Intezaar Shayari in Hindi इंतज़ार पर शायरी

Intezaar Shayari in Hindi इंतज़ार पर शायरी

Intzeaar Shayari in Hindi इंतज़ार पर शायरी
Intezaar Shayari in Hindi इंतज़ार पर शायरी

Intezaar Shayari in Hindi

इंतज़ार पर शायरी

 

दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट पर आप के लिए प्रस्तुत है महबूब के इंतज़ार पर शेर ओ शायरी,

Intezaar Shayari in Hindi font, Hindi Shayari on Waiting of beloved.

List of all topics of Shayari

Loading...

********************************

 

बजाय सीने के आँखों में दिल धड़कता है,

ये इंतज़ार के लम्हे अज़ीब होते हैं !!

***

मुझे मंज़ूर है इंतज़ार उम्र भर का लेकिन

मेरी आँखों से वस्ल का वही इक रोज़ तुम देखो

***

ता फिर ना इंतज़ार में नींद आये उम्र भर

आने का अहद कर गए आये जो ख्वाब में

~ग़ालिब

***

ये न थी हमारी क़िस्मत कि विसाल-ए-यार होता

अगर और जीते रहते यही इंतज़ार होता

~ग़ालिब

**** Intezaar Shayari in Hindi

इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है,

खामोशियों की अब आदत हो गयी है

***

तुम आये हो ना शब्-ए-इंतज़ार गुज़री है

तलाश में है सहर बार-बार गुज़री है

***

फिर बैठे बैठे वादा-ए-वस्ल उस ने कर लिया,

फिर उठ खड़ा हुआ वही रोग इंतज़ार का !!

***

टूटी जो आस जल गये पलकों पे सौ चिराग़,

निखरा कुछ और रंग शब-ए-इंतज़ार का !!- मुमताज़ मिर्ज़ा

*** Intezaar Shayari in Hindi

अब तो उठ सकता नहीं आँखों से बार-ए-इंतज़ार

किस तरह काटे कोई लैल-ओ-नहार-ए-इंतज़ार

***

उन के खत की आरज़ू है उन के आमद का ख़याल

किस क़दर फैला हुआ है कारोबार-ए-इंतज़ार

~हसरत मोहानी

***

उन की उल्फ़त का यकीं हो उन के आने की उम्मीद

हों ये दोनों सूरतें तब है बहार-ए-इंतज़ार

 

***Intezaar Shayari in Hindi

वही ख़्वाब ख़्वाब हैं रास्ते वही इंतज़ार सी शाम है

ये सफर है मेरे इश्क़ का,न दयार है न क़याम है !!-सुख़नवर

***

ग़म-ए-हयात से दिल को अभी निजात नहीं,

निगाह-ए-नाज़ से कह दो कि इंतज़ार करे !! -शकील बदायूनी

***

थक गये हम करते करते इंतज़ार,

इक क़यामत उन का आना हो गया !!

**

लूटे मज़े उसी ने तेरे इंतज़ार के

जो हद-ए-इंतज़ार से आगे निकल गया

*** Intzar Shayari in Hindi

लुत्फ़ जो उस के इंतज़ार में है

वो कहाँ मौसम-ए-बहार में है !!

***

सूरत दिखा के फिर मुझे बेताब कर दिया,

एक लुत्फ़ आ चला था ग़म-ए-इंतज़ार में !!

***

होंठ पे लिए हुए दिल की बात हम

जागते रहेंगे और कितनी रात हम

मुख़्तसर सी बात है तुम से प्यार है

तुम्हारा इंतज़ार है..

