दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल है मध्य प्रदेश का राज्य पक्षी

दूधराज पक्षी – सुल्ताना बुलबुल  Indian paradise flycatcher

मध्य प्रदेश का राज्य पक्षी इंडियन पैराडाइज फ्लाइकेचर है इसे हिंदी में दूधराज पक्षी कहते हैं  इसका सामान्य नाम सुल्ताना बुलबुल है, यह बहुत छोटा सा सुंदर पक्षी होता है. दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल घने जंगलों, बगीचों,  घनी झाड़ियों वाले जंगल, पतझड़ वनों तथा बांस के जंगलों में पाए जाते हैं यह सर्दी का मौसम एशिया के उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में व्यतीत करते हैं.

Asian paradise flycatcher दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल का आकार 18 से 22 सेंटीमीटर होता है नर दूधराज पक्षी की पूँछ की लंबाई 20 से 24 सेंटीमीटर होती है, इसकी पूंछ में दो 30 सेंटीमीटर लंबे पंख निकले होते हैं इसके पंखों का फैलाव 86 सेंटीमीटर से 92 सेंटीमीटर के बीच होता है, केवल नर दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल के ही लंबी पूछ होती है मादा दूधराज पक्षी केवल 20 सेंटीमीटर लंबी होती है तथा इसकी लंबी पूछ नहीं पाई जाती है.

Indian paradise flycatcher in hindi, doodhraj pakshi, sultana bulbul, state bird of MP, State bird of madhya pradesh, madhya pradesh state bird, mp state bird, madhya pradesh ka rajy pakshi, mp rajy pakshi, Indian paradise flycatcher in hindi, doodhraj pakshi, sultana bulbul, state bird of MP, State bird of madhya pradesh, madhya pradesh state bird, mp state bird, madhya pradesh ka rajy pakshi, mp rajy pakshi,

आश्चर्यजनक रूप से नर दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल के दो रूप देखने को मिलते हैं, एक प्रकार के नर की पीठ पर लाल भूरे रंग के पंख पाए जाते हैं इसकी लंबी पूछ भी लाल भूरे और हलके केसरिया रंग लिए हुए होती है जबकि दूसरे प्रकार का नर मटमैला सफेद और हल्का ग्रे रंग का होता है, दोनों ही प्रकार के नर के सिर का रंग चमकीला काला होता है इनके पैर बहुत छोटे छोटे होते हैं इनकी चोंच छोटी और गोल पतली होती है चोंच का रंग गहरा नीला काला होता है, इनकी आंखें काली और आंखों के आसपास गहरे नीले काले रंग की रिंग पाई जाती है, दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल को इसकी लम्बी  पूछ जिसमें दो पंख निकले होते हैं से आसानी से पहचाना जा सकता है.

मादा दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल का सर पूरी तरह नर की तरह चमकीला काले रंग का होता है तथा इसका शरीर का उपरी हिस्सा गहरा भूरा लाल केसरिया होता है इसके शरीर का निचला हिस्सा मटमैला सफेद और ग्रे रंग का होता है इसकी पूछ नर से  बहुत छोटी होती है.

Indian paradise flycatcher in hindi, doodhraj pakshi, sultana bulbul, state bird of MP, State bird of madhya pradesh, madhya pradesh state bird, mp state bird, madhya pradesh ka rajy pakshi, mp rajy pakshi,

दूधराज पक्षी सुल्तान बुलबुल एक बार में एक मादा से ही जोड़ा बनाता है इस व्यवहार को monogamous कहा जाता है.  

दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल को वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट 1972 के तहत कम चिंता वाले प्राणियों की सूची में रखा गया है.

दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल का वैज्ञानिक वर्गीकरण

दूधराज पक्षी का वैज्ञानिक वर्गीकरण इस प्रकार किया गया है

Classification Common Name – Asian paradise flycatcher Local Name – Dudhraj or shah bulbul Zoological Name – Terpsiphone paradisi Kingdom – Animalia Phylum – Chordata Class – Aves Order – Passeriformes Family – Monarchidae Genus – Terpsiphone

दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल कहां पाया जाता है

दूधराज पक्षी सुल्ताना बुलबुल भारत के अलावा श्रीलंका, तुर्किस्तान, मंचूरिया, मलेशिया तथा सुंबा और अलव द्वीपों में भी पाया जाता है,  दक्षिण भारत और श्रीलंका में इसकी मूल प्रजाति पाई जाती है तथा सर्दियों के दिन में प्रवासी प्रजाति भी यहां पर आ जाती है, यह एक प्रवासी पक्षी है जो कि सर्दियों का मौसम एशिया के उष्णकटिबंधीय जंगलों में व्यतीत करते हैं.

दूधराज पक्षी  सुल्ताना बुलबुल का आवास और व्यवहार

यह पक्षी घने जंगलों को पसंद करता है, यह बगीचों, घनी झाड़ियों वाले जंगल, बांस वाले जंगल में रहता है, सर्दियों में यह पक्षी प्रवास कर जाता है,  यह एक शोर करने वाला पक्षी है तथा इसकी आवाज तीखी होती है इसकी आवाज “चे चे” और “ज्वीट ज्वीट” जैसी होती है.

दूधराज पक्षी इंडियन पैराडाइज फ्लाइसेचर जैसा कि नाम से ही पता चलता है यह एक कीट पतंगे खाने वाला पक्षी है इनका मुख्य आहार कीट पतंगे तितलियां और मक्खियां है, यह झाड़ियों में और पेड़ों  के नीचे उड़ते हुए कीट पतंगों को पकड़ कर खाते हैं.

दूधराज पक्षी  सुल्ताना बुलबुल का प्रजनन काल मार्च से जुलाई महीने के बीच होता है यह अपना घोंसला तिनकों और पेड़ों की छोटी-छोटी टहनियों से मिलकर बनाते हैं यह पेड़ की टहनी के किनारे अपना घोंसला बनाना पसंद करते हैं  नर और मादा दोनों मिलकर घोसला तैयार करते हैं, मादा दूधराज पक्षी एक बार में 3 से 5 अंडे देती है, इन अंडो का रंग हल्का पीला गुलाबी और भूरा लाल होता है, माता इन अन्डो को 14 से 18 दिन तक सेती है.

मध्य प्रदेश के कई जंगलों में इसके इस पक्षी के लिए संरक्षित क्षेत्र बनाए गए हैं इनमें से चोरल, कजलीगढ़, सिमरोल, मानपुर व महू  आदि प्रमुख है.

Indian paradise flycatcher in hindi, doodhraj pakshi, sultana bulbul, state bird of MP, State bird of madhya pradesh, madhya pradesh state bird, mp state bird, madhya pradesh ka rajy pakshi, mp rajy pakshi,

 

Taj Mohammed Sheikh

हेलो दोस्तों, में एक Freelance Blogger हूँ , नेट इन हिंदी .com वेबसाईट बनाने का मुख्य उद्देश्य हिंदी भाषा में मनोरंजक और उपयोगी सामग्री प्रस्तुत करना है, यहाँ आपको विज्ञान, सेहत, शायरी, प्रेरक कहानिया, सुविचार और अन्य विषयों पर अच्छे लेख पढ़ने को मिलते रहेंगे. धन्यवाद!

You may also like...

Leave a Reply