाट के जंगलों पूर्वी और उत्तर पूर्वी भारत के जंगलों, पूर्वोत्तर राज्यों के जंगलों तथा हिमालय के आसपास के जंगलों में पाई जाती है,  भारत के अलावा यह श्रीलंका, दक्षिणी चाइना, दक्षिण पूर्वी एशिया, बोर्निओ के जंगल, इंडोनेशिया थाईलैंड मलेशिया नेपाल भूटान आदि देशों में भी पाई जाती है.

छत्तीसगढ़ का राज्य पक्षी Hill Myna पहाड़ी मैना का आवास और व्यवहार

पहाड़ी मैना monogamous  व्यवहार प्रदर्शित करती है, मतलब कि नर और मादा  पक्षी एक ही साथी के साथ लंबे समय तक जोड़ा बनाए रखते हैं, अक्सर जंगलों में यह जोड़ों के रूप में या छोटे छोटे झुंडों में देखी जाती है, मैना की तरह ही पहाड़ी मेरा भी बहुत झगड़ालू पक्षी इन में अक्सर लड़ाई होती रहती हैं यह लड़ाई में अपने पंखों का इस्तेमाल करते हैं,  पहाड़ी मैना अलग-अलग प्रकार की आवाज निकालती हैं इनकी आवाज कर्कश और कभी कभी मधुर भी होती है.

पहाड़ी मैना एक शाकाहारी पक्षी है यह फल बेरी बीज  फूल कीड़े मकोड़े छिपकलियों को खाते हैं,

पहाड़ी मैना का प्रजनन काल मार्च से लेकर अक्टूबर के महीने के बीच होता है,  पहाड़ी मेना अपना घोंसला पेड़ के तने में बनाती है, यह एक बार में 2 से 3 अंडे देती है, नर और मादा दोनों मिलकर घोंसला बनाते हैं,  पहाड़ी मैना के अंडे गहरे नीले रंग के होते हैं जिस पर लाल भूरे धब्बे होते हैं, इन अंडों को 14 से 18 दिन तक सेआ जाता है, नर और मादा दोनों मिलकर इस कार्य को पूरा करते हैं, अंडे से बच्चे निकलने पर उनका लालन-पालन भी दोनों मिलकर करते हैं.

state bird of chhattisgarh hindi, chhattisgarh state bird hindi, chhattisgarh rajy pakshi, rajy pakshi chhattisgarh, chhattisgarh ka rajy pakshi kon sa he, essay on chhattisgarh state bird, essay on hill myna hindi, essay on hill mynah, hill myna in hindi, hill myna ki jankari, hill mynah ki jankari, pahadi myna in hindi, pahadi mynah in hindi

शानदार सुनहरा बाज़ है जर्मनी का राष्ट्रीय पक्षी Golden Eagle in hindi

Golden eagle in hindi, hindi essay on golden eagle, national bird of Germany, germany ka rashtriya pakshi, golden eagle ki jankari,

जर्मनी का राष्ट्रीय पक्षी सुनहरा बाज़ Golden Eagle

हर देश का एक झंडा होता है, एक राष्ट्रीय चिन्ह होता है, एक राष्ट्रीय गीत होता है, तथा एक  राष्ट्रीय पशु और एक राशि पक्षी भी होता है, हर देश अपनी संस्कृति और शक्ति को प्रदर्शित करने के लिए पशुओं और पक्षियों के प्रतीकों का उपयोग करते हैं जिस प्रकार भारत का राष्ट्रीय पक्षी मोर है जो कि भारत की विविध संस्कृतियों का प्रतीक है उसी तरह जर्मनी का राष्ट्रीय पक्षी शानदार सुनहरा बाज़ Golden eagle है.