 

*** Intezaar Shayari in Hindi

गर इंतज़ार कठिन है तो जब तलक ऐ दिल,

किसी के वादा-ए-फ़र्दा की गुफ़्तगू ही सही !! -फैज़

****

शब-ए-इंतज़ार की कशमकश न पूछ कैसे सहर हुई

कभी इक चिराग़ जला दिया, कभी इक चिराग़ बुझा दिया !! -मजरूह सुल्तानपुरी

***

अपने लिए भी मौसमे गुल है बहार है,

जब से सुना है उनको मेरा इंतज़ार है ~रहबर

***

कहीं आके मिटा न दें इंतज़ार का लुत्फ

कहीं कुबूल न हो जाये इल्तज़ा तेरी

*** Intezaar Shayari in Hindi

वो मज़ा कहाँ वस्ल-ए-यार में

लुत्फ़ जो मिला है तुम्हें इंतज़ार में

 

****

तेरा ख़याल तेरा इंतेज़ार करते हैं

हम अपने आपको ख़ुद बेक़रार करते हैं

ये फ़ासला भी मोहब्बत में लुत्फ़ देता है

जब इंतेज़ार में हम इंतेज़ार करते हैं

***

तमाम उम्र तेरा इंतेज़ार कर लेंगे

मगर ये रंज रहेगा के ज़िन्दगी कम है

*** Intzar Shayari in Hindi

शिद्दत से बहारों के इंतेज़ार में सब हैं

पर फूल मोहब्बत के तो खिलने नहीं देते

***

मैनें तो इंतेज़ार में उसके ज़िंदगी गुज़ार दी

उसके लिए तो रास्ते भी दुश्वार बन गए

***

ज़िदंगी के सारे लम्हे रफ़्ता-रफ़्ता कट गए

इंतेज़ार, आस, खुशी और ग़म में बंट गए

***

मेरे पीठ पर जो ज़ख्म हैं,वो अपनों की निशानी है

वर्ना सीना तो आज भी दुश्मनों के इंतेज़ार में बैठा है

*** Intzar Shayari in Hindi

कोई वादा नहीं किया लेकिन, क्यों तेरा इंतजार रहता है !

बेवजह जब क़रार मिल जाए, दिल बड़ा बेकरार रहता है !! –गुलज़ार

 

अभी कुछ उनके आने का इंतज़ार बाक़ी है,

ऐ खुदा, उम्र इक और दे उन्हें भुलाने को

 

होंठ पे लिये हुए दिल की बात हम जागते रहेंगे और कितनी रात हम

मुख़्तसर सी बात है तुम से प्यार है तुम्हारा इन्तज़ार है, तुम पुकार लो

 

दिल बहल तो जायेगा इस ख़याल से

हाल मिल गया तुम्हारा अपने हाल से

रात ये क़रार की बेक़रार है

तुम्हारा इन्तज़ार है, तुम पुकार लो

 

ये इंतज़ार भी एक इम्तिहां होता है

इसीसे इश्क़ का शोला जवां होता है

ये इंतज़ार सलामत हो और तू आए

 

सुना गम जुदाई का, उठाते हैं लोग

जाने ज़िंदगी कैसे, बिताते हैं लोग

 

दिन भी यहाँ तो लगे, बरस के समान

हमें इंतज़ार कितना, ये हम नहीं जानते

मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना

 

अफ़साना लिख रही हूँ दिल-ए-बेक़रार का

आँखोँ में रंग भर के तेरे इंतज़ार का

शब-ए-इंतज़ार आखिर कभी होगी मुख़्तसर भी

ये चिराग बुझ रहे हैं मेरे साथ जलते जलते…

~कैफ़ी_आझमी

 

सदियों का इंतज़ार भी दो पल की बात है,

यादों का तेरी मौसम गर ख़ुश-गवार हो !!

 

थक गये हम करते करते इंतज़ार,

इक क़यामत उन का आना हो गया …

 

महव-ए-इंतेज़ार हुँ उस बेदर्द के जवाब का

इस मुतंज़िर का दर्द मगर वो समझे कैसे…

ये इंतज़ार भी एक इम्तिहां होता है

इसीसे इश्क़ का शोला जवां होता है

ये इंतज़ार सलामत हो और तू आए

 

हम इंतज़ार करेंगे तेरा क़यामत तक

खुदा करे कि क़यामत हो और तू आए

 

सर-ए-तूर हो सर-ए-हश्र हो, हमें इंतेज़ार क़बूल है,

वो कभी मिलें वो कहीं मिलें, वो कभी सही वो कहीं सही !!

