Aashiqi Shayari in Hindi आशिक़ी शायरी

Aashiqi Shayari in Hindi आशिक़ी शायरी
Aashiqi Shayari in Hindi आशिक़ी शायरी

Aashiqi Shayari in Hindi

आशिक़ी शायरी

दोस्तों “आशिक़ी शेर ओ शायरी का एक संकलन हम इस पेज पर प्रकाशित कर रहे है, उम्मीद है यह आपको पसंद आएगा और आप विभिन्न शायरों के “आशिक़ी के बारे में ज़ज्बात जान सकेंगे. अगर आपके पास भी आशिक़ी शायरी का कोई अच्छा शेर है तो उसे कमेन्ट बॉक्स में ज़रूर लिखें.

सभी विषयों पर हिंदी शायरी की लिस्ट यहाँ है.

****************************************************

 

आशिक़ी दिल-लगी नहीं दिल की लगी होती है,

मुहोब्बत जब भी होती है बे-मुरव्वत से होती है।

 

जोर क्या क्या जफ़ाएँ क्या क्या हैं,

आशिक़ी में बलाएँ क्या क्या हैं।

#मीर

 

आशिकी सब्र तलब और तमन्ना बेताब‌

दिल का क्या रंग करूं खून‍-ए-जिगर होने तक

#ग़ालिब

 

आपको सलाम, आपकी सादगी को सलाम,

जो हम से ना हो सकी उस आशिक़ी को सलाम।

 

अब क्यों न ज़िन्दगी पे मुहोब्बत को वार दें,

इस आशिक़ी में जान से जाना बहुत हुआ।

#फ़राज़

 

Aashiqi Shayari in Hindi आशिक़ी शायरी

चुपके-चुपके रात दिन आँसू बहाना याद है

हमको अब तक आशिक़ी का वो ज़माना याद है !!

 

आशिक़ी हो कि बंदगी ‘फ़ाख़िर’,

बे-दिली से तो इब्तिदा न करो !!

देने वाले ने उन को हुस्न दिया

और अता मुझ को आशिकी कर दी …

 

आशिक़ी में ‘मीर’ जैसे ख़्वाब मत देखा करो,

बावले हो जाओगे महताब मत देखा करो !!

 

थे बहुत बे-दर्द लम्हे खत्म-ए-दर्द-ए-आशिक़ी के,

थीं बहुत बे-मेहर सुबहें मेहरबान रातों के बाद

#faiz

 

Aashiqi Shayari in Hindi आशिक़ी शायरी

रुतबा है आशिक़ी का ये,

के आशिक़ अपने जनाज़े में भी जशन मानते हैं।

 

आसान नहीं है ये सफ़र आशिक़ी का,

डूबना भी है, उभरना भी है।

 

फूलों से आशिक़ी का हुनर सीख ले,

तितलियाँ खुद रुकेंगी सदाएँ न दे!!

 

Aashiqi Shayari in Hindi आशिक़ी शायरी

हमें कोई ग़म नहीं था,ग़मे-आशिक़ी से पहले

न थी दुश्मनी किसी से,तेरी दोस्ती से पहले.!!

 

ज़ाहिद ख़ुदा गवाह है , होते फलक़ पर आज

लेते ख़ुदा का नाम, अगर आशिक़ी से आप..!!

 

मैं क्या लिखूँ के जो मेरा तुम्हारा रिश्ता है।।

वो आशिक़ी की ज़ुबान में कहीं भी दर्ज नहीं..!!

 

Search Tags

Aashiqi Shayari in Hindi, Aashiqi Hindi Shayari, Aashiqi Shayari, Aashiqi whatsapp status, Aashiqi hindi Status, Hindi Shayari on Aashiqi, Aashiqi whatsapp status in hindi,

 आशिक़ी हिंदी शायरी, हिंदी शायरी, आशिक़ी, आशिक़ी स्टेटस, आशिक़ी व्हाट्स अप स्टेटस, आशिक़ी पर शायरी, आशिक़ी शायरी, आशिक़ी पर शेर, आशिक़ी की शायरी


Hinglish

Aashiqi Shayari in Hindi

आशिक़ी शायरी

aashiqi shayari in hindiaashiqee shaayaree doston “aashiqee” sher o shaayaree ka ek sankalan ham is pej par prakaashit kar rahe hai, ummeed hai yah aapako pasand aaega aur aap vibhinn shaayaron ke “aashiqee” ke baare mein zajbaat jaan sakenge. agar aapake paas bhee aashiqee shaayaree ka koee achchha sher hai to use kament boks mein zaroor likhen.sabhee vishayon par hindee shaayaree kee list yahaan hai.****************************************************

aashiqee dil-lagee nahin dil kee lagee hotee hai,muhobbat jab bhee hotee hai be-muravvat se hotee hai.jor kya kya jafaen kya kya hain,aashiqee mein balaen kya kya hain.#meeraashikee sabr talab aur tamanna betaab‌dil ka kya rang karoon khoon‍-e-jigar hone tak#gaalibaapako salaam, aapakee saadagee ko salaam,jo ham se na ho sakee us aashiqee ko salaam.ab kyon na zindagee pe muhobbat ko vaar den,is aashiqee mein jaan se jaana bahut hua.#faraazaaashiqi shayari in hindi aashiqee shaayareechupake-chupake raat din aansoo bahaana yaad haihamako ab tak aashiqee ka vo zamaana yaad hai !!aashiqee ho ki bandagee faakhir,be-dilee se to ibtida na karo !!dene vaale ne un ko husn diyaaur ata mujh ko aashikee kar dee …aashiqee mein meer jaise khvaab mat dekha karo,baavale ho jaoge mahataab mat dekha karo !

!the bahut be-dard lamhe khatm-e-dard-e-aashiqee ke,theen bahut be-mehar subahen meharabaan raaton ke baad#faizaashiqi shayari in hindi aashiqee shaayareerutaba hai aashiqee ka ye,ke aashiq apane janaaze mein bhee jashan maanate hain.aasaan nahin hai ye safar aashiqee ka,doobana bhee hai, ubharana bhee hai.phoolon se aashiqee ka hunar seekh le,titaliyaan khud rukengee sadaen na de!!

aashiqi shayari in hindi aashiqee shaayareehamen koee gam nahin tha,game-aashiqee se pahalen thee dushmanee kisee se,teree dostee se pahale.!!zaahid khuda gavaah hai , hote phalaq par aajalete khuda ka naam, agar aashiqee se aap..!!main kya likhoon ke jo mera tumhaara rishta hai..vo aashiqee kee zubaan mein kaheen bhee darj nahin..!!