बाज़ पक्षी को प्राचीन काल से ही साहस शक्ति और जीत का प्रतीक माना जाता रहा है, विश्व की कई संस्कृतियों में इस प्रतिक का इस्तेमाल हुआ है, जर्मनी में बाज़ के चिन्ह का उपयोग कई राजाओं ने किया है, जर्मनी के Weimar Republic का निशान भी सुनहरा बाज़ था, इसके बाद जब नाजी जर्मनी में सत्ता में आए तो उन्होंने भी इसे अपना प्रतीक बनाए रखा, सुनहरा बाज़ करीब 800 सालों से  जर्मनी का coat of arms बना हुआ है. आइये जानते हैं इस ताकतवर पक्षी के बारे में

सुनहरा बाज़  Golden eagle कैसा होता है 

हर देश का एक झंडा होता है, एक राष्ट्रीय चिन्ह होता है, एक राष्ट्रीय गीत होता है, तथा एक  राष्ट्रीय पशु और एक राशि पक्षी भी होता है, हर देश अपनी संस्कृति और शक्ति को प्रदर्शित करने के लिए पशुओं और पक्षियों के प्रतीकों का उपयोग करते हैं जिस प्रकार भारत का राष्ट्रीय पक्षी मोर है जो कि भारत की विविध संस्कृतियों का प्रतीक है उसी तरह जर्मनी का राष्ट्रीय पक्षी शानदार सुनहरा बाज़ Golden eagle है.

सुनहरे बाज़ Golden eagle उत्तरी गोलार्ध में सबसे प्रमुख पसंद किया जाने वाला शिकारी पक्षी है, बाज़ की प्रजाति में यह काफी विस्तृत इलाके में पाया जाता है, सुनहरा बाज़ Accipitridae वर्ग का सदस्य है,  सुनहरा बाज़ एक दक्ष शिकारी होता है यह अपनी तेज गति और मजबूत पंजो का इस्तेमाल करके कई तरह के जानवरों का शिकार करता है, इसके आक्रामक और शक्तिशाली व्यवहार की वजह से विश्व की कई संस्कृतियों में इसे सम्मान के साथ देखा जाता है.

सुनहरा बाज़ Golden eagle एक बड़े आकार का बाज़ होता है जिसका मुख्य रंग गहरा भूरा होता है इसके पंखों का फैलाव 5 से 7 फीट के बीच होता है, इसका वजन 3.5  किलो से लेकर 5 किलो तक हो सकता है इस शिकारी पक्षी के ढाई इंच चौड़े मजबूत पंजे होते हैं नर और मादा दोनों बाज़ पक्षी एक जैसे ही दिखाई देते हैं, इनके सर के ऊपर तथा गर्दन में सुनहरे पंख पाए जाते हैं इसीलिए इस प्रजाति का नाम सुनहरा बाज़ रखा गया है

Loading...

सुनहरे बाज़ की उड़ान Golden eagle speed 

सुनहरा बाज़ सामान्यता 28 से 32 मील प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ते होते हैं शिकार के लिए गोता लगाते समय इनकी गति 120 मील प्रति घंटे तक हो सकती है शिकार को पकड़ने के लिए गोता लगाते समय यह अपने पंखों को शरीर से सटा लेते हैं और बहुत तेजी से शिकार पर हमला करते हैं.

सुनहरे बाज़ पक्षी का आवास और व्यवहार Golden eagle Habitat and Diet

सुनहरे बाज़ को खुले मैदानो में रहना पसंद होता है, यह शहरों से दूर रहता है, सुनहरे बाज़ की कई  प्रजातियां पहाड़ों और खुले मैदान में पाई जाती है यह अपना घोंसला अक्सर पहाड़ों पर बनाता है तथा यह अपने घोंसले से 76 वर्ग मील के दायरे में शिकार करता है एक व्यस्क सुनहरे बाज़ को प्रतिदिन 250 ग्राम मांस की आवश्यकता होती है, आश्चर्यजनक रूप से यह 7 दिन तक बिना कुछ खाए भी रह सकता है.

Golden eagle in hindi, hindi essay on golden eagle, national bird of Germany, germany ka rashtriya pakshi, golden eagle ki jankari,

 

पक्षियों में सबसे अजीब होता है सेक्रेटरी बर्ड secretary bird in hindi

secretary bird hindi, secretary bird ki jankari, essay on secretary bird hindi, hindi essay on desert bird, national bird of sudan, sudan ka rashtriya pakshi,  

अफ्रीका का अजीब पक्षी सेक्रेटरी बर्ड secretary bird 

विश्व में कई प्रकार के रंग-बिरंगे और अनोखे पक्षी पाए जाते हैं, अनोखे दिखने वाले पक्षियों में सेक्रेटरी बर्ड का नाम भी प्रमुख है,  न केवल इसका नाम अजीब है बल्कि इसका शरीर भी अजीब होता है, इसका आधा शरीर बाज की तरह और आधा क्रेन सारस की तरह होता है, सेक्रेटरी बर्ड  सूडान देश का राष्ट्रीय पक्षी है, सेक्रेटरी बर्ड अफ्रीका महाद्वीप में ही पाया जाता है, आइए जानते हैं इस अजीब पक्षी के बारे में कुछ रोचक तथ्य.

