Taqdeer Hindi Shayari तक़दीर हिंदी शायरी

Taqdeer Hindi Shayari तक़दीर हिंदी शायरी

taqdeer hindi shayari
Taqdeer Hindi Shayari तक़दीर हिंदी शायरी

Taqdeer Hindi Shayari

तक़दीर हिंदी शायरी

Here you can get the best collection of Hindi Shayari on Taqdeer, You can use it as your hindi whatsapp status or can send this Taqdeer Hindi Shayari to your facebook friends. These Hindi sher on Taqdeer is excellent in expressing your emotions.

For other subject list of all Hindi Shayari is here Hindi Shayari .

तक़दीर पर हिंदी शायरी का सबसे अच्छा संग्रह यहाँ उपलब्ध है, आप इस तक़दीर हिंदी शायरी को अपने हिंदी वाहट्सएप्प स्टेटस के रूप में उपयोग कर सकतें है या आप इस बेहतरीन हिंदी शायरी को अपने दोस्तों को फेसबुक पर भी भेज सकतें हैं। तक़दीर लफ्ज़ पर हिंदी के यह शेर, आपकी भावनाओं को व्यक्त करने में आपकी मदद कर सकतें हैं।

सभी हिंदी शायरी की लिस्ट यहाँ हैं। Hindi Shayari

Loading...

**************************

ख़ुदी को कर बुलंद इतना कि हर तक़दीर से पहले

ख़ुदा बंदे से ख़ुद पूछे बता तेरी रज़ा क्या है~इक़बाल

**** Taqdeer Hindi Shayari

मेरी झोली मे कुछ अल्फ़ाज़ दुआ के डालदो

क्या पता तुम्हारे लब हिले और मेरी तक़दीर संवर जाऐ

***

तक़दीर के आईने में मेरी तस्वीर खो गई आज हमेशा के लिए मेरी रूह सो गई मोहब्बत करके क्या पाया मैंने वो कल मेरी थी आज किसी और की हो गई….!

***

मुझे मालूम है मेरा मुक़द्दर तुम नहीं… लेकिन….

मेरी तक़दीर से छुप कर मेरे इक बार हो जाओ..!!

***

कड़ी से कड़ी जोङते जाओ तो जंजीर बन जाती है,

मेहनत पे मेहनत करो तो तक़दीर बन जाती है !

***

हमारी रहगुज़र मे देखो कया हम पे गुजर रही है ,

हम तो लिख रहे है तक़दीर मगर जाने कयो हर तस्वीर बदल रही है

***

तक़दीर ने हमें आज़माया बहुत हमने उसे मनाया बहुत

जिसकी ज़िंदगी ख़ुशियों से सजा दी उसी शख़्स नें हमें रुलाया बहुत

*** Taqdeer Hindi Shayari

तक़दीर के पन्ने ख़ाली हैं

औरभरे हैं हाथ लकीरों से..

***

ये बात और है के तक़दीर लिपट के रोई वरना

बाज़ू तो हमनें तुम्हे देख कर ही फैलाए थे

***

मेहरबानी जाते-जाते मुझपे कर गया  गुज़रता सा लम्हा एक दामन भर गया  तेरा नज़ारा मिला, रौशन सितारा मिला  तक़दीर की कश्तियों को किनारा मिला

*** Taqdeer Hindi Shayari

अपनी तक़दीर की आजमाइश ना कर, अपने गमो की नुमाइश ना कर, जो तेरा है तेरे पास खुद आएगा, रोज रोज उसे पाने की ख्वाहिश ना कर…

***

अपने प्यार को देख कर अक्सर ये एहसास होता हे,

जो तक़दीर में नहीं होता वही इंसान ख़ास होता हे !!

***

तेरे दामन में गुलिस्ता भी है, वीराने भी

मेरा हासिल मेरी तक़दीर बता दे मुझको

***

गिरा है टूट कर शायद मेरी तक़दीर का तारा

कोई आवाज़ आई थी शिकस्त-ए-जाम से पहले

***

आँसूओ की बूंदों से तेरी तस्वीर बना दूँ

तू एक बार पलट के देखले तुजे अपनी तक़दीर बना दूँ

***

जहाँ जहाँ लिखीं मेरी किरदार में ज़िल्लतें…

वहीँ वहीँ लिए फिरती है ये तक़दीर मुझे

***

वक़्त से लड़ कर जो अपना नसीब बदल दे इंसान वही जो अपनी तक़दीर बदल दे कल क्या होगा कभी न सोचो क्या पता कल वक़्त खुद अपनी तस्वीर बदल ले

***

इक पत्थर की भी तक़दीर सँवर सकती है

शर्त ये है कि सलीक़े से तराशा जाए

*** Taqdeer Hindi Shayari

तमन्नाओ की महफ़िल तो हर कोई सजाता है

पूरी उसकी होती है जो “तक़दीर” लेकर आता है.