Intezaar Shayari in Hindi

 

वही ख़्वाब ख़्वाब हैं रास्ते, वही इंतज़ार सी शाम है,

ये सफर है मेरे इश्क़ का, न दयार है न क़याम है !! –

 

हर लम्हा सुकूं का यूं इंतेजार किया है

नादां हूं नादां ही रहा बस प्यार किया है

 

 

Search Tags

Intezaar Shayari in Hindi, Intezaar Shayari, Intezaar Hindi Shayari, Intezaar Shayari, Intezaar whatsapp status, Intezaar hindi Status, Hindi Shayari on Intezaar, Intezaar whatsapp status in hindi, Intezaar Shayari in Hindi Font, Shayari in Hindi Font,

Waiting Shayari, Waiting Hindi Shayari, Waiting Shayari, Waiting whatsapp status, Waiting hindi Status, Hindi Shayari on Waiting, Waiting whatsapp status in hindi, Waiting Shayari in Hindi Font

 इंतज़ार हिंदी शायरी, हिंदी शायरी, इंतज़ार, इंतज़ार स्टेटस, इंतज़ार व्हाट्स अप स्टेटस, इंतज़ार पर शायरी, इंतज़ार शायरी, इंतज़ार पर शेर, इंतज़ार की शायरी,


Hinglish

Intezaar Shayari in Hindi

इंतज़ार पर शायरी

bajaay sine ke aankhon mein dil dhadakata hai,ye intezaar ke lamhe azib hote hain !!***

mujhe manzoor hai intezaar umr bhar ka lekinameri aankhon se vasl ka vahi ik roz tum dekho***

ta phir na intezaar mein nind aaye umr bharaane ka ahad kar gae aaye jo khvaab mein~gaalib**

ye na thi hamaari qismat ki visaal-e-yaar hotaagar aur jite rahate yahi intezaar hota~gaalib****

intezaar shayari in hindi intezaar ki aarazoo ab kho gayi hai,khaamoshiyon ki ab aadat ho gayi hai***

tum aaye ho na shab-e-intezaar guzari haitalaash mein hai sahar baar-baar guzari hai***

phir baithe baithe vaada-e-vasl us ne kar liya,phir uth khada hua vahi rog intezaar ka !!***

tooti jo aas jal gaye palakon pe sau chiraag,nikhara kuchh aur rang shab-e-intezaar ka !!- mumataaz mirza***

intezaar shayari in hindiab to uth sakata nahin aankhon se baar-e-intezaarakis tarah kaate koi lail-o-nahaar-e-intezaar***

un ke khat ki aarazoo hai un ke aamad ka khayaalakis qadar phaila hua hai kaarobaar-e-intezaar~hasarat mohaani***

un ki ulfat ka yakin ho un ke aane ki ummidahon ye donon sooraten tab hai bahaar-e-intezaar***

intezaar shayari in hindivahi khvaab khvaab hain raaste vahi intezaar si shaam haiye saphar hai mere ishq ka,na dayaar hai na qayaam hai !!-sukhanavar***

gam-e-hayaat se dil ko abhi nijaat nahin,nigaah-e-naaz se kah do ki intezaar kare !! -shakil badaayooni***

thak gaye ham karate karate intezaar,ik qayaamat un ka aana ho gaya !!**

loote maze usi ne tere intezaar kejo had-e-intezaar se aage nikal gaya***

intezaar shayari in hindilutf jo us ke intezaar mein haivo kahaan mausam-e-bahaar mein hai !!***