सेक्रेटरी बर्ड  के बारे में कुछ रोचक तथ्य facts about secretary bird

secretary bird hindi, secretary bird ki jankari, essay on secretary bird hindi, hindi essay on desert bird, national bird of sudan, sudan ka rashtriya pakshi,  

सेक्रेटरी बर्ड secretary bird का वैज्ञानिक नाम (Sagittarius serpentarius) है,  यह एक बड़े आकार का जमीन पर चलने वाला शिकारी पक्षी है.

सेक्रेटरी बर्ड secretary bird  अफ्रीका महाद्वीप के उप सहारा इलाकों में  पाया जाता है.

सेक्रेटरी बर्ड secretary bird खुले मैदान और सवाना घास के मैदान पसंद करता है यह अर्ध रेगिस्तानी इलाकों में भी रहता है, तथा यह कभी-कभी  कम घने जंगलों और झाड़ीदार जंगलों में भी देखा गया है.

Loading...

यह पक्षी समुद्र से अलग अलग ऊंचाइयों पर पाया जाता है इसे मुख्यतः समुद्र तल से 3000 से लेकर 9850 फीट की ऊंचाई तक देखा गया है.

इस पक्षी का औसत जीवन काल 10 से 15 साल का होता है,  संरक्षित कीये जाने पर इसका जीवन काल 19 वर्ष तक का दिखा गया है.

सेक्रेटरी बर्ड की लंबाई 35 से 54 इंच के बीच होती है,  इनका वजन ढाई किलो से 5 किलो के बीच होता है, इस पक्षी के पंखों का फैलाव 75 से 86 इंच तक होता है.

मादा सेक्रेटरी बर्ड  नर से थोड़ी ही छोटी होती है

secretary bird hindi, secretary bird ki jankari, essay on secretary bird hindi, hindi essay on desert bird, national bird of sudan, sudan ka rashtriya pakshi,  

इस पक्षी को आसानी से पहचाना जा सकता है, इसका आधा शरीर बाज की तरह तथा आधा शरीर क्रेन पक्षी की तरह होता है इसके सर पर छतरी नुमा कलंगी पाई जाती है.

इस पक्षी के बाज़ के समान पंख होते हैं तथा एक मुड़ी हुई होती है परंतु इसके पंखा घुमावदार होते हैं

इसका शरीर मुख्य रूप से भूरे रंग का होता है इस पर कुछ सफेद पंख होते हैं उड़ते समय इनके काले पंख दिखाई देते हैं इनके चेहरे पर लाल नारंगी रंग के धब्बे पाए जाते हैं.

सभी शिकारी पक्षियों में इस पक्षी के पैर सबसे लंबे और सबसे अजीब होते हैं, एसा प्रतीत होता है जैसे इस पक्षी ने लम्बे काले मोज़े पहन रखे हों.

सेक्रेटरी बर्ड  हमेशा चलना पसंद करती है कभी-कभी उड़ान 1 दिन में 20 किलोमीटर के इलाके में चलती है

सेक्रेटरी बर्ड उड़ना पसंद नहीं करता है फिर भी यह उड़ने में दक्ष होते हैं यह काफी ऊंचाई पर उड़ते   हैं उड़ते वक्त यह अपने लंबे पैरों को पीछे की तरफ मोड़ लेते हैं.

उड़ते समय यह सारस पक्षी की तरह दिखाई देते हैं तथा जमीन पर यह बाज पक्षी की तरह दिखाई देते हैं.

सेक्रेटरी बर्ड अपना घोंसला Acacia trees पर बनाते हैं इसी पेड़ पर यह पक्षी अपना रात का समय भी  गुजारते हैं.

secretary bird hindi, secretary bird ki jankari, essay on secretary bird hindi, hindi essay on desert bird, national bird of sudan, sudan ka rashtriya pakshi, hindi essay on African bird