***

मैं तेरे नसीब की बारिस नहीं जो तुज पे बरस जाऊ।।

तुझे तक़दीर बदल नि होगी मुझे पाने के लिए ।

***

हाथों की लकीरों पर बराबर विश्वास नही करना चाहिए

तक़दीर तो उनकी भी होती है जिनके हाथ नही होते

***

सांसों में बगावत का सुख़न बोल रहा है

तक़दीर के फ़र्ज़ंद का दिल डोल रहा है

***

तक़दीर का ही खेल है सब,

पर ख़्वाहिशें है की समझती ही नहीं …..!!

*** Taqdeer Hindi Shayari

चुभता तो बहुत कुछ मुझको भी है तीर की तरह…!!!

मगर ख़ामोश रहता हूँ, अपनी तक़दीर की तरह…!!

***

मेरी मोहब्बत की तक़दीर देखो , जो रूठे थे उनके पैगाम आ रहे हैं,

जब मार डाला मेरी प्यास ने मुझको, वो आँखों में लेकर जाम आ रहे हैं..

***

नाकामी का इमकान भी मुम्किन ना रहेगा

तक़दीर से मिल कर कोई तदबीर करेंगे

***

फर्क होता है खुदा और फ़क़ीर में; फर्क होता है किस्मत और लकीर में; अगर कुछ चाहो और न मिले तो समझ लेना; कि कुछ और अच्छा लिखा है तक़दीर में।

***

बिन माँगे मिल जाए मोती तो इस को तक़दीर कहो

दामन फैला कर दुनिया मिल जाए तो ख़ैरात हुई

***

वक्त सिखा देता है इंसान को फ़लसफ़ा ‘ज़िन्दगी’ का.. फिर तो ‘नसीब’ क्या.. ‘लकीर’ क्या.. और तक़दीर क्या..

***

गर चंद तवारीखी तहरीर बदल दोगे

क्या इनसे किसी कौम की तक़दीर बदल दोगे !!

***

घर का बोझा उठाने वाले बचपन की तक़दीर न पूछ,

बच्चा घर से काम पे निकला, और खिलौना टूट गया।

*** Taqdeer Hindi Shayari

नामुमकिन हर ख्वाईश को, सँभालता और जीता हूँ दिलमे… माथेकी तक़दीर को यूँ ही, ढूंडता हूँ हाथ की लकिर मे..

***

तकोगे राह सहारों की तुम मियाँ कब तक।

क़दम उठाओ कि तक़दीर इंतज़ार में है।।

***

खो दिया तुम को तो हम पूछते फिरते हैं यही

जिसकी तक़दीर बिगड़ जाए वो करता क्या है

***

किस्मत को छोड़ सकता नहीं वक़्त के हाथों में

तक़दीर के संगीत में, मैं साज़ में होता हूँ

***

हाय किस ख़ूबी से लूटा बेवफ़ा तक़दीर ने,

तेरी बर्बादी का अय दिल हर फसाना और है,,

***

बड़ी `मूद्दत़` से मेरे `दिल` में` एक `तस्वीर` बैठी हैं`

तेरी `जूल्फ़ो` के छॉव मे“ मेरी `तक़दीर` बैठी हैं`

***

वस्ल भी तक़दीर में है,हिज्र भी

मौत के साए में अब है ज़िन्दगी

***

क्यों कोसे है तक़दीर को करता रेह तू अच्छी करनी

सब कुछ हासिल होगा तुझे बस सोच बदल ले तू अपनी

*** Taqdeer Hindi Shayari

काश खुदा इक पल दे मुझे अपनी तक़दीर लिखने को ।

तो में उस पल में,,,,में अपनी ज़िन्दगी के सारे पल तेरे नाम कर दू

***

वो अयादत को मेरी आये हैं लो और सुनो

आज ही ख़ूबी ए तक़दीर से हाल अच्छा है

***

कोई वादा ना कर कोई इरादा ना कर, ख्वाहिशो में खुद को आधा ना कर ये देगी इतना ही जितना लिख दिया खुदा ने इस तक़दीर से उमींद ज्यादा ना कर

***

अहल-ए-हिम्मत ने हुसूल-ए-मुद्दआ में जान दी और हम बैठे हुए रोया किये तक़दीर को

***

तकदीर बनाने वाले, तूने भी हद कर दी;
तकदीर में किसी और का नाम लिखा था;
और दिल में चाहत किसी और की भर दी!