soorat dikha ke phir mujhe betaab kar diya,ek lutf aa chala tha gam-e-intezaar mein !!***

honth pe lie hue dil ki baat hamajaagate rahenge aur kitani raat hamamukhtasar si baat hai tum se pyaar haitumhaara intezaar hai..***

intezaar shayari in hindigar intezaar kathin hai to jab talak ai dil,kisi ke vaada-e-farda ki guftagoo hi sahi !! -phaiz****

shab-e-intezaar ki kashamakash na poochh kaise sahar huikabhi ik chiraag jala diya, kabhi ik chiraag bujha diya !! -majarooh sultaanapuri***

apane lie bhi mausame gul hai bahaar hai,jab se suna hai unako mera intezaar hai ~rahabar***

kahin aake mita na den intezaar ka lutphakahin kubool na ho jaaye iltaza teri***

intezaar shayari in hindivo maza kahaan vasl-e-yaar menlutf jo mila hai tumhen intezaar mein****

tera khayaal tera intezaar karate hainham apane aapako khud beqaraar karate hainye faasala bhi mohabbat mein lutf deta haijab intezaar mein ham intezaar karate hain***

tamaam umr tera intezaar kar lengemagar ye ranj rahega ke zindagi kam hai***

intezaar shayari in hindishiddat se bahaaron ke intezaar mein sab haimpar phool mohabbat ke to khilane nahin dete***

mainen to intezaar mein usake zindagi guzaar diusake lie to raaste bhi dushvaar ban gae***

zidangi ke saare lamhe rafta-rafta kat gaeintezaar, aas, khushi aur gam mein bant gae***

mere pith par jo zakhm hain,vo apanon ki nishaani haivarna sina to aaj bhi dushmanon ke intezaar mein baitha hai***

intezaar shayari in hindikoi vaada nahin kiya lekin, kyon tera intajaar rahata hai !bevajah jab qaraar mil jae, dil bada bekaraar rahata hai !! –gulazaar

 

Intezaar Shayari in Hindi

 

dil bahal to jaayega is khayaal se
haal mil gaya tumhaara apane haal se
raat ye qaraar ki beqaraar hai
tumhaara intezaar hai, tum pukaar lo

ye intezaar bhi ek imtihaan hota hai
isise ishq ka shola javaan hota hai
ye intezaar salaamat ho aur too aae

suna gam judai ka, uthaate hain log
jaane zindagi kaise, bitaate hain log

din bhi yahaan to lage, baras ke samaan
hamen intezaar kitana, ye ham nahin jaanate
magar ji nahin sakate tumhaare bina

afasaana likh rahi hoon dil-e-beqaraar ka
aankhon mein rang bhar ke tere intezaar ka

shab-e-intezaar aakhir kabhi hogi mukhtasar bhi
ye chiraag bujh rahe hain mere saath jalate jalate…
~kaifi_aazmi

sadiyon ka intezaar bhi do pal ki baat hai,
yaadon ka teri mausam gar khush-gavaar ho !!

thak gaye ham karate karate intezaar,
ik qayaamat un ka aana ho gaya …

mahav-e-intezaar hun us bedard ke javaab ka
is mutanzir ka dard magar vo samajhe kaise…

ye intezaar bhi ek imtihaan hota hai
isise ishq ka shola javaan hota hai
ye intezaar salaamat ho aur too aae

ham intezaar karenge tera qayaamat tak
khuda kare ki qayaamat ho aur too aae

sar-e-toor ho sar-e-hashr ho, hamen intezaar qabool hai,
vo kabhi milen vo kahin milen, vo kabhi sahi vo kahin sahi !!

vahi khvaab khvaab hain raaste, vahi intezaar si shaam hai,
ye saphar hai mere ishq ka, na dayaar hai na qayaam hai !! –

har lamha sukoon ka yoon intejaar kiya hai
naadaan hoon naadaan hi raha bas pyaar kiya hai

 

Leave a Reply