***

तकदीर के खेल से
नाराज नहीं होते |
जिंदगी में कभी
उदास नहीं होते |
हाथों किं लक़ीरों पे
यक़ीन मत करना |
तकदीर तो उनकी भी होती हैं ,
जिन के हाथ ही नहीं होते |

***

तकदीर ने यह कहकर, बङी तसल्ली दी है मुझे कि, वो लोग
तेरे काबिल ही नहीं थे,जिन्हें मैंने दूर किया है

*** Taqdeer Hindi Shayari

कुछ तकदीर हार गई ! कुछ सपने टुट गये !
कुछ गैरों ने बर्बाद किया ! कुछ अपने छोड गये …..

***

Search Tags
Taqdeer Shayari, Taqdeer Hindi Shayari, Taqdeer Shayari, Taqdeer whatsapp status, Taqdeer hindi Status, Hindi Shayari on Taqdeer , Taqdeer whatsapp status in hindi, तक़दीर हिंदी शायरी, हिंदी शायरी, तक़दीरतक़दीर स्टेटस, तक़दीर व्हाट्स अप स्टेटस
—–
Hinglish

taqadeer par hindi shayari

taqadeer par hindi shayari ka sabase achchha sangrah yahaan upalabdh hai, aap is taqadeer hindi shayari ko apane hindi vaahatsepp stetas ke roop mein upayog kar sakaten hai ya aap is behatareen hindi shayari ko apane doston ko phesabuk par bhee bhej sakaten hain. taqadeer laphz par hindi ke yah sher, aapakee bhaavanaon ko vyakt karane mein aapakee madad kar sakaten hain.sabhee hindi shayari kee list yahaan hain khudee ko kar buland itana ki har taqadeer se pahalekhuda bande se khud poochhe bata teree raza kya hai~iqabaal****

taqdaiair hindi shayarimeree jholee me kuchh alfaaz dua ke daaladokya pata tumhaare lab hile aur meree taqadeer sanvar jaai***

taqadeer ke aaeene mein meree tasveer kho gaee aaj hamesha ke lie meree rooh so gaee mohabbat karake kya paaya mainne vo kal meree thee aaj kisee aur kee ho gaee….!***

mujhe maaloom hai mera muqaddar tum nahin… lekin….meree taqadeer se chhup kar mere ik baar ho jao..!!***

kadee se kadee jonate jao to janjeer ban jaatee hai,mehanat pe mehanat karo to taqadeer ban jaatee hai !***

hamaaree rahaguzar me dekho kaya ham pe gujar rahee hai ,ham to likh rahe hai taqadeer magar jaane kayo har tasveer badal rahee hai***

taqadeer ne hamen aazamaaya bahut hamane use manaaya bahutajisakee zindagi khushiyon se saja dee usee shakhs nen hamen rulaaya bahut***

taqdaiair hindi shayaritaqadeer ke panne khaalee hainaurabhare hain haath lakeeron se..***

ye baat aur hai ke taqadeer lipat ke roee varanaabaazoo to hamanen tumhe dekh kar hee phailae the***

meharabaanee jaate-jaate mujhape kar gaya guzarata sa lamha ek daaman bhar gaya tera nazaara mila, raushan sitaara mila taqadeer kee kashtiyon ko kinaara mila***

taqdaiair hindi shayariapanee taqadeer kee aajamaish na kar, apane gamo kee numaish na kar, jo tera hai tere paas khud aaega, roj roj use paane kee khvaahish na kar…***

apane pyaar ko dekh kar aksar ye ehasaas hota he,jo taqadeer mein nahin hota vahee insaan khaas hota he !!***

tere daaman mein gulista bhee hai, veeraane bheemera haasil meree taqadeer bata de mujhako***

gira hai toot kar shaayad meree taqadeer ka taaraakoee aavaaz aaee thee shikast-e-jaam se pahale***

aansooo kee boondon se teree tasveer bana doontoo ek baar palat ke dekhale tuje apanee taqadeer bana doon***

jahaan jahaan likheen meree kiradaar mein zillaten…vaheen vaheen lie phiratee hai ye taqadeer mujhe***

vaqt se lad kar jo apana naseeb badal de insaan vahee jo apanee taqadeer badal de kal kya hoga kabhee na socho kya pata kal vaqt khud apanee tasveer badal le***

ik patthar kee bhee taqadeer sanvar sakatee haishart ye hai ki saleeqe se taraasha jae***

taqdaiair hindi shayaritamannao kee mahafil to har koee sajaata haipooree usakee hotee hai jo “taqadeer” lekar aata hai.***

main tere naseeb kee baaris nahin jo tuj pe baras jaoo..tujhe taqadeer badal ni hogee mujhe paane ke lie .***

haathon kee lakeeron par baraabar vishvaas nahee karana chaahietaqadeer to unakee bhee hotee hai jinake haath nahee hote***

saanson mein bagaavat ka sukhan bol raha haitaqadeer ke farzand ka dil dol raha hai***taqadeer ka hee khel hai sab,par khvaahishen hai kee samajhatee hee nahin …..!!

*** taqdaiair hindi shayarichubhata to bahut kuchh mujhako bhee hai teer kee tarah…!!!magar khaamosh rahata hoon, apanee taqadeer kee tarah…!!***

meree mohabbat kee taqadeer dekho , jo roothe the unake paigaam aa rahe hain,jab maar daala meree pyaas ne mujhako, vo aankhon mein lekar jaam aa rahe hain..***

naakaamee ka imakaan bhee mumkin na rahegaataqadeer se mil kar koee tadabeer karenge***

phark hota hai khuda aur faqeer mein; phark hota hai kismat aur lakeer mein; agar kuchh chaaho aur na mile to samajh lena; ki kuchh aur achchha likha hai taqadeer mein.***

bin maange mil jae motee to is ko taqadeer kahodaaman phaila kar duniya mil jae to khairaat huee***

vakt sikha deta hai insaan ko falasafa zindagi ka.. phir to naseeb kya.. lakeer kya.. aur taqadeer kya..***

gar chand tavaareekhee tahareer badal dogekya inase kisee kaum kee taqadeer badal doge !!***

ghar ka bojha uthaane vaale bachapan kee taqadeer na poochh,bachcha ghar se kaam pe nikala, aur khilauna toot gaya.***

taqdaiair hindi shayarinaamumakin har khvaeesh ko, sanbhaalata aur jeeta hoon dilame… maathekee taqadeer ko yoon hee, dhoondata hoon haath kee lakir me..***

takoge raah sahaaron kee tum miyaan kab tak.qadam uthao ki taqadeer intazaar mein hai..***

kho diya tum ko to ham poochhate phirate hain yaheejisakee taqadeer bigad jae vo karata kya hai***

kismat ko chhod sakata nahin vaqt ke haathon mentaqadeer ke sangeet mein, main saaz mein hota hoon***

haay kis khoobee se loota bevafa taqadeer ne,teree barbaadee ka ay dil har phasaana aur hai,,**

badee `mooddat` se mere `dil` mein` ek `tasveer` baithee hain`teree `joolfo` ke chhov me“ meree `taqadeer` baithee hain`***

vasl bhee taqadeer mein hai,hijr bheemaut ke sae mein ab hai zindagi

kyon kose hai taqadeer ko karata reh too achchhee karaneesab kuchh haasil hoga tujhe bas soch badal le too apanee***

taqdaiair hindi shayarikaash khuda ik pal de mujhe apanee taqadeer likhane ko .to mein us pal mein,,,,mein apanee zindagee ke saare pal tere naam kar doo***

vo ayaadat ko meree aaye hain lo aur sunoaaj hee khoobee e taqadeer se haal achchha hai***

koee vaada na kar koee iraada na kar, khvaahisho mein khud ko aadha na kar ye degee itana hee jitana likh diya khuda ne is taqadeer se umeend jyaada na kar***

ahal-e-himmat ne husool-e-mudda mein jaan dee aur ham baithe hue roya kiye taqadeer ko***

takadeer banaane vaale, toone bhee had kar dee;takadeer mein kisee aur ka naam likha tha;aur dil mein chaahat kisee aur kee bhar dee!***

takadeer ke khel senaaraaj nahin hote |jindagee mein kabheeudaas nahin hote |haathon kin laqeeron peyaqeen mat karana |takadeer to unakee bhee hotee hain ,jin ke haath hee nahin hote |***

takadeer ne yah kahakar, banee tasallee dee hai mujhe ki, vo logatere kaabil hee nahin the,jinhen mainne door kiya hai***

taqdaiair hindi shayarikuchh takadeer haar gaee ! kuchh sapane tut gaye !kuchh gairon ne barbaad kiya ! kuchh apane chhod gaye …..***

saiarchh tagstaqdaiair shayari, taqdaiair hindi shayari, taqdaiair shayari, taqdaiair whatsapp status, taqdaiair hindi status, hindi shayari on taqdaiair , taqdaiair whatsapp status in hindi, taqadeer hindi shaayaree, hindi shaayaree, taqadeer, taqadeer stetas, taqadeer vhaats ap stetas

 

2 thoughts on “Taqdeer Hindi Shayari तक़दीर हिंदी शायरी”

Leave a Reply